सिंगरौली में घूमने की 11 जगह – Top 11 Singrauli Tourist Places in Hindi

Singrauli Tourist Places in Hindi :- सिंगरौली मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध जिला है। इस लेख में हम आपको सिंगरौली में घूमने की जगह, सिंगरौली कैसे पहुंचे, सिंगरौली के प्रसिद्ध मंदिर और धार्मिक स्थलों के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

सिंगरौली जिले के बारे में जानकारी – Information about Singrauli district

सिंगरौली मध्य प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। सिंगरौली जिला वन संपदा एवं खनिज से संपन्न है। सिंगरौली जिले को ऊर्जाचंल के नाम से जाना जाता है, क्योंकि इस जिले में बहुत अधिक मात्रा में खनिज पाया जाता है। यहां पर बहुत सारी कोयले की खदान है। सिंगरौली में अनपरा थर्मल फ्लावर स्टेशन है, जिसमें दो यूनिट 500 मेगावाट की लगी हुई है।

सिंगरौली अपने प्राकृतिक सौंदर्य के लिए प्रसिद्ध है।  यह जिला जंगलों और पहाड़ों से घिरा हुआ है और बहुत सुंदर है। सीधी जिला में बहने वाली प्रमुख नदियों में मायर और रिहन्द नदी है। यहां पर और भी बहुत सारी नदियां बहती हैं। सिंगरौली जिले में बहुत सारे पर्यटन और दर्शनीय स्थल है। यह सभी बहुत खूबसूरत है।

सिंगरौली जिला मध्य प्रदेश के पूर्वी भाग में स्थित है। सिंगरौली जिला पहले सीधी जिले का एक हिस्सा हुआ करता था। सिंगरौली जिले को 2008 में सीधी जिले से अलग करके एक नए जिले के रूप में स्थापित किया गया।

सिंगरौली जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है, जहां पर जाकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। सिंगरौली जिले में घूमने के लिए ऐतिहासिक, प्राकृतिक और धार्मिक जगह हैं, जो बहुत सुंदर है। सिंगरौली की इन जगहों में आप अपनी फैमिली और परिवार वालों के साथ जा सकते हैं। यहां पर जाकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं।

इस लेख में हम आपको सिंगरौली में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है। उन सभी जगह के बारे में जानकारी देंगे। अगर आप सिंगरौली के पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थलों (Singrauli Tourist Places) के बारे में जानना चाहते हैं, तो आप इस ब्लॉग को पूरा पढ़े। ताकि अगर आप सिंगरौली जाए, तो आपको सिंगरौली के पर्यटन और दर्शनीय स्थलों (Singrauli Tourist Places) के बारे में जानकारी हो और आप इन सभी जगह में जाकर घूम सके।

 

सिंगरौली में घूमने की जगह – Singrauli Tourist Places

सिंगरौली के पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थल की सूची – Singrauli Tourist Places list in Hindi

  1. गोविंद बल्लभ पंत सागर बांध सिंगरौली
  2. वन देवी मंदिर सिंगरौली
  3. श्री रेणुकेश्वर महादेव मंदिर सिंगरौली
  4. संजय नेशनल पार्क सिंगरौली
  5. दुर्घट मंदिर सिंगरौली
  6. मांडा की गुफाएं सिंगरौली
  7. इको एडवेंचर पार्क सिंगरौली
  8. विंध्यनगर झील पार्क सिंगरौली
  9. बिजुल बांध सिंगरौली
  10. मुड़वानी डैम इको पार्क सिंगरौली
  11. काचन बांध सिंगरौली

 

सिंगरौली में घूमने लायक जगह – Singrauli Tourist Places

 

गोविंद बल्लभ पंत सागर बांध सिंगरौली – Govind Ballabh Pant Sagar Dam Singrauli

गोविंद बल्लभ पंत सागर बांध भारत का सबसे बड़ा बांध में से एक है। यह बांध क्षेत्रफल और भराव की दृष्टि से सबसे बड़ा बांध है। इस बांध को रिहंद बांध के नाम से भी जाना जाता है। यह बांध रिहंद नदी पर बना हुआ है। यह ग्रेविटी बांध है। यह बांध सिंगरौली के पास सोनभद्र जिले में रेणुकूट में स्थित है।

रिहंद बांध बहुत ही सुंदर तरीके से बना हुआ है। बांध का जब पानी ओवरफ्लो होकर बहता है। तब इसका दृश्य देखने लायक रहता है। यहां पर चारों तरफ जंगल का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर 300 मेगावाट बिजली का उत्पादन किया जाता है। आप यहां पर बरसात में घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

वन देवी मंदिर सिंगरौली – Van Devi Temple Singrauli

वनदेवी मंदिर सिंगरौली में रिहंद बांध के पास में बना हुआ है। यह मंदिर रिहंद बांध ब्रिज के पास में बना हुआ है। यह मंदिर वन देवी को समर्पित है। वन देवी का अर्थ होता है – जंगल की देवी। यह मंदिर बहुत सुंदर है। मंदिर के गर्भगृह में दुर्गा माता की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।

यह मंदिर ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर के चारों तरफ हरियाली है। यहां पर बरसात के समय आप आएंगे, तो आपको और भी अधिक आनंद आएगा।

 

श्री रेणुकेश्वर महादेव मंदिर सिंगरौली – Shri Renukeshwar Mahadev Temple Singrauli

श्री रेणुकेश्वर महादेव मंदिर सिंगरौली का एक प्रमुख मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर बिरला फाउंडेशन के द्वारा बनाया गया है। यह मंदिर सिंगरौली के पास,  रेणुकूट सिटी में बनाया गया है। मंदिर की बाहरी दीवारों पर बहुत सुंदर नक्काशी की गई है।

मंदिर के गर्भगृह में शिवलिंग विराजमान है। मंदिर के सामने एक छोटे से मंडप में नंदी भगवान जी की पत्थर की बनी हुई सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।मंदिर के बाहर बहुत बड़ा गार्डन बना हुआ है, जिसमें और भी बहुत सारी प्रतिमाएं देखने के लिए मिलती है। मंदिर परिसर के गार्डन में फव्वारा भी बनाया गया है। इस मंदिर में आकर बहुत ही अच्छा अनुभव होता है। शाम के समय यहां पर लाइट जलती है, जिससे मंदिर और भी ज्यादा खूबसूरत लगता है।

 

संजय नेशनल पार्क सिंगरौली – Sanjay National Park Singrauli

संजय नेशनल पार्क सिंगरौली का एक मुख्य स्थान है। यह पार्क  सिंगरौली और सीधी जिले में फैला हुआ है। इस पार्क में आप सफारी का मजा ले सकते हैं। यहां पर बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बाघ देखने के लिए मिलता है। यहां पर घना जंगल, घास का मैदान, नदियां और पहाड़ देखने के लिए मिलते हैं।

 

दुर्घट मंदिर सिंगरौली – Durghat Temple Singrauli

दुर्घट मंदिर सिंगरौली का एक फेमस धार्मिक स्थल है। यह मंदिर दुर्गा जी को समर्पित है। यह मंदिर घने जंगल के अंदर बना हुआ है। यह मंदिर पहाड़ी के ऊपर बना हुआ है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर एक सुंदर जलप्रपात भी बहता है। बरसात में यह जगह बहुत खूबसूरत लगती है। यह मंदिर सिंगरौली में गीधेरी में स्थित है।

 

मांडा की गुफाएं सिंगरौली – Manda Caves Singrauli

मांडा की गुफाएं सिंगरौली का एक प्रमुख स्थान है। यह गुफाएं प्राचीन है। यह गुफाएं सातवीं और आठवीं शताब्दी के पूर्व की है। यहां पर बहुत सारी गुफाएं हैं। इन गुफाओं को विवाह मांडा, गणेश मांडा, और जलजलिया मांडा के नाम से जाना जाता है। यह गुफाएँ सिंगरौली जिले के मारा तहसील में स्थित है। यह गुफाएँ सिंगरौली वन क्षेत्र के अंतर्गत आती हैं। इन गुफाओं में सबसे फेमस गुफा जलजलिया गुफा है।

जलजलिया गुफा में बहुत सारी गुफाएं देखने के लिए मिलती है। इस गुफा में केकड़ी की आकृति बनी हुई है। कुछ विद्वान इसे नागिन की प्रतिमा मानते हैं। इस गुफा में एक जलधारा बहती है, जिसके स्त्रोत का पता नहीं है। गुफा नंबर दो स्तंभ पर आधारित एक मंडप बनाया गया है। इस गुफा का निर्माण सातवीं और आठवीं शताब्दी माना जाता है।

 

इको एडवेंचर पार्क सिंगरौली – Eco Adventure Park Singrauli

इको एडवेंचर पार्क सिंगरौली का एक प्रमुख स्थान है। इस पार्क में बहुत सारे एडवेंचर स्पोर्ट्स खेले जाते हैं, जिनका मजा आप ले सकते हैं। यह पार्क सिंगरौली वन क्षेत्र के अंतर्गत आता है। यहां पर जिपलाइन, मंकी जंपिंग और भी एडवेंचर खेल होते हैं। यहां पर एक बड़ा तालाब भी है। यहां पर चारों तरफ घना जंगल है। यह सिंगरौली के माडा तहसील में स्थित है।

 

विंध्यनगर झील पार्क सिंगरौली – Vindhyanagar Lake Park Singrauli

विंध्यनगर झील पार्क सिंगरौली का एक मुख्य पार्क है। यह पार्क बहुत सुंदर है और बहुत बड़ा है। यह पार्क एनटीपीसी द्वारा मैनेज किया जाता है। यह पार्क विंध्य नगर टाउनशिप में स्थित है। यहां पर बहुत सारे जानवर की मूर्तियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर एक मानव निर्मित झील बनी हुई है, जिसमें वोटिंग की सुविधा उपलब्ध है। यहां पर बहुत सारी बदक देखने के लिए मिल जाती है।

यहां पर बच्चों के लिए झूले लगाए गए हैं। पार्क के अंदर मंदिर बना हुआ है। पार्क में शिव मंदिर और गायत्री मंदिर बना हुआ है। यह पार्क बहुत बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। इस पार्क में रोज गार्डन भी है। यहां पर बहुत सारे फास्ट फूड के ठेले लगते हैं, जहां पर तरह तरह का खाना मिलता है।

 

बिजुल बांध सिंगरौली – Bijul Dam Singrauli

बिजुल बांध सिंगरौली में चितरोली मार्ग पर स्थित है। यह बांध बहुत सुंदर है और बहुत ही आकर्षक लगता है। बरसात के समय बांध में जब पूरा पानी भर जाता है, तो पानी ओवरफ्लो होकर बहता है, जिसका दृश्य बहुत सुंदर रहता है। यहां पर बहुत सारे लोग नहाने का मजा भी लेते हैं।

 

मुड़वानी डैम इको पार्क सिंगरौली – Mudwani Dam Eco Park Singrauli

मुड़वानी डैम इको पार्क सिंगरौली का एक प्रमुख स्थान है। यह पार्क कोल इंडिया एनसीएल के द्वारा बनाया गया है। यह पार्क बहुत सुंदर है और बहुत बड़ा है। यहां पर आपको मुड़वानी डैम देखने के लिए मिलता है। यहां पर डैम के किनारे बैठने के लिए बनाया गया है, जहां पर बैठकर डैम का सुंदर दृश्य देखा जा सकता है।

यहां पर एंट्री के लिए टिकट लगता है। यहां पर आप बोट राइड कर सकते हैं। यहां चारों तरफ प्राकृतिक दृश्य देखने मिलता है। यहां पर पहाड़ियां हैं और पेड़ पौधे लगे हुए हैं। यह घूमने के लिए एक परफेक्ट जगह है।

 

काचन बांध सिंगरौली – Kachan Dam Singrauli

काचन बांध सिंगरौली के पास घूमने का एक मुख्य स्थान है। यह बांध बहुत बड़ा है। यह बांध चारों तरफ पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां पर आकर प्राकृतिक दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर आप बाइक और कार से पहुंच सकते हैं। यह जगह बरसात में और भी ज्यादा खूबसूरत हो जाती है, क्योंकि बरसात में चारों तरफ हरियाली रहती है।

यह भी पढ़े :- विदिशा जिले के पर्यटन स्थल

सिंगरौली में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Singrauli

सिंगरौली में घूमने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। आप यहां पर ठंड में आकर सिंगरौली की सभी जगह की सैर कर सकते हैं। सिंगरौली में बहुत सारे पर्यटन स्थल हैं, जहां पर जाकर आप घूम सकते हैं।

ठंड का मौसम बहुत ही बढ़िया रहता है। आप यहां पर ठंड में आकर आराम से घूम सकते हैं। सिंगरौली में आप अपनी इच्छा अनुसार कभी भी आ सकते हैं। आप यहां पर गर्मी में भी आ सकते हैं। मगर गर्मी में तापमान बहुत ज्यादा रहता है, जिससे घूमने में दिक्कत होती है।

यह भी पढ़े :- गुना जिले के दर्शनीय स्थल

सिंगरौली कैसे पहुंचे – How to reach Singrauli

सिंगरौली मध्य प्रदेश का एक प्रमुख जिला है। सिंगरौली मध्य प्रदेश के अन्य जिलों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। सिंगरौली में आप आसानी से आ सकते हैं। सिंगरौली में आने के लिए रेल मार्ग, सड़क मार्ग और वायु मार्ग की सेवा उपलब्ध है। चलिए जानते हैं सिंगरौली कैसे पहुंचे

 

वायु मार्ग से सिंगरौली कैसे पहुंचे – How to reach Singrauli by air

सिंगरौली पहुंचना आसान है। सिंगरौली का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा वाराणसी में बना हुआ है। वाराणसी सिंगरौली से करीब 230 किलोमीटर दूर है। आप वाराणसी में वायु मार्ग से आ सकते हैं और उसके बाद सिंगरौली में सड़क मार्ग से आ सकते हैं।

 

सिंगरौली में रेल मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे – How to reach Singrauli by train

सिंगरौली में रेल मार्ग से आसानी से आ सकते हैं। सिंगरौली में रेलवे स्टेशन बना हुआ है। यह रेलवे स्टेशन अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। इस रेलवे स्टेशन में प्रमुख शहरों से डायरेक्ट ट्रेन आती है। आप यहां पर आराम से आ सकते हैं। सिंगरौली में मुख्य सिंगरौली शहर और शक्तिनगर में रेलवे स्टेशन बना हुआ है।

 

सिंगरौली में सड़क मार्ग से कैसे पहुंचे – How to reach Singrauli by train

सिंगरौली में सड़क मार्ग से पहुंचना आसान है। सिंगरौली में हाईवे रोड गुजरती है, जिसके द्वारा आप यहां पर आराम से आ सकते हैं। सिंगरौली में आप बस के द्वारा पहुंच सकते हैं। सिंगरौली में आप बस के द्वारा प्रमुख शहरों जैसे सीधी, वाराणसी, सोनभद्र, मिर्जापुर, अंबिकापुर, रीवा, सतना जैसे शहरों से आ सकते हैं। सीधी जिले में आप अपने वाहन से भी आ सकते हैं।

यह भी पढ़े :- रतलाम जिले के पर्यटन स्थल

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है, अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment