सोलन में घूमने की जगह – Top 12 Solan me Ghumne ki Jagah

Solan me Ghumne ki Jagah :- सोलन हिमाचल प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। इस लेख में हम आपको सोलन में घूमने की जगह (Solan me Ghumne ki Jagah), सोलन कैसे पहुंचे, सोलन के प्रमुख धार्मिक स्थल और सोलन के प्रसिद्ध मंदिरों के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

सोलन जिले के बारे में जानकारी – Information about Solan district

सोलन हिमाचल प्रदेश का एक प्रमुख शहर है। सोलन हिमाचल प्रदेश का दूसरा सबसे बड़ा शहर है। सोलन में बहुत सारे पर्यटन आकर्षण मौजूद है। सोलन एक सुंदर शहर है। इस शहर में मशरूम की खेती होती जाती होती है। इसलिए इसे भारत का मशरूम शहर के नाम से जाना जाता है।

यहां पर लाल टमाटर का भी उत्पादन बहुत अधिक मात्रा में होता है। इसलिए इसे लाल सोने का शहर कहा जाता है। यह जगह प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर है। यहां चारों तरफ पहाड़ और प्राकृतिक नजारे देखने के लिए मिल जाते हैं।

सोलन में घूमने के लिए बहुत सारी जगह (Solan me Ghumne ki Jagah) है, जो प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण है। सोलन में बहुत सारे हिल स्टेशन है, जहां पर आप घूमने के लिए जा सकते हैं। सोलन में घूमने के लिए ऐतिहासिक, प्राकृतिक और धार्मिक जगह हैं। यह सभी जगह बहुत सुंदर है। सोलन इन जगहों में आप जाकर घूम सकते हैं और अच्छा समय बिता सकते हैं।

इस ब्लॉग में हमने सोलन में घूमने लायक प्रमुख जगह (Solan me Ghumne ki Jagah), सोलन कैसे पहुंचे, सोलन में कहां रुके, सोलन में क्या क्या फेमस है, सोलन में घूमने का सही समय, सोलन में घूमने का खर्चा, इन सभी की जानकारी दी है। आप इस ब्लॉग को पूरा पढ़े।

 

सोलन में घूमने की जगह – Solan me Ghumne ki Jagah

सोलन के प्रमुख दर्शनीय और पर्यटन स्थलों की सूची – Solan Tourist Places list in Hindi

  1. कसौली सोलन
  2. डगशाई जेल संग्रहालय सोलन
  3. मोहन पार्क सोलन
  4. शूलिनी माता मंदिर सोलन
  5. जाटोली मंदिर सोलन
  6. बरोग सोलन
  7. चैल सोलन
  8. अर्की का किला सोलन
  9. श्री मुटरु महादेव मंदिर सोलन
  10. प्राचीन शिव तांडव गुफा सोलन 
  11. कुदार का किला सोलन
  12. करोल टिब्बा सोलन

 

सोलन के प्रमुख दर्शनीय स्थल – Solan me Ghumne ki Jagah

 

कसौली सोलन – Kasauli Solan

कसौली सोलन का एक मुख्य स्थल है। कसौली सोलन का एक हिल स्टेशन है। यहां पर बहुत सारे दर्शनीय स्थल देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बाबा बालक नाथ मंदिर, शिर्डी साईं बाबा मंदिर, चर्च, प्राचीन स्कूल, क्राइस्ट चर्च, फ्लैग रिट्रीट सेरिमनी पॉइंट, सनसेट पॉइंट, गिलबर्ट नेचर ट्रेल, शिव मंदिर, मंकी पॉइंट, नैना देवी मंदिर, नगरकोटी माता मंदिर और भी बहुत सारे मंदिर आप यहां पर आकर देख सकते हैं।

कसौली सलोन से करीब 30 किलोमीटर दूर है। यहां पर आकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर बहुत सारे होटल है, जहां पर आप जाकर ठहर सकते हैं। यहां चारों तरफ पहाड़ का सुंदर दृश्य देखा जा सकता है। यहां पर आप ट्रैकिंग का मजा ले सकते हैं। यहां पर पहाड़ों के बीच में ट्रेकिंग कर सकते हैं। यहां पर सुंदर पहाड़ी इलाका देखने के लिए मिलता है।

 

डगशाई जेल संग्रहालय सोलन – Dagshai Jail Museum Solan

डगशाई जेल सोलन का एक प्राचीन स्थान है। इस जेल का निर्माण सन 1849 में किया गया था। इस जेल का निर्माण 72875 रुपए की लागत में हुआ था। इस जेल में 54 कक्ष है। रोशनी एवं हवा के लिए यहां पर एक मजबूत खिड़की दी गई है। भूमिगत पाइप लाइन द्वारा अंदर हवा आने की सुविधाएं, जो बाहर की दीवारों में जाकर खुलती है। यह जेल टी आकार की है, जिसमें ऊंची छत और लकड़ी का फर्श है।

इस जेल को इस तरह बनाया गया है, कि अगर कैदी किसी तरह की बातें करें, तो वह चौकसी दस्ते को आसानी से सुनाई दे सके। वर्तमान में यहां पर 11 कक्षाओं में कर्मचारी आवास के रूप में प्रयोग किया जा रहा है। इस जेल ब्रिटिश सरकार के द्वारा बनाई गई थी। यहां पर जेल के बारे में बहुत सारी हिस्ट्री मालूम चलेगी। यह एक हेरिटेज म्यूजियम में बदल दिया गया है। यहां पर प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है।

 

मोहन पार्क सोलन – Mohan Park Solan

मोहन पार्क को मोहन शक्ति नेशनल हेरीटेज पार्क के नाम से भी जाना जाता है। यह एक सुंदर पार्क है। यह पार्क 40 एकड़ के एरिया में फैला हुआ है। इस पार्क में बहुत सुंदर सुंदर स्टैचू देखे जा सकते हैं। यह पार्क सोलन में खूबसूरत वादियों के बीच में बना हुआ है।

यहां पर शिव भगवान जी के स्टेचू देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं। पार्क में चारों तरफ पेड़ पौधे लगे हुए हैं। यह बहुत सुंदर है। यह मुख्य शहर से करीब 10 किलोमीटर दूर होगा।

यहां पर बहुत सारे देवी देवताओं की मूर्तियां बनी हुई है। यहां पर मार्बल की प्रतिमाएं बनाई गई है, जो बहुत सुंदर लगती है। यहां पंचमुखी हनुमान मंदिर बना हुआ है। यह जगह प्रकृति के बीच में स्थित है और यहां पर आपको जरूर आना चाहिए।

 

शूलिनी माता मंदिर सोलन – Shoolini Mata Temple Solan

शूलिनी माता मंदिर सोलन का एक मुख्य मंदिर है। शूलिनी माता मां दुर्गा का ही स्वरूप है। यहां पर शूलिनी माता का मंदिर मुख्य शहर में बना हुआ है। यह सोलन का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। यह मंदिर बहुत सुंदर है और पूरा मंदिर रंग बिरंगा है। इस मंदिर में फेस्टिवल के समय बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे भक्त, यहां पर मां के दर्शन करने के लिए आते हैं।

मंदिर के बाहर, बहुत सारे प्रसाद की दुकानें देखने के लिए मिलती है। नवरात्रि में यहां पर बहुत भीड़ लगती है। बहुत सारे भक्त माता के दर्शन करते हैं। यह मंदिर मुख्य शहर में स्थित है। यहां पर आप आराम से पहुंच सकते हैं। यह सलोन बस स्टैंड और रेलवे स्टेशन के काफी करीब है।

 

जाटोली मंदिर सोलन – Jatoli Temple Solan

जाटोली मंदिर सोलन का एक प्रमुख मंदिर है। जाटोली मंदिर सोलन शहर के पास में स्थित है। यह मंदिर में सबसे ऊंचाई पर बना हुआ मंदिर है। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। यह मंदिर सोलन से 8 किलोमीटर दूर, सोलन रायगढ़ रोड पर बना हुआ है। इस मंदिर का कंस्ट्रक्शन 1974 में शुरू किया गया था। इस मंदिर को स्वामी परमहंस संस्थान के द्वारा बनाया गया है। यह मंदिर बहुत सुंदर है।

यहां पर गर्भगृह में स्फटिक शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर एक पवित्र जल कुंड बना हुआ है। यह जलकुंड स्वामी जी ने अपने तपोबल से प्रकट किया था। यह जलकुंड  मनवांछित फल प्रदान करने वाला है। यहां पर आकर अच्छा लगता है और यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। यह मंदिर बहुत ही अद्भुत लगता है। इस जैसा मंदिर एकमात्र है। यहां पर बहुत सारी देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलेंगे।

 

बरोग सोलन – Barog Solan

बरोग सोलन का एक मुख्य स्थान है। बरोग सोलन जिले से करीब 560 मीटर की ऊंचाई पर स्थित है। यह घूमने के लिए सबसे अच्छी जगह है। यहां पर आप ट्रैकिंग और कैंपिंग का आनंद ले सकते हैं।

 

चैल सोलन – Chail solan

चैल सोलन का एक प्रमुख हिल स्टेशन है। चायल में बहुत सारी पर्यटन स्थल है जहां पर घुमा जा सकता है। चैल के आसपास घूमने के लिए काली का डिब्बा मंदिर, सिद्ध बाबा का मंदिर, गुरुद्वारा साहिब, लवर्स हिल पॉइंट, वाइल्ड लाइफ सेंचुरी और भी बहुत सारी जगह है ,जहां पर आप घूम सकते हैं।

यह जगह देवदार के वृक्षों से घिरी हुई है। यहां पर पहाड़ी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर चैल वन्य जीव अभ्यारण बना हुआ है, जहां पर बहुत सारे पशु पक्षी देखे जा सकते हैं। यह जगह दुनिया के सबसे ऊंचे क्रिकेट स्टेडियम के लिए प्रसिद्ध है। यहां पर क्रिकेट ग्राउंड बना हुआ है, जो विश्व का सबसे ऊंचा क्रिकेट ग्राउंड है।

इसकी ऊंचाई समुद्र तल से 2444 मीटर है। इसका निर्माण 1883 में महाराजा पटियाला के द्वारा किया गया था। यहां पर चैल पैलेस बना है, जिसकी वास्तुकला बहुत सुंदर है। यह ब्रिटिश राज के दौरान पटियाला के महाराज के द्वारा बनाया गया था। उन्होंने इसे ग्रीष्मकालीन आवास के रूप में बनाया था। यह सोलन से 38 किलोमीटर दूर है।

 

अर्की का किला सोलन – Arki Fort Solan

अर्की का किला सोलन का एक मुख्य ऐतिहासिक स्थान है। यहां पर प्राचीन किला बना है। इस किले को अब हेरिटेज होटल में बदल दिया गया है। यहां पर आप आकर ठहर सकते हैं। यह किला बहुत सुंदर है। यह किला सोलन की अर्की तहसील में बना हुआ है।

इस किले का निर्माण राणा पृथ्वी सिंह द्वारा किया गया था। इस किले की दीवारों में सुंदर पेंटिंग की गई है। यहां पर कांगड़ा पेंटिंग की गई है, जो बहुत ही आकर्षक लगती है।

 

श्री मुटरु महादेव मंदिर सोलन – Sri Muttaru Mahadev Temple Solan

श्री मुटरु महादेव मंदिर सोलन का एक प्रमुख धार्मिक स्थल है। यह मंदिर सोलन जिले में अर्की तहसील में बना हुआ है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। कहा जाता है, कि यहां पर शिवजी ने एक गुफा में बहुत लंबे समय तक साधना की थी। यहां पर पहाड़ों के बीच में गुफा देखने के लिए मिलती है, जो बहुत सुंदर है और गर्भ ग्रह में शिवलिंग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

 

प्राचीन शिव तांडव गुफा सोलन – Ancient Shiva Tandav Cave Solan

प्राचीन शिव तांडव गुफा सोलन का एक धार्मिक स्थल है। यह गुफा सोलन के कुनिहार में स्थित है। यह गुफा कुनिहार से करीब 1 किलोमीटर दूर है। यहां पर प्राकृतिक गुफा देखने के लिए मिलती है। इस गुफा के अंदर शिवलिंग विराजमान है, जो प्राकृतिक रूप से बने हुए हैं।

यहां चारों तरफ जंगल का दृश्य है। यह गुफा मुख्य सड़क से थोड़ी ही दूरी पर स्थित है। गुफा तक जाने के लिए सड़क मार्ग बना हुआ है। यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं।

 

कुदार का किला सोलन – Kudar Fort Solan

कुदार का किला सोलन का एक प्रमुख पर्यटन स्थल (Solan me Ghumne ki Jagah) है। यह किला 800 साल पुराना है। इस किले में सुंदर पेंटिंग देखने के लिए मिलती है, जो बहुत ही आकर्षक लगती है। इस किले की वास्तुकला बहुत सुंदर है। इस जगह की जानकारी ज्यादा लोगों को नहीं है। इसलिए यहां पर पर्यटक ज्यादा नहीं रहते हैं।

इस किले में प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। यह किला सुबह 8 बजे से शाम के 6 बजे तक खुला रहता है। इस किले के आसपास प्राकृतिक दृश्य देखा जा सकता है।

 

करोल टिब्बा सोलन – Karol Tibba Solan

करोल टिब्बा सोलन का एक मुख्य स्थान (Solan me Ghumne ki Jagah) है। यह जगह सोलन के पास में ही स्थित है। यहां पर आप आकर ट्रैकिंग का मजा ले सकते हैं। यह देवदार के वृक्षों से घिरी हुई है। यहां पर प्राकृतिक नजारा देखा जा सकता है। करोल तिब्बा पॉइंट पर पहुंचने के लिए पैदल चलना पड़ता है। यहां पर प्राचीन और धार्मिक स्थल देखने के लिए मिलते हैं।

यह भी पढ़े :- चंबा में घूमने की जगह

सोलन में रुकने की जगह – Places to stay in Solan

सोलन में ठहरने की जगह बहुत सारी जगह है। यहां पर बहुत सारे होटल और लॉज की व्यवस्था मिल जाती है, जहां पर आप अपनी सुविधा के अनुसार ठहर सकता है। यहां पर आप अपने बजट को देखकर ठहर सकते हैं। यहां पर बहुत सारे होटल के ऑप्शन आपको मिल जाते हैं।

यह भी पढ़े :- हमीरपुर में घूमने की जगह

सोलन में घूमने का सही समय – Best time to visit in Solan

सोलन में साल में कभी भी यात्रा कर सकते हैं। यहां का मौसम हमेशा बहुत अच्छा रहता है। आप यहां पर गर्मी के समय छुट्टी मनाने के लिए जा सकते हैं। मार्च से नवंबर तक का महीना यहां जाने के लिए सबसे अच्छा है, क्योंकि इस मौसम के दौरान सोलन का वातावरण काफी अच्छा रहता है।

यह भी पढ़े :- कांगड़ा में घूमने की जगह

सोलन कैसे पहुंचे – How to reach Solan

सोलन हिमाचल प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। सोलन जिले में हर साल पर्यटक घूमने के लिए आते हैं। सोलन जिले में आसानी से पहुंच सकते हैं। सोलन पहुंचने लिए परिवहन के साधन उपलब्ध है। सोलन पहुंचने के लिए रेल मार्ग, हवाई मार्ग और सड़क मार्ग उपलब्ध है। अगर आप सोलन जाना चाहते हैं, तो इसके लिए आप इन तीनों माध्यम से आराम से सोलन आ सकते हैं।

 

रेल मार्ग से सोलन कैसे पहुंचे – How to reach Solan by rail

रेल मार्ग सोलन में पहुंचने का सबसे अच्छा माध्यम है।  सोलन का सबसे नजदीकी रेलवे स्टेशन कालका है। कालका सोलन से करीब 40 किलोमीटर दूर है। आप कालका पहुंचकर सोलन सड़क के माध्यम से जा सकते हैं।

 

वायु मार्ग से सोलन कैसे पहुंचे – How to reach Solan by air

सोलन में हवाई मार्ग से पहुंचा जा सकता है। सोलन का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा शिमला हवाई अड्डा है। सोलन से करीब 45 किलोमीटर दूर है। आप शिमला पहुंच कर सड़क माध्यम से सोलन पहुंच सकते हैं।

 

सड़क मार्ग से सोलन कैसे पहुंचे – How to reach Solan by road

सोलन जाने के लिए सड़क मार्ग से आराम से पहुंचा जा सकता है। सोलन सड़क मार्ग से दिल्ली और चंडीगढ़ जैसे प्रमुख शहरों से अच्छी तरह जुड़ा हुआ है। यहां पर आने के लिए बस की सुविधा उपलब्ध है। आप यहां पर लोकल और सरकारी बसों द्वारा पहुंच सकते हैं। यहां पर आप पर्सनल वाहन के द्वारा आ सकते हैं। सोलन चंडीगढ़ से करीब 2 घंटे दूर है और दिल्ली से करीब 6 घंटे दूर है।

यह भी पढ़े :- मंडी में घूमने की जगह

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है, अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

 

Leave a Comment