उज्जैन के प्रसिद्ध मंदिर – Holy Ujjain ke Prasidh Mandir

Ujjain ke Prasidh Mandir :- उज्जैन मध्य प्रदेश का एक प्रसिद्ध जिला है। उज्जैन में बहुत सारे मंदिर है। इस लेख में आपको उज्जैन के प्रसिद्ध मंदिरों (Ujjain ke Prasidh Mandir) के बारे में जानकारी मिलेगी। अगर आप उज्जैन में घूमने का प्लान बना रहे हैं, तो आपको यह ब्लॉग जरूर पढ़ना चाहिए, जिससे आपको उज्जैन के मंदिरों के बारे में जानकारी मिले।

Table of Contents

उज्जैन के प्राचीन एवं प्रमुख मंदिर की जानकारी – Ujjain ke Prasidh Mandir

उज्जैन महाकालेश्वर मंदिर के लिए पूरे विश्व में प्रदेश प्रसिद्ध है। पूरे विश्व से लोग यहां पर महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन करने के लिए आते हैं। उज्जैन में और भी बहुत सारे प्राचीन मंदिर हुए हैं। उज्जैन को धार्मिक नगरी के रूप में जाना जाता है। उज्जैन में आप घूमने लिए आ सकते हैं। आज इस लेख में हम आपको उज्जैन की प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में जानकारी देंगे, जहां जाकर आप घूम सकते हैं। यह सभी मंदिर प्राचीन है और बहुत सुंदर है।

चलिए जानते हैं उज्जैन के प्रसिद्ध मंदिरों (Ujjain ke Prasidh Mandir) के बारे में

उज्जैन के प्रसिद्ध एवं प्रमुख मंदिर – Ujjain ke Prasidh Mandir

 

महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन – Mahakaleshwar Temple Ujjain

उज्जैन को महाकालेश्वर की नगरी के नाम से जाना जाता है। महाकालेश्वर मंदिर उज्जैन का प्रसिद्ध स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। महाकालेश्वर मंदिर पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। पूरे देश से लोग महाकालेश्वर मंदिर में शिव भगवान जी के ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने के लिए आते हैं। महाकालेश्वर ज्योतिर्लिंग उज्जैन शहर के बीचो-बीच में विराजमान है।

यहां पर आपको ज्योतिर्लिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। भारत में 12 ज्योतिर्लिंग विराजमान है, जिसमें से एक उज्जैन में विराजमान है। महाकालेश्वर में स्थित शिवलिंग स्वयं भू है, अर्थात यह धरती से स्वयं हुआ है। उज्जैन का महाकालेश्वर मंदिर पूरे भारत देश में प्रसिद्ध है। यह मंदिर बहुत बड़े क्षेत्रफल में फैला हुआ है। इस मंदिर में सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है।

महाकालेश्वर मंदिर बहुत अच्छी तरह से बनाया गया है। महाकालेश्वर मंदिर के परिसर में ढेर सारे मंदिर बने हुए हैं, जहां पर आप बहुत सारे भगवानों के दर्शन कर सकते हैं। महाकालेश्वर मंदिर में सुबह के समय भस्म आरती की जाती है। सुबह से ही महाकालेश्वर मंदिर के दर्शन के लिए बहुत सारे लोग आते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है।

आप मंदिर में जाकर ज्योतिर्लिंग के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर आपके रहने खाने सभी तरह की व्यवस्था उपलब्ध है। मंदिर कि आप इन सुविधाओं का लाभ उठाना चाहते हैं, तो आपको मंदिर समिति से अनुमति लेनी पड़ेगी या ऑनलाइन बुकिंग करवानी पड़ेगी।

भस्म आरती – Bhasma Aarti

भस्म आरती महाकालेश्वर मंदिर का एक मुख्य आकर्षण है। इस आरती में भस्म से शिव भगवान की आरती की जाती है और यह जो भसम है। यह चिता से लाई जाती है। यह एक मुख्य आकर्षण है और इसे देखने के लिए बहुत सारे भक्त इकट्ठा होते हैं। यह आरती सुबह के समय की जाती है। इस आरती के लिए ऑनलाइन बुकिंग करनी पड़ती है।

 

नागचंद्रेश्वर मंदिर उज्जैन – Nagchandreshwar Temple Ujjain

नागचंद्रेश्वर मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर महाकालेश्वर मंदिर के परिसर में ही स्थित है। इस मंदिर में आपको शिव भगवान की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर साल में एक बार ही खुलता है। यह  मंदिर नाग पंचमी के दिन ही खुलता है। इस मंदिर में दर्शन करने के लिए भक्तों की भीड़ इकट्ठा होती है।

 

भारत माता मंदिर उज्जैन – Bharat Mata Temple Ujjain

भारत माता मंदिर उज्जैन में स्थित एक मुख्य मंदिर है। भारत माता मंदिर उज्जैन का प्रसिद्ध मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर मुख्य शहर में बना हुआ है। इस मंदिर में आप आसानी से आ सकते हैं। यह मंदिर भारत माता को समर्पित है। इस मंदिर में आपको किसी भी देवी देवता की प्रतिमा देखने के लिए नहीं मिलती है। इस मंदिर में आपको भारत माता की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।

इस मंदिर में आपको भारत का 3डी नक्शा देखने के लिए मिलता है, जिसमें प्रमुख दर्शनीय स्थलों को दिखाया गया है। इस मंदिर के बाहर गार्डन बना हुआ है, जहां पर जाकर आप शांति से बैठ सकते हैं।

 

बड़ा गणेश मंदिर उज्जैन – Bada Ganesh Temple Ujjain

बड़ा गणेश मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन का प्रसिद्ध गणेश मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। बड़ा गणेश मंदिर उज्जैन में स्थित प्राचीन मंदिर है। बड़ा गणेश मंदिर महाकालेश्वर मंदिर के उत्तर दिशा में स्थित है। यह मंदिर महाकालेश्वर मंदिर के बहुत करीब है।

आप महाकालेश्वर मंदिर से पैदल ही इस मंदिर में जाकर भगवान गणेश जी के दर्शन कर सकते हैं। इस मंदिर में आपको गणेश जी की बहुत बड़ी प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह प्रतिमा बहुत ही आकर्षक लगती है।

इस मंदिर में आप पंचमुखी हनुमान जी के भी दर्शन कर सकते हैं। हनुमान जी की प्रतिमा भी बहुत आकर्षक है। इस मंदिर में गणेश जी की प्रतिमा के अलावा आपको नरसिंह भगवान, मां यशोदा की प्रतिमा, जो कृष्ण भगवान को दूध पिला रही हैं, शंकर जी का शिवलिंग देखने के लिए मिल जाएगा।

 

मंचामन गणेश मंदिर उज्जैन – Manchaman Ganesh Temple Ujjain

मंचामन गणेश मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन का प्रसिद्ध गणेश मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। इस मंदिर में आपको गणेश जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिल जाती है।

इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि इस मंदिर की स्थापना श्री राम और माता सीता ने अपने वनवास काल के दौरान की थी। यहां पर आपको एक बावली भी देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर में आकर अच्छा लगता है।

 

चामुंडा माता मंदिर उज्जैन – Chamunda Mata Temple Ujjain

चामुंडा माता मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन शहर का एक प्राचीन मंदिर है। यह मंदिर चामुंडा माता को समर्पित है। मंदिर में चामुंडा माता की बहुत ही भव्य प्रतिमा विराजमान है। यह मंदिर उज्जैन के मुख्य मार्केट में स्थित है। यहां पर आप माँ के दर्शन करने के लिए आ सकते हैं। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत सारे लोग माता के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यह उज्जैन का एक प्राचीन मंदिर है।

 

चिंतामन गणेश मंदिर उज्जैन – Chintaman Ganesh Temple Ujjain

चिंतामन गणेश मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन का प्रसिद्ध मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यहां पर दूर-दूर से लोग भगवान गणेश जी के दर्शन करने के लिए आते हैं। यह मंदिर उज्जैन मुख्य शहर से थोड़ी दूरी पर स्थित है। यहां पर पहुंचने के लिए सड़क मार्ग और रेल मार्ग की सुविधा उपलब्ध है।

इस गणेश मंदिर को चिंतामन के नाम से जाना जाता है, क्योंकि इस मंदिर में गणेश भगवान जी को चिंता हरने वाला माना जाता है। मतलब गणेश भगवान जी सभी लोगों की चिंताओं को दूर कर देते है, जो भी लोग इस मंदिर में दर्शन करने के लिए आता है। इस मंदिर में एक बावली भी देखने के लिए मिलती है, जो प्राचीन है। इस बावली को लक्ष्मण बबली के नाम से जाना जाता है। यहां पर गणेश भगवान जी अपनी पत्नी रिद्धि सिद्धि के साथ विराजमान है।

 

प्रशांति धाम उज्जैन – Prashanti Dham Ujjain

प्रशांति धाम उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। प्रशांति धाम मंदिर उज्जैन का एक प्रसिद्ध मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन में शिप्रा नदी के तट के किनारे बना हुआ है। इस मंदिर में आप आसानी से आ सकते हैं। यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर साई बाबा जी को समर्पित है।

इस मंदिर के गर्भगृह में साई बाबा जी की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के बाहर एक सुंदर गार्डन बना हुआ है, जहां पर जाकर आप बैठ सकते हैं और शांति का अनुभव कर सकते हैं। इस मंदिर में खाने-पीने की सुविधा उपलब्ध है। यहां पर बहुत कम कीमत में  शुद्ध शाकाहारी भोजन मिलता है। आप यहां पर जाकर भोजन भी ग्रहण कर सकते हैं। इस मंदिर में आकर बहुत शांति मिलती है, क्योंकि चारों तरफ का माहौल हरियाली भरा है।

 

रामघाट उज्जैन – Ramghat Ujjain

रामघाट उज्जैन का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थान (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। रामघाट शिप्रा नदी के किनारे बना हुआ एक सुंदर घाट है। रामघाट में बहुत सारे प्राचीन मंदिर बने हुए हैं, जिनका धार्मिक महत्व है। रामघाट में शाम के समय शिप्रा नदी की आरती की जाती है, जिसमें बहुत सारे लोग शामिल होते हैं।

रामघाट में बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं, जिनका धार्मिक महत्व है। रामघाट में आकर आप स्नान कर सकते हैं। रामघाट बहुत सुंदर है और यहां पर जाकर शांति का एहसास होता है। अगर आपको उज्जैन आने का मौका मिले, तो आप इस जगह पर जरूर आएं।

 

इस्कॉन मंदिर उज्जैन – ISKCON temple ujjain

इस्कॉन मंदिर उज्जैन का धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन का प्रसिद्ध मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन मुख्य शहर में बना हुआ है। इस मंदिर में आप आसानी से आ सकते हैं। यह मंदिर बहुत ही अच्छी तरह से बनाया गया है। यह मंदिर बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है।

इस्कॉन मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। इस मंदिर में श्री कृष्ण जी और राधा रानी की मूर्ति विराजमान है। इस मंदिर में 24 घंटे भजन कीर्तन चलते रहते हैं। इस मंदिर मैं बगीचा है, जो बहुत खूबसूरत है। यह मंदिर सफेद संगमरमर से बना हुआ है और बहुत ही भव्य लगता है।

 

अंगारेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन – Angareshwar Mahadev Temple Ujjain

अंगारेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह उज्जैन का प्रसिद्ध मंदिर (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन में शिप्रा नदी के तट पर बना हुआ है।  इस मंदिर में आप आसानी से आ सकते हैं।

अंगारेश्वर महादेव मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर में शिवलिंग विराजमान है। यह मंदिर बहुत ही प्राचीन है। यह मंदिर कर्क रेखा में स्थित है। इस मंदिर में लोग मंगल की पूजा करवाने के लिए आते हैं। इस मंदिर से आप शिप्रा नदी का सुंदर दृश्य को देख सकते हैं।

 

गुरुद्वारा श्री नानक साहिब घाट उज्जैन – Gurudwara Sri Nanak Sahib Ghat Ujjain

श्री नानक साहिब घाट गुरुद्वारा उज्जैन शहर का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह गुरुद्वारा बहुत ही खूबसूरत है। यह गुरुद्वारा शिप्रा नदी के तट के किनारे बना हुआ है और बहुत खूबसूरत लगता है। यहां पर घाट भी बना हुआ है। इस गुरुद्वारे का ऐतिहासिक महत्व है। यह गुरुद्वारा जहां पर बना हुआ है। उस जगह पर एक इमली का पेड़ है। इस पेड़ के नीचे श्री गुरु नानक जी ने बैठकर लोगों को शिक्षा दी थी।

 

राम जनार्दन मंदिर उज्जैन – Ram Janardan Temple Ujjain

राम जनार्दन मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर राम भगवान जी और विष्णु भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर में आपको राम जी और विष्णु जी की आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत ही प्राचीन है। इस मंदिर का निर्माण मराठा राजा जयसिंह के द्वारा किया गया था ,यह मंदिर मराठा शैली में बना हुआ है और बहुत ही सुंदर लगता है।

 

बिजासन माता मंदिर उज्जैन – Bijasan Mata Temple Ujjain

बिजासन माता मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर एक पहाड़ी के ऊपर बना हुआ है, जिससे टेकरी के नाम से भी जाना जाता है। यह मंदिर बिजासन माता को समर्पित है। मंदिर में मां बिजासन की बहुत ही खूबसूरत प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर उज्जैन देवास रोड में स्थित है। इस मंदिर से उज्जैन शहर का बहुत ही खूबसूरत दृश्य देखने के लिए लगता है।

 

योगमाया नवदुर्गा मंदिर उज्जैन – Yogmaya Navadurga Temple Ujjain

योग माया नव दुर्गा मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर दुर्गा माता को समर्पित है। इस मंदिर में आपको दुर्गा माता की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। इसके अलावा मंदिर में नौ देवियों के भी प्रतिमा विराजमान है। इस मंदिर में धर्मशाला भी स्थित है। यहां पर यात्री आकर रुक सकते हैं।

 

श्री गढ़कालिका मंदिर उज्जैन – Shri Garhkalika Temple Ujjain

श्री गढ़कालिका मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह बहुत ही प्राचीन मंदिर है। इस मंदिर में कालिका माता की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर 1 शक्तिपीठ है और इस मंदिर में पार्वती माता का उपरी ऊपरी होठ गिरा था। लोगों के अनुसार महाकवि कालिदास एक मूर्ख व्यक्ति थे। मगर वह गढ़कालिका माता के शरण में आने के बाद वह एक विद्वान बन गए। गढ़कालिका माता कालिदास की इष्ट देवी थी।

 

रणजीत हनुमान मंदिर उज्जैन – Ranjit Hanuman Temple Ujjain

रणजीत हनुमान मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। मंदिर में हनुमान जी की भव्य प्रतिमा विराजमान है। यह मंदिर रामघाट के करीब है। इस मंदिर में आप घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

कुंडेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन – Kundeshwar Mahadev Temple Ujjain

कुंडेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है।  यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि श्री कृष्ण जी इस मंदिर में गोमती कुंड से जल लाकर अर्पित करते थे और अपनी विद्या का अभ्यास करते थे। यह मंदिर बहुत सुंदर है और यहां पर प्राचीन प्रतिमाएं भी देखने के लिए मिलती हैं।

 

ऋण मुक्तेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन – Rinmukteshwar Mahadev Temple Ujjain

ऋण मुक्तेश्वर महादेव मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर शिव जी को समर्पित है। इस मंदिर को ऋण मुक्तेश्वर मंदिर इसलिए कहा जाता है, क्योंकि इस मंदिर में शिव भगवान जी के दर्शन करने से और पूजा करवाने से इंसानों को अपने ऋण से मुक्ति मिलती है। अर्थात उनके जो भी कर्ज  होते हैं, उनसे छुटकारा मिलता है। यहां पर प्राचीन शिवलिंग विराजमान है।

 

महर्षि सांदीपनि आश्रम उज्जैन – Maharishi Sandipani Ashram Ujjain

महर्षि सांदीपनि आश्रम उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। इस जगह की विशेषता यह है कि इस जगह पर श्री कृष्ण जी ने महर्षि सांदीपनि से शिक्षा प्राप्त की थी। यहां पर उन्होंने  64 प्रकार की विद्या की शिक्षा प्राप्त की थी। इस जगह को अंकपात के नाम से भी जाना जाता है। इस जगह में आपको श्री कृष्ण जी की बहुत सारी पेंटिंग देखने के लिए मिल जाती है।

इस आश्रम में आपको शिवलिंग देखने के लिए मिलता है।  जिसके बारे में कहा जाता है कि इस शिवलिंग की स्थापना द्वापर युग में की गई है। आश्रम में आपको महर्षि सांदीपनि  जी के चरण पादुका भी देखने के लिए मिल जाती है।

 

यमराज का मंदिर उज्जैन – Yamraj Temple Ujjain

यमराज का मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यमराज को मृत्यु के देवता के रूप में जाना जाता है। इस मंदिर में आपको यमराज की प्रतिमा देखने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर दुर्गादास की छतरी के पास स्थित है।

 

सिद्धवट उज्जैन – Siddhavat Ujjain

सिद्धवट उज्जैन की एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। सिद्धवट  में आपको कल्पवृक्ष देखने के लिए मिलता है। यह कल्पवृक्ष शिप्रा नदी के किनारे स्थित है। इस कल्पवृक्ष के बारे में कहा जाता है कि इस वृक्ष को माता पार्वती ने लगाया था और शंकर जी के पुत्र कार्तिकेय ने कल्प वृक्ष के नीचे भोजन किया था।

इस कल्पवृक्ष  के नीचे बहुत सारे क्रियाकलाप किए जाते हैं जैसे यहां पर पिंडदान किया जाता है। तर्पण किया जाता है और संतान प्राप्ति के लिए पूजा भी की जाती है और भी क्रियाकलाप यहां पर किए जाते हैं। इस मंदिर से शिप्रा नदी का बहुत ही खूबसूरत दृश्य देखने के लिए मिलता है।

 

त्रिवेणी संगम उज्जैन – Triveni Sangam Ujjain

त्रिवेणी संगम उज्जैन की एक धार्मिक स्थल है। यहां पर तीन नदियों का संगम हुआ है। यहां पर शिप्रा, गंडकी और सरस्वती नदी का संगम हुआ है। यहां पर हर 12 वर्ष में महाकुंभ का मेला लगता है।

 

नवग्रह मंदिर उज्जैन – Navagraha Temple Ujjain

नवग्रह मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन में त्रिवेणी संगम में स्थित है। इस मंदिर में आपको नौ ग्रहों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में नौ ग्रहों के लिए अलग-अलग मंदिर बनाया गया है और पिंडी रूप में प्रतिमा विराजमान है। इस मंदिर में आपको सूर्य, चंद्र, मंगल, बुध, गुरु, बृहस्पति, शुक्र, शनि, राहु और केतु के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

इस मंदिर से आपको शिप्रा नदी के संगम का बहुत ही खूबसूरत दृश्य देखने के लिए मिलता है। इस मंदिर में शनि भगवान जी की भी प्रतिमा विराजमान है। यहां पर आकर आपको अच्छा लगेगा। इस मंदिर में शनिवार के दिन बहुत सारे भक्त शनि भगवान के दर्शन करने के लिए आते हैं।

 

चारधाम मंदिर उज्जैन – Chardham Temple Ujjain

चारधाम मंदिर उज्जैन में स्थित है धार्मिक स्थल है। इस मंदिर में आपको भारत के चारों धामों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में इन सभी धामों की प्रतिकृति बनाई गई है। इस मंदिर में आपको और भी देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

इस मंदिर में श्री कृष्ण जी को लीलाओं का चित्रण कर किया गया है, जो बहुत ही खूबसूरत लगता है। राम जी की वनवास काल का भी यहां पर चित्रण किया गया है। यहां पर आपको वैष्णो माता के भी दर्शन करने के लिए मिल जाते हैं। यह जगह बहुत अच्छी है और यहां पर घूमने जरूर आना चाहिए।

 

नगरकोट की रानी मंदिर उज्जैन – Nagarkot ki Rani Temple Ujjain

नगरकोट की रानी मंदिर उज्जैन शहर का एक धार्मिक स्थल है। यहां पर आपको माता की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।  यह मंदिर मुख्य उज्जैन शहर में स्थित है। कहा जाता है कि  यह देवी उज्जैन शहर की रक्षा करती है।

 

मंगलनाथ मंदिर उज्जैन – Mangalnath Temple Ujjain

मंगलनाथ मंदिर उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर बहुत ही प्राचीन है। यह मंदिर उज्जैन में शिप्रा नदी के तट के किनारे स्थित है। इस मंदिर में लोग अपने मंगल दोष के निवारण के लिए आते हैं। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि मंगल देव का जन्म इसी स्थान पर हुआ है। यहां से आपको शिप्रा नदी का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिल जाएगा।

यह भी पढ़े :- कपिलधारा जलप्रपात अमरकंटक

भूखी माता मंदिर उज्जैन – Bhukhi Mata Temple Ujjain

भूखी माता मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर उज्जैन में शिप्रा नदी के तट पर स्थित है। इस मंदिर में आपको भूखी माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह एक छोटा सा मंदिर है, मगर खूबसूरत है।

 

श्री द्वारकाधीश मंदिर या गोपाल मंदिर उज्जैन – Shri Dwarkadhish Temple or Gopal Temple Ujjain

श्री द्वारकाधीश मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। यह मंदिर मराठी वास्तुकला में बना हुआ है। यह मंदिर उज्जैन के बीचो बीच में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। इस मंदिर में जन्माष्टमी के समय बहुत ज्यादा भीड़ रहती है।

यह भी पढ़े :- सोनमुड़ा अमरकंटक

श्री काल भैरव मंदिर उज्जैन – Shri Kaal Bhairav Temple Ujjain

श्री काल भैरव मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह दुनिया का एक अनोखा मंदिर है, क्योकि इस मंदिर में प्रसाद के रूप में शराब को चढ़ाया जाता है। श्री काल भैरव को उज्जैन का संरक्षक या कोतवाल कहा जाता है। यह मंदिर उज्जैन में शिप्रा नदी के तट पर स्थित है। इस मंदिर में बहुत सारे भक्त श्री काल भैरव के दर्शन करने के लिए आते हैं।

 

हरसिद्धि मंदिर उज्जैन – Harsiddhi Temple Ujjain

हरसिद्धि माता का मंदिर उज्जैन का एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यह 1 शक्तिपीठ है। यहां पर मां सती की कोहनी गिरी थी। इस मंदिर के बारे में यह भी कहा जाता है कि हरसिद्धि माता विक्रमादित्य राजा विक्रमादित्य की कुलदेवी थी।

इस मंदिर में आकर्षण का केंद्र दो दीपस्तंभ है। यह दीपस्तंभ बहुत बड़े हैं और इन दीपस्तंभ में दीपो की संख्या 1011 है। इन दीपस्तंभ रात के समय जलाया जाता है, जिससे यह बहुत ही खूबसूरत लगते हैं। यह मंदिर महाकालेश्वर मंदिर के बहुत करीब है। आप इस मंदिर में आराम से घूमने के लिए आ सकते हैं।

यह भी पढ़े :- झोतेश्वर मंदिर जबलपुर

अवंती पार्श्वनाथ जैन मंदिर – Avanti Parshvanath Jain Temple

अवंती पार्श्वनाथ जैन मंदिर उज्जैन का धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह जैन धर्म का एक पवित्र स्थान है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर करीब 23 साल पुराना है। इस मंदिर में भगवान अवंती पाश्र्वनाथ की प्रतिमा विराजमान है। यह प्रतिमा पद्मासन मुद्रा में विराजमान है। यह प्रतिमा काले कलर की है। यह मंदिर शिप्रा नदी के पास में स्थित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। इस मंदिर में जैन धर्म वालों के लिए रहने के लिए धर्मशाला और भोजन के लिए भोजशाला उपलब्ध है।

 

मजार ए नजमी उज्जैन – Mazar-e-Najmi Ujjain

मजार ए नजमी उज्जैन शहर में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह स्थल मुसलमानों के लिए एक पवित्र जगह है। यह मजार बोहरा मुसलमानों के लिए एक मुख्य जगह है। यह मजार  मुख्य उज्जैन शहर में स्थित है। मजार बहुत ही सुंदर है। यह मजार सफेद संगमरमर से बनी हुई है और मजार के बाहर खूबसूरत बगीचा देखने के लिए मिलता है।

यह भी पढ़े :- ग्वारीघाट जबलपुर मध्य प्रदेश

श्री जगदीश मंदिर उज्जैन – Shri Jagdish Temple Ujjain

श्री जगदीश मंदिर उज्जैन में स्थित धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। मंदिर में श्री कृष्ण जी की काले रंग की प्रतिमा विराजमान है। इस मंदिर का डिजाइन बहुत ही खूबसूरत है। मंदिर में ठहरने के लिए धर्मशाला भी मौजूद है।

 

श्री योगीराज मत्स्येंद्रनाथ की समाधि उज्जैन – Samadhi of Shri Yogiraj Matsyendranath Ujjain

श्री योगीराज मत्स्येंद्र नाथ की समाधि उज्जैन में स्थित एक धार्मिक स्थल (Ujjain ke Prasidh Mandir) है। यह समाधि स्थल भरथरी गुफा के पास में स्थित है। आप यहां पर आराम से सड़क मार्ग से पहुंच सकते हैं। इस जगह के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं है। इसलिए लोग यहां पर नहीं आते हैं। यहां पर ज्यादा भीड़ बढ़ नहीं रहती है।

आप यहां पर आ सकते हैं और शांति से अपना समय व्यतीत कर सकते हैं। यह जगह बहुत अच्छी है और शांतिपूर्ण है। यहां पर आपको समाधि स्थल देखने के लिए मिलता है। यहां पर शिवलिंग के दर्शन करने के लिए भी मिलते हैं। यह जगह शिप्रा नदी के किनारे स्थित है और सुंदर है।

यह भी पढ़े :- मठ घोघरा जलप्रपात सिवनी

यह लेख अगर आपको अच्छा लगा हो, तो आप इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment