पचमढ़ी हिल स्टेशन की जानकारी – Attractive Pachmarhi Hill Station

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) भारत के सबसे सुंदर हिल स्टेशनों में से एक है। पचमढ़ी हिल स्टेशन भारत के मध्य प्रदेश राज्य में स्थित है। पचमढ़ी मध्य प्रदेश का एक प्रमुख हिल स्टेशन है। पचमढ़ी सतपुड़ा के पहाड़ियों से घिरा है। पचमढ़ी को सतपुड़ा की रानी कहा जाता है। आज इस ब्लॉग में पचमढ़ी के बारे में संपूर्ण जानकारी नहीं मिलेगी, कि पचमढ़ी यात्रा आप कैसे कर सकते हैं। पचमढ़ी यात्रा बहुत ही सुखद होती है।

Table of Contents

पचमढ़ी पचमढ़ी हिल स्टेशन यात्रा की पूरी जानकारी – Pachmarhi Hill Station Yatra ki Jankari

पचमढ़ी क्यों प्रसिद्ध है – Why is Pachmarhi famous

पचमढ़ी एक हिल स्टेशन है। पचमढ़ी मध्य प्रदेश का एकलौता हिल स्टेशन है। पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) को सतपुड़ा की रानी (Queen of Satpura) भी कहा जाता है।यहां पर आपको देखने के लिए बहुत सारी जगह मिल जाती है। पचमढ़ी में आपको पहाड़, वन्य जीव, झरने, मंदिर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर चारों तरफ हरियाली रहती है।

 

पचमढ़ी कहां स्थित है – Where is Pachmarhi located

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) मध्य प्रदेश के होशंगाबाद जिले में स्थित है। पचमढ़ी मध्य प्रदेश का एक हिल स्टेशन है। पचमढ़ी सतपुड़ा पहाड़ियों के बीच में स्थित है। इसलिए पचमढ़ी को सतपुड़ा की रानी कहते हैं। पचमढ़ी में पहुंचने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है। पचमढ़ी में पहुंचकर बहुत अच्छा लगता है। आपको चारों तरफ यहां पर हरियाली देखने के लिए मिलती है।

 

पचमढ़ी में कैसे पहुंचा जा सकता है – How to reach Pachmarhi

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) में पहुंचने के लिए सड़क माध्यम उपलब्ध है। पचमढ़ी में पहुंचने के लिए सबसे पहले आपको पिपरिया रेलवे स्टेशन आना पड़ता है। पिपरिया रेलवे स्टेशन के बाहर बस स्टैंड है। बस स्टैंड में आपको पचमढ़ी आने के लिए बस मिल जाती है। आपको पिपरिया रेलवे स्टेशन के बाहर टैक्सी और जीप भी मिल जाती है। जिससे आप पचमढ़ी में आने के लिए बुक कर सकते हैं। जीप और बस का प्राइस अलग अलग रहता है। वैसे बस में आने में आपका ज्यादा फायदा रहेगा।

 

पचमढ़ी की अन्य शहरों से दूरी – Distance of Pachmarhi from other cities

 

भोपाल से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

भोपाल से पचमढ़ी की 200 KM कितनी है।

 

पिपरिया से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

पिपरिया से पचमढ़ी की दूरी 54 KM है।

 

होशंगाबाद से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

होशंगाबाद से पचमढ़ी की दूरी 119 KM है।

 

जबलपुर से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

जबलपुर से पचमढ़ी की दूरी 262 KM है।

 

इंदौर से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

इंदौर से पचमढ़ी की दूरी 403 कि.मी है।

 

उज्जैन से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

उज्जैन से पचमढ़ी की दूरी 300 कि.मी है।

 

इटारसी से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

इटारसी से पचमढ़ी की दूरी 122 कि.मी है।

 

सागर से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

सागर से पचमढ़ी की दूरी 223 कि.मी है।

 

छिंदवाड़ा से पचमढ़ी की दूरी कितनी है

छिंदवाड़ा से पचमढ़ी की दूरी 137 कि.मी है।

 

पचमढ़ी हिल स्टेशन में घूमने का सही समय – Best time to visit in Pachmarhi Hill Station

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) में घूमने का सबसे अच्छा समय बरसात है। बरसात में नाग पंचमी पड़ती है और नाग पंचमी के समय यहां पर विशाल मेला लगता है, जिसमें आप यहां पर जंगल के बीच जाकर घूम सकते हैं। आप यहां पर जंगल के बीच जाकर ट्रैकिंग कर सकते हैं और ट्रैकिंग काअनुभव ले सकते हैं।

जंगल के बीच आपको हरियाली देखने के लिए मिलती है। जंगल के बीच आपको ऐसी-ऐसी चट्टानें देखने के लिए मिलती है, जो आपने कहीं नहीं देखा होगा, इसलिए मेरे हिसाब से तो आप यहां पर बरसात के समय आए और पचमढ़ी की सैर करें।

 

पचमढ़ी हिल स्टेशन कब जाना चाहिए – When should one go to Pachmarhi Hill Station

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) बरसात के समय और ठंड के समय आप जा सकते हैं। पचमढ़ी में बरसात और ठंड का मौसम बहुत ही बेहतर होता है और कड़ाके की ठंड रहती है। पचमढ़ी में वैसे पूरे साल भर पर्यटक आते हैं। मगर बरसात और ठंड में पर्यटक की पर्यटकों की संख्या बहुत ज्यादा रहती है।

 

पचमढ़ी हिल स्टेशन के दर्शनीय स्थल – Places to visit in Pachmarhi Hill Station

  • जटाशंकर मंदिर
  • बड़ा महादेव मंदिर
  • गुप्त महादेव मंदिर
  • चैरागढ़
  • सिल्वर फॉल
  • बी फॉल
  • पांडव गुफा और उद्यान
  • हांडी खो
  • राजेंद्र गिरी
  • डचेस फॉल
  • अंबा माई मंदिर
  • बेगम पैलेस
  • प्रियदर्शनी प्वाइंट
  • अप्सरा विहार फॉल
  • सिल्वर फॉल
  • रीछगढ़
  • रमिया कुंड
  • प्रियदर्शनी पॉइंट
  • काल भैरव गुफा
  • नागद्वार
  • बायसन लॉज म्यूजियम
  • छोटा महादेव पचमढ़ी

यह भी पढ़े :- डमरू घाटी नरसिंहपुर

पचमढ़ी हिल स्टेशन में ठहरने के लिए धर्मशाला एवं होटल – Dharamshala and hotels to stay in Pachmarhi hill station

पचमढ़ी एक हिल स्टेशन है और प्रतिवर्ष पचमढ़ी में लाखों की संख्या में पर्यटक आते हैं। यहां पर ठहरने के लिए बहुत सारे प्रबंध है। यहां पर बहुत सारे होटल है, जहां पर आप रह सकते हैं। होटलों का जो किराया रहता है। वह 500 से शुरू होता है। आप अपनी सुविधा के अनुसार होटल बुक करा सकते हैं।

इसके अलावा अगर आपका बजट कम है, तो आप यहां पर धर्मशाला में ठहर सकते हैं। धर्मशाला में आपको 500 से कम पैसे में ठहरने की व्यवस्था हो जाती है। धर्मशाला में फैसिलिटी कम रहती है। मगर आप यहां पर रह सकते हैं।

यह भी पढ़े :- सेठानी घाट मध्य प्रदेश

पचमढ़ी हिल स्टेशन में घूमने कब आए या पचमढ़ी में घूमने का सबसे अच्छा समय – When to visit Pachmarhi Hill Station or best time to visit Pachmarhi

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) में वैसे आप पूरे साल घूमने के लिए आ सकते हैं। मगर मुझे पचमढ़ी आने का सबसे अच्छा समय बरसात का लगता है, क्योंकि बरसात के समय यहां पर एक अलग ही माहौल रहता है। चारों तरफ आपको पानी के झरने देखने के लिए मिलते हैं। पहाड़ों से बहते हुए झरने, जो बहुत ही आकर्षक लगते हैं और यहां पर बरसात के टाइम बादल जो रहते हैं।

वह पहाड़ों से गुजरते हैं। ऐसा लगता है कि जैसे बादल अपने बहुत करीब है। बरसात के समय यहां बहुत अच्छा मौसम रहता है। तो मेरे हिसाब से यहां बरसात में आना अच्छा समय है। बाकी पचमढ़ी आप घूमने के लिए साल में कभी भी आ सकते हैं। यहां पर हमेशा मौसम बहुत अच्छा रहता है और बहुत मजा आता है।

यह भी पढ़े :- चंद्रप्रभाव वन्यजीव अभयारण्य चंदौली

पचमढ़ी का मेला – Pachmarhi ka Mela

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) में बहुत सारे मंदिर है। पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) में आपको शिव मंदिर देखने के लिए मिलता है। पचमढ़ी में शिवरात्रि के समय बहुत बड़े मेले का आयोजन होता है। यहां पर बहुत दूर-दूर से पर्यटक मेले में घूमने के लिए आते हैं और यह मेला करीब 7 दिनों तक चलता है।

इसके अलावा पचमढ़ी में नाग पंचमी के समय में भी बहुत बड़े मेले का आयोजन होता है। यह मेला यहां पर 10 दिन के लिए चलता है और आप नाग पंचमी के समय पचमढ़ी के जंगल के अंदर स्थित नागद्वार में घूमने के लिए जा सकते हैं। यहां पर लाखों की संख्या में भक्त आते हैं और यहां पर खूब बड़े मेले का आयोजन होता है।

यह भी पढ़े :- नरसिंहगढ़ वन्यजीव अभयारण्य

पिपरिया से पचमढ़ी कैसे पहुंचे – How to reach Pachmarhi from Pipariya

पिपरिया से पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) पहुंचने के लिए बस की सेवा उपलब्ध है। आप भारत या मध्य प्रदेश के जिलों से रेल माध्यम से पिपरिया आ सकते हैं। पिपरिया से पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) जाने के लिए बस की सेवा उपलब्ध है। पिपरिया से पचमढ़ी जाने के लिए करीब 2 घंटा लगता है। यह रास्ता बहुत ही खूबसूरत रहता है। पिपरिया रेलवे स्टेशन के बाहर आपको बस स्टॉप देखने के लिए मिल जाएगा, जहां पर आपको बस मिल जाती है। यह बस आपको पचमढ़ी बस स्टॉप तक छोड़ देती है।

 

पचमढ़ी जाने का रास्ता – Route to Pachmarhi

पचमढ़ी हिल स्टेशन (Pachmarhi Hill Station) पहुंचने का एक ही माध्यम है, और वह है सड़क। आप सड़क माध्यम द्वारा पचमढ़ी में पहुंच सकते हैं। यह रास्ता बहुत ही सुंदर रहता है। रास्ते में आपको देनवा नदी का दृश्य भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर ऊंची नीची घटिया, सर्पाकार सड़कें इतनी मस्त लगती हैं, कि आप यहां की खूबसूरती में खो जाते हैं। यहां पर रास्ते में आम के पेड़ बहुत सारे हैं।

आप अगर गर्मी में जाते हैं, तो आम खाते हुए जरूर जाएंगे। मगर इन रास्तों में आपको आराम से चलने की जरूरत रहती है, क्योंकि यह जो रास्ता है। वह टाइगर रिजर्व का रास्ता है, तो यहां पर हर जगह आपको हॉर्न बजाकर चलना पड़ता है। यहां पर जंगली जानवर घूमते रहते हैं। इसलिए आपको संभल कर चलने की जरूरत रहती है।

यह भी पढ़े :- शहीद चंद्रशेखर आजाद पार्क प्रयागराज

 

FAQ

 

पचमढ़ी में गुफाएं हैं

पचमढ़ी शहर में पांडव गुफाएं हैं, जो बहुत प्रसिद्ध है। पांडव गुफाओं के बारे में कहा जाता है, कि यहां पर प्राचीन समय में पांच पांडव आए थे और उन्होंने यहां पर निवास किया था।

 

पचमढ़ी की खोज किसने की

पंचमढ़ी की खोज कैप्टन जेम्स फोर्सिथे ने की थी।

 

पचमढ़ी में कितनी गुफाएं हैं

पचमढ़ी मुख्य शहर में एक गुफा है।

 

 

Leave a Comment