सूरत के दर्शनीय और पर्यटन स्थल – Top 30 Surat me Ghumne ki Jagah

Surat me Ghumne ki Jagah :- सूरत गुजरात राज्य का एक प्रमुख जिला है। इस लेख में हम आपको सूरत में घूमने की जगह, सूरत कैसे पहुंचे, सूरत के प्रमुख धार्मिक स्थान, और सूरत के प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

सूरत जिले के बारे में जानकारी – Information about Surat district

सूरत गुजरात का प्रमुख जिला है। सूरत को पूरे देश में डायमंड सिटी के नाम से जाना जाता है। सूरत में डायमंड का काम बहुत बड़े स्तर पर किया जाता है। दुनिया भर का 90% डायमंड का काम सूरत में किया जाता है। सूरत में बहुत सारे कुशल कारीगर है, जो डायमंड का काम करते हैं।

सूरत शहर को सिल्क सिटी, फ्लाईओवर का शहर और ग्रीन सिटी के नाम से जाना जाता है। सूरत भारत के सबसे स्वच्छ शहरों में से एक है। सूरत का इतिहास भी बहुत रोचक रहा है। सूरत में डच और पुर्तगालियों ने व्यापारिक केंद्र स्थापित किया, जिनके अवशेष आज भी सूरत में संरक्षित है।

सूरत एक प्रसिद्ध व्यापारिक केंद्र रहा था। सूरत में बहुत सारे देशों के जहाज आकर ठहरते थे। सूरत शहर में बहुत सारी कपड़े की कंपनियां है। सूरत शहर कपड़ा उद्योग के लिए बहुत प्रसिद्ध है। सूरत शहर की बहुत सारी विशेषताएं हैं।

इस तरह सूरत में घूमने के लिए भी बहुत सारी जगह (Surat me Ghumne ki Jagah) है, जहां पर आप आराम से घूम सकते हैं और अपना समय बिता सकते हैं। इस लेख में हम आपको सूरत में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है। उन सभी जगह के बारे में जानकारी देने वाली हैं, जिससे आप अगर सूरत में यात्रा करते हैं, तो आप सूरत की उन जगहों में जाकर अपने सफ़र को एंजॉय कर सकें।

सूरत को प्राचीन समय में सूर्यपुर के नाम से जाना जाता था। बाद में इसे सूरत नाम से जाना जाने लगा। सूरत शहर से तापी नदी बहती है। सूरत शहर में बहुत बड़ा टेक्सटाइल मार्केट है, जहां पर दुनिया भर से लोग कपड़े खरीदने के लिए आते हैं। सूरत में घूमने के लिए बहुत सारी जगह (Surat me Ghumne ki Jagah) है और इस ब्लॉग में हमने सूरत में घूमने वाली प्रमुख जगह (Surat me Ghumne ki Jagah) के बारे में बताया है।

सूरत में घूमने के लिए ऐतिहासिक, धार्मिक पर प्राकृतिक जगह हैं, जो बहुत सुंदर है, जहां पर आप जाकर अच्छा समय बिता सकते हैं। सूरत की इन सभी जगह में आप अपने फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं। यह जगह बहुत अच्छी है और शांत है।

इस ब्लॉग में हमने सूरत में घूमने वाले प्रमुख जगह (Surat me Ghumne ki Jagah), सूरत कैसे जाए, सूरत में घूमने का सबसे अच्छा समय, सूरत में कहां ठहरे, सूरत का भोजन इन सभी के बारे में जानकारी दी है। आप इसको इस ब्लॉग को पूरा पढ़े। ताकि आपको पूरी जानकारी मिल सके।

 

सूरत में घूमने की जगह – Surat me Ghumne ki Jagah

सूरत जिले के प्रमुख दर्शनीय और पर्यटन स्थल की सूची – Surat Tourist Places list in Hindi

  1. डुमस बीच सूरत
  2. सूरत कैसल सूरत
  3. स्नेह रश्मि बोटैनिकल गार्डन सूरत
  4. डच गार्डन सूरत
  5. सारथना नेचर पार्क सूरत
  6. स्वामीनारायण मंदिर सूरत
  7. जगदीश चंद्र बोस एक्वेरियम सूरत
  8. अमेजिया वॉटर पार्क सूरत
  9. सुवाली बीच सूरत
  10. स्नो पार्क सूरत
  11. अंबाजी मंदिर सूरत
  12. जवाहरलाल नेहरू गार्डन सूरत
  13. इस्कॉन मंदिर सूरत
  14. राम मणि मंदिर सूरत
  15. गांधीबाग सूरत
  16. उमिया माता मंदिर सूरत
  17. गोपी तालाब सूरत
  18. साइंस सेंटर सूरत
  19. गेवियर झील सूरत
  20. श्री सिद्धनाथ महादेव मंदिर सूरत
  21. गलतेश्वर महादेव मंदिर सूरत
  22. खुदावंद खान का मकबरा सूरत
  23. हजीरा गांव
  24. दांडी बीच
  25. दांडी स्मारक सूरत
  26. बोरसी बीच और लाइट हाउस सूरत
  27. बारडोली
  28. तीथल बीच सूरत
  29. वंसदा राष्ट्रीय उद्यान
  30. उबरत बीच सूरत

 

सूरत जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल – Surat me Ghumne ki Jagah

 

डुमास बीच सूरत – Dumas Beach Surat

डुमास बीच सूरत का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। यह अरब सागर के किनारे बना हुआ एक सुंदर बीच है। यह सूरत शहर से 21 किलोमीटर दूर दक्षिण पश्चिम में स्थित है। इस बीच को भारत की प्रेत बाधित स्थानों की सूची में शामिल किया गया है। कहा जाता है, कि यहां पर रात के समय चीखने चिल्लाने की आवाज आती है। इस बीच में काली रेत का तट देखा जा सकता है।

यहां पर हजारों पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। दिन के समय यह जगह चहल-पहल से भरा रहता है। मगर रात के समय यहां पर सन्नाटा रहता है और रात के समय यहां पर कोई आता है, तो उसको चीख-पुकार और कुछ अजीब घटनाओं का अनुभव होता है। यहां पर आप आकर बीच में लहरों और उसकी आवाज सुन सकते हैं।

इस बीच में आकर आप बहुत सारी एक्टिविटी कर सकते है। यहां पर दूर तक फैला हुआ समुद्र तट देखने के लिए मिलता है। यहां पर शाम के समय सूर्यास्त का नजारा बहुत ही जबरदस्त रहता है। यहां पर बहुत सारे स्ट्रीट वेंडर घूमते हैं, जिनसे आप खाने पीने का सामान ले सकते हैं और इस जगह पर इंजॉय कर सकते हैं।

 

सूरत कैसल सूरत – Surat Castle Surat

सूरत कैसल सूरत सिटी में तापी नदी के किनारे, नेहरू ब्रिज के पास बना हुआ है। यह किला प्राचीन है। इस किले का निर्माण मुख्य तौर पर आक्रमणकारी से बचाव के लिए करवाया गया था। इस किले का निर्माण 16वीं शताब्दी में अहमदाबाद के सुल्तान महमूद बेगड़ा तृतीय ने करवाया था।

यह किला बहुत सुंदर है। इस किले के अंदर बहुत सारी पुरानी वस्तुओं को संभाल कर रखा गया है। इस किले में अभी रिकंस्ट्रक्शन का काम चल रहा है।

आप इस किले में आकर बहुत सारी प्राचीन वस्तुएं देख सकते हैं। यहां पर प्राचीन समय का कोर्ट, राजा का कमरा, डायनिंग टेबल, तोप, बैठक कमरा, पुराने मैप, खाने पीने के बर्तन, राजा के वस्त्र यह सभी वस्तुएं देख सकते हैं। इस किले में प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। यहां से तापी नदी का भी सुंदर दृश्य देखा जा सकता है।

 

स्नेह रश्मि बोटैनिकल गार्डन सूरत – Sneh Rashmi Botanical Garden Surat

स्नेह रश्मि रश्मि बॉटनिकल गार्डन सूरत का एक मुख्य स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। इस गार्डन में विभिन्न तरह के पेड़ पौधों को प्रदर्शित किया गया है। इस गार्डन में घर को सजाने वाले औषधीय प्लांट, सजावटी प्लांट, मसाले वाले प्लांट, फूलों वाले प्लांट और भी बहुत सारे प्लांट प्रदर्शित किए गए हैं।

यहां पर आकर आप इन सभी प्लांटों के बारे में जानकारी हासिल कर सकते हैं। यह गार्डन बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है और गार्डन के बीच में एक तालाब में बना हुआ है, जहां पर बोटिंग की जाती है। यहां पर एम्यूजमेंट पार्क बना हुआ है, जहां पर बहुत सारी राइड है। इन राइड में सवारी का बच्चे मजा ले सकते हैं। इनमे से कुछ राइड पेड है और कुछ फ्री है।

यहां पर टॉय ट्रेन देखने मिलेगी, जिसमें टॉय ट्रेन में बैठकर पूरा पार्क घूमा जा सकता है। यह पार्क सूरत नगर निगम द्वारा प्रबंधित किया जाता है। यहां पर बच्चों का प्ले एरिया बनाया गया है। इस पार्क  में हिलियम बलूंस से आसमान की सैर की जा सकती है। यहां पर आप आकर बहुत अच्छा अनुभव कर सकते हैं।

 

डच गार्डन सूरत – Dutch Garden Surat

डच गार्डन सूरत का एक मुख्य घूमने का स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। डच गार्डन सूरत के नानापुरा में बना हुआ है। डच गार्डन में डच लोगों की कब्र और एक बहुत बड़ा गार्डन देखने के लिए मिलता है। डच लोगों की कब्र, गार्डन के एक पार्ट में बनी हुई है। यह कब्र बहुत सुंदर डिजाइन में बनाई गई है।

यहां पर बहुत बड़ा गार्डन है। गार्डन के पास तापी नदी बहती है। जिससे यह गार्डन और भी ज्यादा सुंदर लगता है। यहां पर सुबह एवं शाम के समय में बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। लोग यहां पर वाकिंग, रनिंग, एक्सरसाइज आकर करते हैं। इस गार्डन का इतिहास काफी रोचक रहा है। डच एवं अंग्रेज लोग जब भारत आये थे।

तब वह यह व्यापार करने के लिए आए थे और यहां पर उन्होंने अपनी कॉलोनी बनाकर रहना शुरू कर दिया था और व्यापार किया था। इसलिए इस गार्डन को प्राचीन समय में डच गार्डन के नाम से जाना जाता था। वर्तमान समय में इस गार्डन को दयाल जी गार्डन के नाम से जाना जाता है।

यह गार्डन सूरत नगर निगम द्वारा प्रबंधित किया जाता है। यहां पर बच्चों के लिए एक अलग से प्ले एरिया बना हुआ है, जहां पर बच्चे लोग काफी इंजॉय कर सकते हैं। आप अगर अपना अच्छा समय बिताना चाहते हैं, तो आप यहां पर घूमने आ सकते हैं।

 

सारथना नेचर पार्क सूरत – Sarthana Nature Park Surat

सारथना नेचर पार्क सूरत का एक प्रमुख स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह उद्यान पूरे गुजरात में प्रसिद्ध है। यह उद्यान सूरत में आनंद नगर में बना हुआ है। इसे 1984 में बनाया गया था। यह 21 एकड़ के क्षेत्र में फैला हुआ है। यह सूरत का सबसे बड़ा पार्क है। इस उद्यान में बहुत सारे वन्यजीव देखने के लिए मिलते हैं।

यहां पर गैंडा, रॉयल बंगाल टाइगर, तेंदुआ, हिरण, सफेद बाघ, मोर, भालू, लकड़बग्घा, कछुआ, हिप्पोपोटामस, नीलगाय, मगरमच्छ, घड़ियाल यह सभी जानवर आप देख सकते हैं। इस बगीचे में चारों तरफ पेड़ पौधे लगाए गए हैं। यहां पर तापी नदी का  सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। तापी नदी इस पार्क के किनारे से होकर बहती है, जो इस उद्यान की खूबसूरती को और भी ज्यादा आकर्षक बना देती है।

यह गुजरात शहर का सबसे पुराना प्राणी उद्यान है। यहां पर प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर आप बैटरी कार के द्वारा पूरा पार्क घूम सकते हैं। यह पार्क कामरेज हाईवे सड़क पर स्थित है। यहां पर आप आसानी से आकर घूम सकते हैं। यह सूरत में घूमने की सबसे अच्छी जगह है।

 

स्वामीनारायण मंदिर सूरत – Swaminarayan Temple Surat

स्वामीनारायण मंदिर सूरत का एक लोकप्रिय तीर्थ स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह मंदिर सूरत शहर में ताप्ती नदी के किनारे, सरदार ब्रिज के पास में बना हुआ है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। मंदिर की दीवारों में बहुत ही आकर्षक नक्काशी की गई है। यह मंदिर 1996 में गुलाबी पत्थरों से बनाया गया है। इस मंदिर में आकर आपको बहुत अच्छा लगेगा।

इस मंदिर में भगवान श्री स्वामी नारायण जी, श्री गोपालनंद स्वामी, श्री गुनातीतानंद स्वामी, श्री हरीकृष्ण महाराज, श्री कृष्णा जी, श्री राधा रानी जी, घनश्याम जी के दर्शन किए जा सकते हैं। इनकी मूर्ति गर्भ गृह में रखी गई है और बहुत ही सुंदर लगती है। यहां पर तापी नदी का भी सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर सूरत में तापी नदी के तट पर स्थित है।

इसका निर्माण 1996 में गुलाबी पत्थरों से किया गया था। यह मंदिर वैष्णववाद से संबंधित है। यहां मंदिर बहुत बड़ा है और बहुत सुंदर है। आप यहां पर आकर आनंद का अनुभव कर सकते हैं। यहां पर भोजनालय बना हुआ है, जहां पर शुद्ध शाकाहारी भोजन दिया जाता है और यहां पर ठहरने के लिए धर्मशाला भी बनाई गई है।

 

जगदीश चंद्र बोस एक्वेरियम सूरत – Jagadish Chandra Bose Aquarium Surat

जगदीश चंद्र बोस एक्वेरियम सूरत में वीर विनायक दामोदर सावरकर फ्लाईओवर के पास में बना हुआ है। यह भारत का पहला एक्वेरियम है। इस एक्वेरियम में विभिन्न तरह के जल जलीय जीव देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप आकर ताजे, समुद्री और खारे पानी की मछलियां देख सकते हैं। यहां पर 100 से भी ज्यादा मछलियां देखने के लिए मिलती है।

यहां पर कछुए, जेली फिश, केकड़े, स्टार फिश, यह सभी देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर व्हेल मछली का स्केलेटन भी रखा गया है। यह स्केलेटन बहुत बड़ा है। यहां पर शार्क मछली को एक बहुत बड़े टैंक में रखा गया है। यह जगह बच्चों को बहुत पसंद आएगी। यहां पर प्रवेश के लिए टिकट लगता है।

 

अमेजिया वॉटर पार्क सूरत – Amejia Water Park Surat

अमेजिया वॉटर पार्क सूरत का एक एडवेंचरस पार्क है। यहां पर बहुत सारी वॉटर स्लाइड है। जिनमें आप मजे ले सकते हैं। यहां पर गर्मी के समय बहुत सारे लोग आते हैं। यह पार्क सूरत के सुभाष नगर में स्थित है। अमेजिया पार्क पर लाइव गार्ड हर जगह खड़े रहते हैं। यहां पर आप वीकेंड में आएंगे, तो यह बहुत ज्यादा भीड़ होती है।

यहां पर बहुत सारे गेम खेलने के लिए मिलते हैं, जो बच्चे और बड़े दोनों ही आनंद लेते हैं। यहां पर फूड कार्नर भी बना हुआ है, जहां पर खाने के लिए बहुत अच्छा खाना मिलता है।  अमेजिया वॉटर पार्क 15 दिसंबर 2016 को जनता के लिए खोला गया था।

 

सुवाली बीच सूरत – Suvali Beach Surat

सुवाली बीच सूरत से करीब 30 किलोमीटर दूर हजीरा में स्थित है। यह एक शांत बीच है। यह बीच बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यहां से आप अरब सागर का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यहां पर काली रेत पुरे बीच में फैली है। यहां पर आकर अच्छा समय बिताया जा सकता है। यहां पर सूर्योदय और सूर्यास्त का बहुत ही आकर्षक दृश्य देखने के लिए मिलता है।

यहां पर आप कैमल राइड और हॉर्स राइड का भी मजा ले सकते हैं। यहां पर आप आकर समुद्र की लहरें और उनकी आवाज सुन सकते हैं, जो बहुत सुकून देते हैं। इस बीच में ज्यादा भीड़ भाड़ नहीं रहती है। यहां पर आप आकर इंजॉय करेंगे। यह सूरत के पास घूमने की एक मुख्य जगह है।

 

स्नो पार्क सूरत – Snow Park Surat

स्नो पार्क सूरत का एक प्रमुख स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यहां पर आप आकर कश्मीर और लद्दाख जैसी सर्दी का अनुभव कर सकते हैं। यहां का टेंपरेचर -5 रहता है। यहां पर आकर बहुत सारे गेम्स और स्लाइड का मजा ले सकते हैं। यहां पर बहुत सारे सेल्फी प्वाइंट बने हुए हैं, जहां पर आप फोटो क्लिक करवा सकते हैं। यह एडवेंचर पार्क राहुल राज मॉल में बना हुआ है।

यहां पर बच्चे लोग भी काफी इंजॉय करते हैं। यहां पर आप आकर बर्फबारी, स्लेजिंग कार का आनंद ले सकते है। आर बर्फ की मूर्तियां आदि बना सकते हैं। यहां पर डीजे बजता है, जिसमें आप डांस कर सकते हैं।

 

अंबाजी मंदिर सूरत – Ambaji Temple Surat

अंबाजी मंदिर सूरत का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर एक शक्तिपीठ के रूप में भी जाना जाता है। यह मंदिर सूरत में तापी नदी के किनारे बना हुआ है। यहां पर अंबा माई की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा देखी जा सकती है। यह मंदिर प्राचीन है। अंबा माता शक्ति का स्वरुप है। यहां पर माता की अष्टभुजी प्रतिमा के दर्शन किए जाते हैं।

इस मंदिर के परिसर में श्री राधा कृष्ण का मंदिर भी देखा जा सकता है। यहां पर राधा कृष्ण जी की बहुत सुंदर प्रतिमा के दर्शन किए जा सकते हैं। यहां तापी नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। नवरात्रि में यहां पर बहुत भीड़ लगती है।

 

जवाहरलाल नेहरू गार्डन सूरत – Jawaharlal Nehru Garden Surat

जवाहर नेहरू गार्डन सूरत में तापी नदी के किनारे बना हुआ है। यह  डुमस बीच में जाने वाली सड़क पर स्थित है। आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं। यहां पर आने पर कोई दिक्कत नहीं होगी। यह उद्यान बहुत पुराना और सूरत का सबसे बड़ा उद्यान है।

इस उद्यान के बीच में सुंदर फव्वारे देखने के लिए मिलते हैं, जो संगीत की धुन पर पानी को छोड़ते हैं। यहां पर आप आकर स्वच्छ और ताजी हवा में सांस ले सकते हैं। यहां पर बहुत सारे झूले भी हैं, जो बच्चों को काफी पसंद आते हैं। यह जगह बहुत सुंदर है। यह जगह चारों तरफ से हरियाली से घिरी हुई है और यहां पर आकर अच्छा समय बिताया जा सकता है।

 

इस्कॉन मंदिर सूरत – Iskcon temple surat

इस्कॉन मंदिर सूरत का एक अंतरराष्ट्रीय पर्यटन स्थल है। यह मंदिर सूरत में जहांगीरपुरा में स्थित है। यह मंदिर ताप्ती नदी के किनारे बना हुआ है। मंदिर परिसर बहुत बड़ा है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी और राधा रानी को समर्पित है। इस मंदिर को श्री श्री राधा दामोदर मंदिर के नाम से भी जाना जाता है। यहां सुबह और शाम आरती होती है। मंदिर परिसर में आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां ताप्ती नदी का दृश्य देखने के लिए मिलता है।

फेस्टिवल के समय इस मंदिर को बहुत अच्छी तरह से सजाया जाता है और यहां पर हरे राम, हरे कृष्णा के भजन सुनने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर लाल पत्थरों से बना हुआ है। मंदिर के अंदर राधा कृष्ण जी की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। मंदिर के बाहर गार्डन बना हुआ है।

 

राम मणि मंदिर सूरत – Ram Mani Mandir Surat

राम मणि मंदिर सूरत का प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर रामदेव पीर बाबा जी को समर्पित है। मंदिर में बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर शनि मंदिर, नवग्रह मंदिर, राम जी का मंदिर हनुमान मंदिर, शंकर मंदिर बने हुए हैं, जो बहुत सुंदर बने हुए हैं।

यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर तापी नदी का दृश्य भी देखा जा सकता है। यह मंदिर इस्कॉन मंदिर के पास में बना हुआ है। इस मंदिर के पास और भी मंदिर बने हुए है। यहां भावनाथ महादेव मंदिर बना है।

 

गांधीबाग सूरत – Gandhibagh Surat

गांधीबाग सूरत का एक सुंदर पार्क है। यह पार्क तापी नदी के किनारे बना हुआ है। इस पार्क में बहुत सारे झूले लगे हुए हैं। यहां पर जिम एक्टिविटी के लिए भी बहुत सारे यंत्र लगाए गए हैं। इस पार्क में प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। यह पार्क मुख्य चौक बाजार में स्थित है।

 

उमिया माता मंदिर सूरत – Umiya Mata Temple Surat

उमिया माता मंदिर सूरत का एक प्रमुख मंदिर है। यह मंदिर मुख्य शहर में स्थित है। यह मंदिर उमिया माता को समर्पित है। उमिया माता पार्वती मां का ही रूप है। उमिया माता का मंदिर बहुत ही सुंदर बना हुआ है। यह मंदिर बहुत ही भव्य लगता है। पूरे मंदिर में नक्काशी की गई है। मंदिर के गर्भगृह में उमिया माता के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

पूरा गर्भगृह चांदी से बना हुआ है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर दूर-दूर से लोग मां के दर्शन करने के लिए आते हैं। यहां नवरात्रि में बहुत भीड़ लगती है। यहां पर गेस्ट हाउस और भोजनालय बना हुआ है, जहां पर दूर से आने वाले पर्यटक ठहर सकते हैं और भोजन वगैरह ग्रहण कर सकते हैं।

 

गोपी तालाब सूरत – Gopi Pond Surat

गोपी तालाब सूरत में स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल (Surat me Ghumne ki Jagah) है। गोपी तालाब सूरत मुख्य शहर में स्थित है। यह एक प्राचीन तालाब है। यह तालाब बहुत बड़ा है। इस तालाब का आकार गोलाकार है। तालाब के चारों तरफ सुंदर गार्डन बना हुआ है। तलाब में बहुत सारी वाटर एक्टिविटी और नौकायान की सुविधा उपलब्ध है। गार्डन में भी आप आकर बहुत इंजॉय कर सकते हैं।

गार्डन पर म्यूजिकल फाउंटेन देखने के लिए मिलेगा, जो संगीत की धुन पर पानी छोड़ता है। यहां पर आप बहुत सारे झूले एवं का आनंद ले सकते हैं। यहां पर अलग-अलग चार्ज लिया जाता है। इस गार्डन में प्रवेश करने के लिए शुल्क लगता है। गार्डन में प्राचीन बावड़ी देखी जा सकती है, जिसे  चतुर्मुखी कुआं कहा जाता है। यह बावड़ी पूरा पत्थर की बनी हुई है। यहां पर टॉय ट्रेन है, जिससे पूरा पार्क घूम सकते है।

 

साइंस सेंटर सूरत – Science Center Surat

साइंस सेंटर सूरत का एक प्रमुख स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह सेंटर बच्चों के साथ बड़ों के लिए भी बहुत महत्वपूर्ण है। यहां पर बहुत सारे मॉडल प्रदर्शित किए गए हैं। यहां पर सरदार वल्लभभाई पटेल म्यूजियम भी बना हुआ है। इसमें बहुत सारी वस्तुओं का संग्रह देखा जा सकता है। यहां अंतरिक्ष विज्ञान, एस्ट्रोलॉजी के बारे में बताया गया है।

यहां पर तारामंडल में ग्रह, नक्षत्र, तारों, आकाश के बारे में जानकारी मिलती है। यहां पर 3डी एम्फी थियेटर बना हुआ है, जहां पर शो आयोजित किए जाते हैं। यहां पर डायमंड गैलरी देखने के लिए मिलेगी। जहां पर डायमंड के बारे में जानकारी दी गई है।

 

गेवियर झील सूरत – gaviar lake surat

गेवियर झील सूरत का एक प्राकृतिक स्थल (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है। झील में सफेद और लाल कमल के फूल लगे हुए हैं। यहां पर बहुत सारे पक्षी देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर स्थानीय और विदेशी पक्षी देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर अब दूरबीन लेकर आएंगे, और अच्छा से यहां पर पक्षी देख सकते हैं।

यह जगह चारों तरफ जंगल से घिरी हुई है। यहां पर बहुत सारी तितलियां भी रहती है। यहां पर आपको आकर शांति का एहसास होगा। यह सूरत का पिकनिक स्पॉट है और आप यहां पर आकर अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।

 

श्री सिद्धनाथ महादेव मंदिर सूरत – Shri Siddhanth Mahadev Temple Surat

श्री सिद्धनाथ महादेव मंदिर सूरत का फेमस मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर सूरत में ओलपाड रोड पर बना हुआ है। इस मंदिर में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर शिव भगवान जी और नाग देवता के दर्शन किए जाते हैं। यहां सावन सोमवार और महाशिवरात्रि में भीड़ लगती है। यह मंदिर प्राचीन है। मंदिर के पास में रामकुंड बना हुआ है।

 

गलतेश्वर महादेव मंदिर सूरत – Galteshwar Mahadev Temple Surat

गलतेश्वर महादेव मंदिर सूरत का एक प्रमुख मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर में शिव भगवान जी मूर्ति के दर्शन करने मिलते है। यह मंदिर सूरत में कामरेज तालुका के टिंबा गांव में ताप्ती नदी के किनारे बना हुआ है। यहां पर 100 फीट ऊंची शिव प्रतिमा के दर्शन मिलते दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

यह प्रतिमा खुले आकाश के नीचे बनी हुई है। शिवलिंग के अंदर गुफा बनाई गई है, जिसमें 12 ज्योतिर्लिंग के दर्शन किए जा सकते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और ताप्ती नदी का दृश्य देखने के लिए मिलता है।

 

खुदावंद खान का मकबरा सूरत – Tomb of Khudavand Khan Surat

खुदावंद खान का मकबरा सूरत में स्थित एक प्राचीन स्थल है। यहां पर आपको एक बहुत सुंदर और प्राचीन मकबरा देखने के लिए मिलता है। खुदावंद आर्मी के चीफ थे। वह चंगेज खान के शासक में काम करते थे।  खुदावंद खान भरूच में पुर्तगालियों से लड़ते हुए शहीद हो गए थे।

उनकी मृत शरीर को यहां पर लाया गया और यह कब्र बनाया गया। यह मकबरा बहुत सुंदर है। यह मकबरा पूरा पत्थर से बना हुआ है और इसमें बहुत सुंदर डिजाइन देखने के लिए बनता है। यहां पर खिड़कियां भी बनी हुई है, जिसमे अलग डिजाइन बना हुआ है। यह मकबरा मुख्य शहर में स्थित है।

 

हजीरा गांव – Hazira village

हजीरा गांव सूरत के पास घूमने का एक खूबसूरत और लोकप्रिय स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। हजीरा गांव सूरत से 30 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप टैक्सी और बस के माध्यम से पहुंच सकते हैं। हजीरा गांव अरब सागर के किनारे एक सुंदर जगह है।

यहां पर आकर आपको अरब सागर का सुन्दर तट देख सकते है, जहां पर जाकर आप इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर ढेर सारे पेट्रोकेमिकल फैक्ट्री है। यहां की बहुत सारी जगह में जाने में रिस्ट्रिक्शन है। मगर कुछ जगह में आप जाकर घूम सकते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है।

 

दांडी बीच – Dandi Beach

दांडी बीच सूरत के पास घूमने का एक मुख्य आकर्षण स्थल (Surat me Ghumne ki Jagah) है। दांडी बीच भारत का सबसे प्रसिद्ध स्थलों में से एक है। दांडी बीच में भारत के सबसे प्रसिद्ध स्वतंत्रता संग्राम से एक का संबंध है।

महात्मा गांधी ने इस समुद्र तट से नमक सत्याग्रह का आंदोलन शुरू किया था। महात्मा गांधी ने 1930 में नमक मार्च का नेतृत्व किया था, जो भारत की स्वतंत्रता की लड़ाई में एक महत्वपूर्ण क्षण था। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं और इस जगह का आनंद ले सकते हैं।

यहां पर आपको सुंदर समुद्र तट देखने के लिए मिलता है। यह समुद्र तट काफी बड़े एरिया में फैला हुआ है और शांत है। यहां पर लहरों और समुद्र का पानी का अनोखा दृश्य देखा जा सकता है। यहां के प्राकृतिक सुंदरता देखने लायक है।

यहां पर आप जल गतिविधियों का आनंद ले सकते हैं। यहां पर बच्चों के लिए ट्रैम्पोलिन, घोड़े और ऊंट की सैर, बाइक और बाकी की सवारी कर सकते है। आप इनका भी आनंद ले सकते हैं। यहां पर शाम के समय सूर्यास्त का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। यह सूरत में बच्चों के साथ घूमने लिए अच्छी जगह में से एक है।

 

दांडी स्मारक सूरत – Dandi Memorial Surat

दांडी स्मारक सूरत के पास घूमने की एक मुख्य जगह (Surat me Ghumne ki Jagah) है। दांडी स्मारक सूरत में दांडी गांव में बनी हुई है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। यहां पर आकर आप दंडी बीच में घूम सकते हैं और दांडी स्मारक में घूम सकते हैं।

दांडी स्मारक के पास में आपको ढेर सारी जगह मिलती है, जहां पर आप जा सकते हैं। दांडी स्मारक में आपको दांडी झील, दांडी म्यूजियम और नेशनल साल्ट सत्याग्रह मेमोरियल देखने के लिए मिलता है। यह सभी स्थल बहुत सुंदर है। आप यहां पर जाकर घूम सकते हैं और नमक सत्याग्रह के बारे में पूरी जानकारी हासिल कर सकते हैं।

यहां पर आपको गांधी जी की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर गांधी जी के साथ, जो जो व्यक्ति नमक सत्याग्रह में शामिल थे। उन सभी की प्रतिमा भी आप देख सकते हैं। इस जगह को बहुत अच्छी तरह से बनाया गया है। यहां पर सभी तरह की सुविधा उपलब्ध है। आप यहां पर आते हैं, तो इस जगह पर जरूर यात्रा करें। यहां पर प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। यहां पर पार्किंग की व्यवस्था भी उपलब्ध है। यहां पर आपको ढेर सारी जानकारी मिलेगी।

 

बोरसी बीच और लाइट हाउस सूरत – Borsi Beach and Light House Surat

बोरसी बीच और लाइट हाउस सूरत शहर के पास घूमने के लिए एक हिडन प्लेस (Surat me Ghumne ki Jagah) है। इस जगह के बारे में ज्यादा लोगों को जानकारी नहीं है, मगर यह जगह खूबसूरत है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एक सुंदर समुद्र किनारा देखने के लिए मिलता है।

यह जगह सूरत में वंसी के पास स्थित है। आप यहां पर आराम से सड़क मार्ग से आ सकते हैं। यहां पर आपको पूर्णा नदी का संगम देखने के लिए मिलता है। यहां पर आकर आप कुछ अपना अच्छा समय बिता सकते हैं। यह बीच साफ सुथरा है और यहां पर ज्यादा लोग नहीं आते हैं। आप यहां पर अपने फैमिली और दोस्तों के साथ आकर घूम सकते हैं। यहां पर आपको लाइट हाउस भी देखने के लिए मिलता है।

 

बारडोली – Bardoli

बारडोली सूरत का एक सुंदर शहर है। बारडोली सूरत से करीब 35 किलोमीटर दूर स्थित है। बारडोली भारत के सबसे स्वच्छ शहरों में से एक है। बारडोली में बहुत सारे स्थल है, जहां पर आप घूम सकते हैं। बारडोली में आप आराम से पहुंच सकते हैं। बारडोली में आप ट्रेन माध्यम से या सड़क माध्यम से पहुंच सकते हैं। यहां पर आकर आप इन सभी स्थलों में जा सकते हैं।

बारडोली में घूमने के लिए स्वराज आश्रम, सरदार वल्लभभाई पटेल म्यूजियम, श्री गोविंद आश्रम मंदिर, बाबेन झील जैसे बहुत सारे स्थल है, जहां पर आप घूम सकते हैं और इन सभी स्थलों की यात्रा कर सकते हैं। यह सभी स्थल बहुत सुंदर है।

सरदार वल्लभभाई पटेल म्यूजियम में आपको ढेर सारी पुरानी वस्तुएं देखने के लिए मिलती है, जिनका संबंध सरदार वल्लभभाई पटेल से था। आप इन सभी वस्तुओं के देख सकते हैं और सरदार वल्लभभाई पटेल के बारे में जान सकते हैं। यहां पर आपको स्वराज आश्रम देखने के लिए मिलता है, जो भारतीय आजादी से पहले भारतीय राजनीति में महत्वपूर्ण भूमिका निभाया था। आप सूरत घूमने के लिए आते हैं, तो आपको बारडोली की यात्रा जरूर करनी चाहिए।

 

तीथल बीच सूरत – Tithal Beach Surat

तिथल बीच सूरत के पास घूमने का एक मुख्य पर्यटक आकर्षण स्थल (Surat me Ghumne ki Jagah) है। तिथल बीच सूरत से लगभग 90 किलोमीटर दूर है। आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं। तिथल बीच सूरत के पास वलसाड में स्थित है। इस बीच तक आने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है।

तिथल बीच समुद्र तट प्रेमियों को यह जगह बहुत पसंद आएगी। यहां पर काली रेत के तट देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर समुद्र से आती लहरों को देखना बहुत अच्छा लगता है। यहां पर बहुत सारे पर्यटक घूमने लिए आते हैं।

यहां पर बहुत सारे एडवेंचरस गतिविधियों का आनंद लिया जा सकता है। यहां पर आपको मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। सूरत से 1 दिन की यात्रा के लिए यह बहुत अच्छी जगह है। यहां आकर आप बहुत सारी एडवेंचरस गतिविधियां जैसे घुड़सवारी, ऊंट की सवारी, और बाइक राइडिंग जैसी गतिविधियों का आनंद लेते ले सकते हैं। छोटे बच्चों के मनोरंजन के लिए यहां पर बहुत सारी गतिविधियां हैं। यहां का पानी साफ है।

यहां पर सूर्यास्त का बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। समुद्र तट के दोनों और पैदल मार्ग स्थित है। यहां पर समुद्र तट के एक और स्वामीनारायण मंदिर और समुद्र तट के दूसरी और साई बाबा का मंदिर बना हुआ है। यहां पर आकर आपको अच्छा लगेगा। यहां पर सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। आप यहां पर आकर अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।

तिथल बीच में आप ढेर सारे फास्ट फूड का आनंद ले सकते हैं। तिथल बीच फेस्टिवल हर साल अक्टूबर के दौरान आयोजित किया जाता है। इस फेस्टिवल को बहुत ही धूमधाम से मनाया जाता है। इस फेस्टिवल में बहुत सारी गतिविधियों की जाती है, जिसका आनंद सभी लोग ले सकते हैं। यहां पर आकर आप इंजॉय कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :- गुरुग्राम में घूमने की जगह

वंसदा राष्ट्रीय उद्यान – Vansda National Park

वंसदा राष्ट्रीय उद्यान सूरत के पास घूमने का एक मुख्य प्राकृतिक पर्यटन स्थल (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह राष्ट्रीय उद्यान सूरत से लगभग 100 किलोमीटर दूर नवसारी जिले में स्थित है। यह राष्ट्रीय उद्यान बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यहां पर आकर आप प्राकृतिक दृश्य का आनंद ले सकते हैं।

वंसदा राष्ट्रीय उद्यान में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है, जहां पर जाकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर अगर आप बरसात के समय आते हैं, तो आपको सुंदर जलप्रपात देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही आकर्षक लगता है। यहां पर किलाड कैंपसाइट में आप कैंप का आनंद ले सकते हैं।

यहां पर इको टूरिज्म साइट है, जहां पर आप जाकर प्रकृति का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। वंसदा राष्ट्रीय उद्यान में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर बाइक और कार के लिए अलग-अलग शुल्क लिया जाता है। कमरे का चार्ज अलग लिया जाता है। यह राष्ट्रीय उद्यान में आप 8:00 से 5:00 तक प्रवेश कर सकते हैं।

वंसदा राष्ट्रीय उद्यान की स्थापना 1979 में वन्य जीव पार्क के रूप में की गई थी। यह सह्याद्रि पर्वतमाला के बीच में 24 वर्ग किलोमीटर से अधिक का क्षेत्र में फैला है। इस राष्ट्रीय उद्यान में आपको पहाड़ियां, घटिया, पेड़ पौधे, झरने और वन्य जीवन देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर शहर की हलचल दूर शांति प्रदान कर सकते हैं। यहां पर आपको बहुत सारे वनस्पति देखने के लिए मिलती है।

इस पार्क में आपको बहुत सारे जंगली जानवर जैसे भारतीय तेंदुआ, लंगूर, छोटे भारतीय सिवेट, चार सींग वाले मृग, जंगली सूअर, साही, भौंकने वाले हिरण देखने मिलते है। आप यहां पर आकर अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। सूरत के पास फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए यह एक अच्छी जगह है।

यह भी पढ़े :- कुरुक्षेत्र में घूमने की जगह

उबरत बीच सूरत – Ubarat Beach Surat

उबरत बीच सूरत के पास घूमने का घूमने लायक एक प्रमुख स्थान (Surat me Ghumne ki Jagah) है। यह बीच सूरत से करीब 42 किलोमीटर दूर है। यह नवसारी जिले के पास में स्थित है। आप यहां पर आराम से आ सकते हैं। आप यहां पर सड़क मार्ग के द्वारा पहुंच सकते हैं। यहां पर आकर आप अरब सागर का सुंदर दृश्य देख सकते हैं।

यह बीच बहुत आकर्षक लगता है। यहां पर एक रिसॉर्ट भी बना हुआ है, जहां पर आप ठहर सकते हैं। यहां पर चारों तरफ आपको प्राकृतिक दृश्य देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर रहता है। इस बीच में कुछ खाने-पीने की दुकानें हैं, जहां से आप खाने-पीने का सामान ले सकते हैं।

बीच के किनारे बैठकर अच्छा लगता है। यह स्थान प्राकृतिक प्रेमियों और पर्यटकों के लिए यह एक लोकप्रिय पिकनिक स्थल है। यहां पर आकर आप शानदार प्राकृतिक दृश्य का आनंद ले सकते हैं। आप यहां पर परिवार और दोस्तों के साथ अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।

उबरत बीच में बच्चों के लिए बहुत सारी एडवेंचरस गतिविधियां उपलब्ध है। यहां पर कैमल राइड और हॉर्स राइड के आप्शन उपलब्ध हैं, जो बच्चों को बहुत पसंद आएंगे। यहां पर आप सनसेट का बहुत सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यहां पर आप अपना शांति भरा समय व्यतीत कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :- पानीपत में घूमने की जगह

सूरत में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Surat

सूरत में घूमने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। सूरत में आप ठंड में आकर सूरत के सभी पर्यटन स्थलों की सैर कर सकते हैं। ठंड का समय बहुत ही अच्छा रहता है। ठंड के मौसम में घूमने में कोई भी परेशानी नहीं होती है। सूरत में अक्टूबर से मार्च के महीने में आ सकते हैं। अक्टूबर से मार्च का महीना ठंड का रहता है। आप सूरत में आकर सभी जगह में जाकर घूम सकते हैं। वैसे आप सूरत में अपनी इच्छा अनुसार कभी भी आ सकते हैं। आप यहां गर्मी के समय भी आ सकते हैं। मगर गर्मी के समय मौसम में बहुत ज्यादा गर्मी रहती है, जिससे घूमने में परेशानी होती है।

यह भी पढ़े :- पीलीभीत में घूमने की जगह

सूरत में कहां ठहरे – Where to stay in Surat

सूरत में ठहरने के लिए बहुत सारे होटल, लॉज, रिसोर्ट मिल जाते हैं। यहां पर आप को अपने बजट के अनुसार रूम में जाएंगे। यहां पर आप होटल की बुकिंग ऑनलाइन कर सकते हैं। यहां पर आपका बजट कम है, तो आप धर्मशाला में भी रुक सकते हैं, जहां पर बहुत कम शुल्क लिया जाता है।

यह भी पढ़े :- सोलन में घूमने की जगह

सूरत कैसे पहुंचे – How to reach Surat

सूरत गुजरात राज्य का प्रमुख शहर है। सूरत गुजरात के अन्य जिलों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। सूरत में ढेर सारी यात्री आते हैं। सूरत में ढेर सारे पर्यटन स्थल हैं, जहां पर लोग जाकर घूम सकते हैं। सूरत में आप देश के अन्य हिस्सों से आराम से पहुंच सकते हैं। सूरत में आप रेल मार्ग, वायु मार्ग और सड़क मार्ग से आ सकते हैं। सूरत में आप इन सभी माध्यम से आसानी से पहुंच सकते हैं। चलिए जानते हैं – सूरत कैसे पहुंचे

 

हवाई मार्ग से सूरत कैसे पहुंचे – How to reach Surat by air

हवाई मार्ग से सूरत पहुंचने के लिए हवाई अड्डा सूरत पर बना हुआ है। यहां पर घरेलू हवाई अड्डा बना हुआ है, जो सूरत शहर से 12 किलोमीटर दूर है। यहां पर भारत के प्रमुख शहरों से एयरक्राफ्ट आते हैं। आप अहमदाबाद, मुंबई, दिल्ली जैसे शहरों से यहां पर डायरेक्ट हो सकते हैं। सड़क मार्ग से सूरत कैसे पहुंचे

 

सड़क मार्ग से सूरत कैसे पहुंचे – How to reach Surat by road

सड़क मार्ग से सूरत पहुंचने के लिए राष्ट्रीय राजमार्ग सूरत से गुजरता है। राष्ट्रीय राजमार्ग 8 सूरत से गुजरता है, जिससे आप अपने स्वयं के वाहन से सूरत आ सकते हैं। इसके अलावा सूरत आने के लिए आपको बस की सुविधा भी मिल जाती है। यहां पर आने के लिए सरकारी, लोकल एवं लग्जरी बस आपको मिल जाएगी, जिससे आप सूरत आ सकते हैं। सूरत सड़क मार्ग द्वारा देश के मुख्य शहरों से जुड़ा हुआ है। यह दिल्ली इंदौर भोपाल मुंबई जैसे शहरों से जुड़ा हुआ है।

 

ट्रेन से सूरत कैसे पहुंचे – How to reach Surat by train

ट्रेन से सूरत आना एक बहुत ही सस्ता माध्यम है। रेल मार्ग द्वारा सूरत मुख्य शहर से जुड़ा हुआ है। यह दिल्ली, मुंबई, भोपाल, इंदौर, लखनऊ, जैसे शहरों से डायरेक्ट ट्रेन द्वारा जुड़ा हुआ है। इसलिए आप यहां पर बहुत आसानी से पहुंच सकते हैं। सूरत एक टेक्सटाइल सिटी भी है। इसलिए यहां पर ट्रेनें से बहुत से लोग देश के विभिन्न सिटी से आते है।

यह भी पढ़े :- चंबा में घूमने की जगह

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है, अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment