यमुनानगर में घूमने की जगह – Top 13 Yamunanagar me Ghumne ki Jagah

Yamunanagar me Ghumne ki Jagah :- यमुनानगर हरियाणा का एक प्रमुख जिला है। इस लेख में हम आपको यमुनानगर जिले में घूमने की जगह (Yamunanagar me ghumne ki jagah), यमुनानगर के प्रसिद्ध धार्मिक स्थल, यमुनानगर कैसे पहुंचे और यमुनानगर की प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

यमुनानगर जिले के बारे में जानकारी – Information about Yamunanagar district

यमुनानगर हरियाणा का एक प्रमुख जिला है। यमुनानगर हरियाणा में उत्तर प्रदेश की सीमा पर स्थित है। इस जिले की सीमा बनाते हुए यमुना नदी बहती है। यमुनानगर में घूमने के लिए बहुत सारे स्थल है, जहां पर जाकर आप अच्छा समय गुजरा जा सकते हैं। यमुनानगर जिले की स्थापना 1989 को की गई थी। इस जिले में 4 तहसीलें हैं और 3 उप तहसील है।

यमुनानगर में घूमने के लिए बहुत सारी जगह (Yamunanagar me ghumne ki jagah) है, जो बहुत सुंदर है। यमुनानगर में आप जा सकते हैं और यमुनानगर के पर्यटन स्थलों की सैर कर सकते हैं। यमुनानगर में घूमने के लिए ऐतिहासिक, धार्मिक और प्राकृतिक जगह हैं। आप यमुनानगर की इन जगहों में अपनी फैमिली और दोस्तों के साथ जा सकते हैं और शांति से अपना समय बिता सकते हैं।

इस ब्लॉग में हमने यमुनानगर में घूमने लायक प्रमुख जगह (Yamunanagar me ghumne ki jagah), यमुनानगर कैसे पहुंचे, यमुनानगर में कहां ठहरे, यमुनानगर में घूमने का सबसे अच्छा समय, इन सभी की जानकारी दी है। आप इस ब्लॉग को पूरा पढ़े।

 

यमुनानगर में घूमने की जगह – Yamunanagar me Ghumne ki Jagah

यमुनानगर जिले के दर्शनीय और पर्यटन स्थल की सूची – Yamunanagar Tourist Places list in Hindi

  1. चनेती बौद्ध स्तूप यमुनानगर
  2. छछरौली का किला यमुनानगर
  3. पंचमुखी हनुमान मंदिर यमुनानगर
  4. कपाल मोचन साहिब गुरुद्वारा
  5. गौ बच्चा मंदिर यमुनानगर
  6. सूरज कुंड मंदिर यमुनानगर
  7. दादपुर डैम यमुनानगर
  8. हर्बल नेचुरल पार्क यमुनानगर
  9. कलेसर राष्ट्रीय उद्यान यमुनानगर
  10. ओपी जिंदल मेमोरियल पार्क
  11. श्री कालेश्वर महादेव मठ यमुनानगर
  12. हथनी कुंड आश्रम यमुनानगर
  13. हथिनी कुंड बैराज यमुनानगर

 

यमुनानगर के प्रमुख दर्शनीय स्थल – Yamunanagar me Ghumne ki Jagah

 

चनेती बौद्ध स्तूप यमुनानगर – Chaneti Buddhist Stupa Yamunanagar

चनेती बौद्ध स्तूप मुख्य यमुनानगर से करीब 3 किलोमीटर दूर जगधारी स्थित है। यहां पर प्राचीन स्तूप बना हुआ है। यह स्तूप मौर्य सम्राट अशोक के द्वारा बनाए गए थे। यह स्तूप 100 वर्ग मीटर के क्षेत्र में बने हुए हैं और 8 मीटर ऊंचे हैं। यह स्तूप गोलाकार है।

यह स्तूप पक्के ईट से बनाए गए हैं। यहां पर बहुत सारे पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। यहां पर बहुत सारे स्तूप और मठ बनाए गए थे, जो अब समय के साथ नष्ट हो गए हैं और इनके अवशेष ही देखने के लिए मिलते हैं।

 

छछरौली का किला यमुनानगर – Chhachhrauli Fort Yamunanagar

छछरौली का किला यमुना नगर का एक स्थल है। यह एक प्राचीन किला बना हुआ है। यह किला कलासिया शासक के द्वारा बनाया गया था। यहां पर किले के अवशेष ही रह गए हैं, जो आप देख सकते हैं। यह किला बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह किला मुख्य नगर में बना हुआ है। यह किला यमुनानगर से थोड़ी छछरौली नगर में बना हुआ है।

 

पंचमुखी हनुमान मंदिर यमुनानगर – Panchmukhi Hanuman Temple Yamunanagar

पंचमुखी हनुमान मंदिर यमुनानगर जिले के पास में, बिलासपुर में स्थित है। यहां पर हनुमान जी की पंचमुखी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। जिसमें हनुमान जी के पांच मुख है। यह मंदिर ढाका गांव में बना हुआ है। यह मंदिर बहुत सुंदर है।

मंदिर में दूर-दूर से भक्त भगवान हनुमान जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। मंदिर के पास में तालाब बना हुआ है, जो बहुत बड़ा और बहुत सुंदर है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। हनुमान जयंती के समय यहां पर बहुत सारे भक्त आते हैं।

 

कपाल मोचन साहिब गुरुद्वारा – Kapal Mochan Sahib Gurudwara

कपाल मोचन साहिब गुरुद्वारा यमुनानगर का एक फेमस टूरिस्ट स्पॉट है। यह एक धार्मिक स्थल है। यह हिंदू और सिख लोगों के लिए बहुत महत्वपूर्ण है। यह गुरुद्वारा बहुत ही अच्छे तरीके से बना हुआ है। इस गुरुद्वारे में प्राचीन समय में सिखों के दसवें गुरु, गुरु गोविंद सिंह जी और गुरु नानक देव जी यहां पर अपनी यात्रा के दौरान आए थे। यह गुरुद्वारा बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है।

यह गुरुद्वारा यमुनानगर के पास बिलासपुर शहर में बना हुआ है। इस गुरुद्वारे में आप घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर लंगर चलता रहता है, जहां पर सभी धर्मों के लोग खाना खा सकते हैं। यहां पर ठहरने के लिए रूम मिल जाते हैं। यहां पर कुंड बने हुए हैं, जहां पर स्नान कर सकते हैं। यहां पर आकर बहुत ही अच्छा लगता है।

 

गो बच्चा मंदिर यमुनानगर – Gau Bacha bachha temple and ghat Yamunanagar

गो बच्चा मंदिर यमुनानगर का एक फेमस मंदिर है। यहां पर ऐतिहासिक कपिलेश्वर महादेव मंदिर भी बना हुआ है। यह मंदिर यमुनानगर में बिलासपुर टाउन के पास में स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर के पास एक तालाब में बना हुआ है, जिसे गो बच्चा तालाब के नाम से जाना जाता है।

यहां पर बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर राम दरबार, लक्ष्मीनारायण, राधा कृष्ण जी, शिव शंकर जी, नंदी महाराज जी, दुर्गा जी के दर्शन करने के लिए मिल जाएंगे।

तालाब में आकर स्नान करने से शांति मिलती है। इस जगह का धार्मिक महत्व है और यहां पर बहुत सारे लोग आते हैं और तीर्थ कपाल मोचन सरोवर में स्नान करते हैं। यह सरोवर बहुत सुंदर है और यहां पर आकर अच्छा लगता है। इस सरोवर को अच्छी तरह बनाया गया है। यहां पर धर्मशाला बनी हुई है।

 

सूरज कुंड मंदिर यमुनानगर – Suraj Kund Temple Yamunanagar

सूरजकुंड में बिलासपुर टाउन के पास में स्थित है। यह मंदिर और कुंड बहुत सुंदर है। आप यहां पर आ कर इस कुंड में स्नान कर सकते हैं। यहां पर स्नान करने से मनोकामना पूरी होती है। यह हिंदू धर्म के लोगों की आस्था का केंद्र है।

 

दादपुर डैम यमुनानगर – Dadpur Dam Yamunanagar

दादपुर डैम यमुनानगर का एक प्रमुख स्थल है। यहां पर एक सुंदर बांध देखने के लिए मिलेगा। यहां पर हाइड्रोलिक पावर प्लांट बना हुआ है। यहां पर छोटा सा पार्क बना हुआ है, जो बहुत सुंदर लगता है। यह पार्क  यमुना नदी के बीच में बना हुआ है। आप यहां पर आ कर अपना समय बिता सकते हैं। बरसात में यह जगह बहुत सुंदर लगती है।

 

हर्बल नेचुरल पार्क यमुनानगर – Herbal Natural Park Yamunanagar

हर्बल नेचर पार्क यमुनानगर में खिजराबाद में स्थित है। यह पार्क चौधरी देवीलाल जी को समर्पित है। यह पार्क बहुत सुंदर है। इस पार्क में चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारे मेडिकल प्लांट लगे हुए है। इस पार्क के खुलने का समय 9:30 बजे से शाम के 7:30 बजे तक है। इस पार्क में प्रवेश के लिए एंट्री शुल्क लिया जाता है। यहां पर चारों तरफ सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है।

इस पार्क के पास में नदी बहती है, जिसका दृश्य बहुत सुंदर रहता है। यहां पर प्राकृतिक नजारों के बीच में आप अच्छे समय बिता सकते हैं। यहां पर वॉच टावर बना हुआ है, जहां से आप आसपास का दृश्य देख सकते हैं। यहां पर तालाब बना हुआ है, जिसमें कमल के फूल लगे हुए हैं। यहां चौधरी देवी लाल जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।

 

कलेसर राष्ट्रीय उद्यान यमुनानगर – Kalesar National Park Yamunanagar

कलेसर राष्ट्रीय उद्यान यमुनानगर का एक प्रमुख आकर्षण स्थल है। यह पार्क शिवालिक पहाड़ियों में बना हुआ है। यहां पर आप आकर, वर्ड वाचिंग का लुफ्त उठा सकते हैं। यहां पर चीता, पैंथर, जंगली बिल्ली, भालू, गोरिल्ला, नीलगाय, चीतल, हाथी, सिविट यह सभी जानवर देखने के लिए मिल जाएंगे। यह उद्यान 13000 एकड़ क्षेत्र में फैला हुआ है। यहां पर आकर अच्छा समय बिताया जा सकता है।

इस पार्क में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर व्यस्क व्यक्ति का 30 रुपए और बच्चों का 10 रुपए लिया जाता है। यहां पर मोटरसाइकिल और स्कूटर का 10 रुपए और कार एवं जीप का 20 रुपए लिया जाता है। वीडियो कैमरा और कैमरा का अलग चार्ज लिया जाता है।

इस पार्क में प्रवेश के टाइमिंग भी अलग-अलग रहते हैं। पार्क में प्रवेश करने के लिए आइडेंटी कार्ड जरूर लेकर आना है। यहां पर आपको बहुत सारे जंगली जीव देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर चारों तरफ हरियाली देखने के लिए मिलेगी।

 

ओपी जिंदल मेमोरियल पार्क – OP Jindal Memorial Park

ओपी जिंदल मेमोरियल पार्क को ओपी जिंदल पार्क के नाम से भी जाना जाता है। यह पार्क मुख्य शहर में बना हुआ है। यह एक बहुत बड़ा और बहुत सुंदर है। इस पार्क में चारों तरफ पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। इस पार्क में झील बनी हुई है। झील में मछलियां भी देखी जा सकती है। यहां पर बहुत सारे झूले हैं, जो बच्चों को बहुत पसंद आएंगे। यह पार्क यमुनानगर में, खालसा कॉलेज के पास में बना हुआ है।

 

श्री कालेश्वर महादेव मठ यमुनानगर – Shri Kaleshwar Mahadev Math Yamunanagar

श्री कालेश्वर महादेव मठ यमुनानगर में कलेसर में स्थित है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। यह मंदिर देश का ऐतिहासिक प्राचीन मठ है। यहां पर भगवान शिव के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर प्राचीन सिद्ध समाधि देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। यहां रामसेतु का पानी में तैरने वाला पत्थर भी देखा जा सकता है।

यह मंदिर हरियाणा और हिमाचल बॉर्डर में घने जंगल के अंदर स्थित है। यह मंदिर मुख्य सड़क पर बना हुआ है। आप यहां पर आ सकते हैं। मंदिर में ठहरने की व्यवस्था भी है। यहां पर भोजन की व्यवस्था मिल जाती है। यह मंदिर यमुना नदी के पास में बना हुआ है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। शिवरात्रि में यहां पर बहुत भीड़ रहती है। यहां पर आने का सबसे अच्छा समय बरसात और ठंड का रहता है। यह मंदिर 5000 साल पुराना माना जाता है।

यह भी पढ़े :- महेंद्रगढ़ के प्रमुख दर्शनीय स्थल

हथनी कुंड आश्रम यमुनानगर – Hathni Kund Ashram Yamunanagar

हथनीकुंड आश्रम यमुनानगर में स्थित एक और धार्मिक स्थल है। यह जगह हरियाणा और उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर स्थित है। यह जगह यमुना नदी के किनारे बनी हुई है। इस जगह के बारे में कहा जाता है, कि प्राचीन समय में यहां पर एक हथिनी यमुना नहर में डूब रही थी।

गुरु जी ने अपनी दिव्य शक्ति से उस हथिनी की जान बचाई थी। तब से इस जगह का नाम हथनीकुंड पड़ गया और गुरुजी वहीं पर आश्रम में रहने लगे। यह जगह बहुत शांत है और यहां पर आकर बहुत अच्छा अनुभव होता है। यहां गुरु जी की मूर्ति देखने के लिए मिलती है।

 

हथिनी कुंड बैराज यमुनानगर – Hathini Kund Barrage Yamunanagar

हथिनी कुंड बैराज यमुनानगर में उत्तर प्रदेश और हरियाणा बॉर्डर में स्थित है। यह बैराज बहुत सुन्दर है। यह यमुना नदी पर बना हुआ है। आप यहां पर आकर बरसात के समय अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आकर आप पिकनिक मना सकते हैं। यह यमुनानगर के पास एक अच्छी पिकनिक के लिए जगह है।

यह भी पढ़े :- रेवाड़ी में घूमने की जगह

यमुनानगर में आने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Yamunanagar

यमुनानगर में आने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। आप ठंड में यहां पर आकर घूम सकते हैं। यमुनानगर में वैसे आप साल में कभी भी आ सकते हैं। मगर ठंड में आप को यहां पर घूमने में कोई परेशानी हो नहीं होगी। गर्मी में यहां पर थोड़ी बहुत परेशानी आपको हो सकती है। यमुनानगर में बहुत सारे धार्मिक स्थल मौजूद है, जहां पर आप जाकर घूम सकते हैं।

यह भी पढ़े :- सोलन में घूमने की जगह

यमुनानगर कैसे पहुंचे – How to reach Yamunanagar

यमुनानगर हरियाणा का एक प्रमुख जिला है। यमुनानगर बहुत खूबसूरत है। यमुनानगर में घूमने के लिए बहुत सारे पर्यटक स्थल है। यमुनानगर में आप आसानी से आ सकते हैं। यमुनानगर में पहुंचने के लिए परिवहन के साधन उपलब्ध हैं। यमुनानगर पहुंचने के तीन माध्यम है। आप वायु मार्ग, सड़क मार्ग और रेल मार्ग इन तीनों माध्यम से आराम से यमुनानगर पहुंचा जा सकता है।

 

वायु मार्ग से यमुनानगर कैसे पहुंचे – How to reach Yamunanagar by air

यमुनानगर का सबसे नजदीकी एयरपोर्ट चंडीगढ़ में है। चंडीगढ़ एयरपोर्ट यमुनानगर से करीब 106 किलोमीटर दूर है। आप चंडीगढ़ में आ सकते हैं और उसके बाद सड़क मार्ग द्वारा यमुनानगर आ सकते हैं। चंडीगढ़ एयरपोर्ट में घरेलू एवं अंतरराष्ट्रीय उड़ाने उपलब्ध है।

 

रेल मार्ग से यमुनानगर कैसे पहुंचे – How to reach Yamunanagar by rail

यमुनानगर मुख्य सिटी  रेलवे स्टेशन बना हुआ है। यह रेलवे स्टेशन रेलवे नेटवर्क द्वारा अन्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। यहां पर एक्सप्रेस एवं गरीब रथ ट्रेन रूकती है। आप रेल मार्ग द्वारा यमुनानगर आ सकते है और उसके बाद अपने अन्य पर्यटक स्थलों में जाकर घूम सकते हैं।

 

सड़क मार्ग से यमुनानगर कैसे पहुंचे – How to reach Yamunanagar by road

यमुनानगर में राष्ट्रीय राजमार्ग 6 गुजरता है, जो यमुनानगर को मुख्य शहरों से अच्छी तरह जोड़ता है। यमुनानगर में बस के द्वारा आ सकते हैं। यहां पर आने के लिए बस की सुविधा उपलब्ध रहती है। यहां पर आपको लोकल एवं सरकारी बसें मिल जाएंगे।  आप यहां पर आराम से पहुंच सकते हैं।

यह भी पढ़े :- चंबा जिले के प्रमुख दर्शनीय स्थल

यमुनानगर में कहां ठहरे – Where to stay in Yamunanagar

यमुनानगर में रुकने के लिए बहुत सारे माध्यम उपलब्ध है। यहां पर आपको बहुत सारी होटल मिलते हैं, जहां पर आप रुक सकते हैं। यहां पर आप अपनी सुविधा के अनुसार होटल का चयन कर सकते हैं और अपने बजट के अनुसार होटल ले सकते हैं और होटल में ठहर सकते हैं।

यमुनानगर में बहुत सारे धार्मिक स्थल है। इसलिए यहां पर धर्मशालाएं भी है, जहां पर आपको बहुत कम प्राइस लगेगा और आपको सभी प्रकार की सुविधाएं मिल जाएगी। आप अपनी सुविधा अनुसार चुन सकते है।

यह भी पढ़े :- हमीरपुर में घूमने की जगह

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है, अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

 

Leave a Comment