जबलपुर जिले के 39 दर्शनीय और पर्यटन स्थल – Top 39 Jabalpur me Ghumne ki Jagah

Jabalpur me Ghumne ki Jagah :- जबलपुर मध्य प्रदेश का प्रमुख जिला है। इस लेख में हम आपको जबलपुर में घूमने के प्रमुख स्थान (Jabalpur me Ghumne ki Jagah), जबलपुर के धार्मिक स्थान, जबलपुर कैसे पहुंचे, जबलपुर के प्रसिद्ध मंदिर के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

जबलपुर जिले के बारे में जानकारी – Information about Jabalpur district

जबलपुर मध्य प्रदेश का एक मुख्य जिला है। जबलपुर जिला को प्राचीन समय में जबाली पुरम कहा जाता था। यहां पर प्राचीन समय में जबाली नाम के महान ऋषि रहा करते थे और यह जबाली ऋषि की तपो भूमि हुआ करते थे। इसलिए इस शहर को जबाली के नाम से जाना जाता था। जबलपुर जिले का नाम जबाली ऋषि के नाम पर रखा गया है। धीरे-धीरे जबली नाम बदल कर जबलपुर नाम पड़ गया।

जबलपुर जिले को संस्कारधानी भी कहा जाता है। जबलपुर जिले में नर्मदा नदी बहती है। नर्मदा जबलपुर की प्रमुख नदी है। जबलपुर जिले में और भी बहुत सारी नदियां बहती है। जबलपुर में गौर नदी, परियट नदी और हिरन नदी बहती है।

जबलपुर जिले में घूमने के लिए बहुत सारी जगह है, जहां पर जाकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। यह सभी जगह बहुत सुंदर है। जबलपुर जिले में ऐतिहासिक, प्राकृतिक और धार्मिक स्थान है, जो बहुत ही सुंदर है।

आप यहां पर फैमिली और दोस्तों के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं। इस ब्लॉग पोस्ट आपको जबलपुर में घूमने के लिए कौन-कौन सी जगह है। उन सभी की जानकारी मिलेगी। अगर आप जबलपुर यात्रा का प्लान बना रहे हैं, तो यह ब्लॉग पोस्ट आपके लिए बहुत उपयोगी है।

इस ब्लॉग पोस्ट में हम आपको जबलपुर के प्रमुख पर्यटन और दर्शनीय स्थलों (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) के बारे में जानकारी देंगे, जो बहुत सुंदर हैं। अगर आप जबलपुर के पर्यटन स्थलों (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) की यात्रा करना चाहते हैं, तो इस ब्लॉग पोस्ट  को पढ़ सकते हैं, जिसमें आपको जबलपुर के पर्यटन स्थलों (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) की जानकारी दी गई है।

 

जबलपुर में घूमने की जगह – Jabalpur me Ghumne ki jagah

जबलपुर के प्रमुख पर्यटन और दर्शनीय स्थलों की सूची – Jabalpur tourist Places list in Hindi

  1. धुआंधार जलप्रपात जबलपुर
  2. मार्बल रॉक या संगमरमर की पहाड़ियां
  3. चौसठ योगिनी मंदिर जबलपुर
  4. भेड़ाघाट जबलपुर
  5. लम्हेटा घाट जबलपुर
  6. घुघरा जलप्रपात जबलपुर
  7. तिलवारा घाट जबलपुर
  8. गौरी घाट जबलपुर
  9. जमतरा ब्रिज जबलपुर
  10. भदभदा जलप्रपात जबलपुर
  11. बरगी बांध जबलपुर
  12. पायली जबलपुर
  13. त्रिपुर सुंदरी मंदिर जबलपुर
  14. बाजना मठ मंदिर जबलपुर
  15. पिसनहारी की मढ़िया जबलपुर
  16. रानी दुर्गावती का किला जबलपुर
  17. बैलेंसिंग रॉक जबलपुर
  18. रानी दुर्गावती संग्रहालय जबलपुर
  19. भंवरताल पार्क जबलपुर
  20. डुमना नेचर पार्क जबलपुर
  21. कचनार सिटी जबलपुर
  22. निदान जलप्रपात जबलपुर
  23. बगदरी जलप्रपात जबलपुर
  24. शारदा मंदिर बरेला जबलपुर
  25. माँ बड़ी खेरमाई मंदिर जबलपुर
  26. श्री दिगंबर जैन मंदिर हनुमानताल
  27. टैगोर गार्डन जबलपुर
  28. देवताल तालाब जबलपुर
  29. शैल पर्ण उद्यान जबलपुर
  30. रामलला मंदिर जबलपुर
  31. श्री नंदिकेश्वर मंदिर बरगी बांध जबलपुर
  32. श्री काली गढ़ स्टेट बरगी बांध जबलपुर
  33. टेमर जलप्रपात जबलपुर
  34. गीता धाम मंदिर ग्वारीघाट जबलपुर
  35. काली धाम मंदिर और घाट ग्वारीघाट जबलपुर
  36. रानी दुर्गावती समाधि जबलपुर
  37. कटाव धाम जबलपुर
  38. नाहन देवी मंदिर जबलपुर
  39. जमतरा ब्रिज जबलपुर

 

जबलपुर में घूमने लायक जगह – Jabalpur me Ghumne ki Jagah

 

धुआंधार जलप्रपात जबलपुर – Dhuandhar Falls Jabalpur

धुआंधार जलप्रपात जबलपुर जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह जलप्रपात नर्मदा नदी पर बना हुआ है। यह जलप्रपात भेड़ाघाट में स्थित है। यह जलप्रपात बहुत सुंदर है। यहां पर पानी 30 मीटर ऊंची चट्टानों से गिरता है। यहां पर संगमरमर की चट्टानें देखने के लिए मिलती है। यह जलप्रपात का पानी, जब नीचे गिरता है। तब यहां पर धुआं उठता है। इस कारण इस जलप्रपात को धुआंधार जलप्रपात कहते हैं।

यहां पर बहुत सारी दुकानें हैं, जहां पर खाने पीने का बहुत सारा सामान मिलता है। धुआंधार जलप्रपात के पास बहुत बड़ा मार्केट भी लगता है, जहां पर मार्बल के बहुत सारे सामान मिलते हैं। यहां पर मार्बल से बना हुआ शिवलिंग मिलता है। यहां पर दूर-दूर से लोग मार्बल का सामान लेने के लिए आते हैं। धुआंधार जबलपुर की सबसे अच्छी जगह में से एक है।

धुआंधार जलप्रपात में व्यूप्वाइंट बना हुआ है, जहां से जलप्रपात का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर रोपवे की सुविधा भी उपलब्ध है, जहां से धुआंधार जलप्रपात का दृश्य ऊपर से देखने के लिए मिलता है, जो बहुत ही सुंदर रहता है।

धुआंधार की दूसरी तरफ रेस्टोरेंट भी है, जहां पर खाना पीना खाया जा सकता है और यहां से धुआंधार का दृश्य देखा जा सकता है। यह जगह बहुत सुंदर है और यहां पर आकर अपना पूरा दिन बताया जा सकता है। यह जबलपुर में घूमने लायक जगह है

 

मार्बल रॉक या संगमरमर की पहाड़ियां – Marble Rock or Marble Hills

मार्बल रॉक धुआंधार जलप्रपात के थोड़ा आगे स्थित सुंदर पहाड़ियां है। यह पूरी पहाड़ियां सफेद संगमरमर की बनी हुई है और बहुत ही सुंदर लगती हैं। यहां पर नर्मदा नदी इन पहाड़ियों के बीच से बहती है और यहां पर वोट राइटिंग करते समय इन पहाड़ियों को देखा जा सकता है।

 

चौसठ योगिनी मंदिर जबलपुर – Chausath Yogini Temple Jabalpur

चौंसठ योगिनी मंदिर जबलपुर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर भेड़ाघाट में स्थित है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर में चौसठ योगिनी देखने के लिए मिलती हैं। चौसठ योगिनी मंदिर में, जो भी मूर्तियां हैं। वह पूरी तरह खंडित हो गई हैं। मगर यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर गोलाकार में बना हुआ है। मंदिर के बीच में शिव भगवान जी का बहुत सुंदर मंदिर बना हुआ है।

इस मंदिर में बहुत सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर तक पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है और मंदिर के चारों तरफ पेड़ पौधे लगे हुए हैं। प्राचीन समय में कहा जाता है, कि यह मंदिर तंत्र विद्या के लिए प्रसिद्ध था और यहां पर तांत्रिक गतिविधियां की जाती थी। यहां पर आकर आप घूम सकते हैं।

 

भेड़ाघाट जबलपुर – Bhedaghat Jabalpur

भेड़ाघाट एक सुंदर घाट है और यह नर्मदा नदी के किनारे पर बना हुआ है। यहां पर नर्मदा नदी में बोटिंग के लिए टिकट लिया जाता है। भेड़ाघाट बहुत सुंदर है और यहां पर नर्मदा नदी का तीव्र प्रवाह देखने के लिए मिलता है। यहां पर संगमरमर की चट्टानें देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारी दुकान है, जहां पर मार्बल से बने हुए सामान लिए जा सकते हैं।

यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है और बहुत अच्छा समय यहां पर बिताया जा सकता है। यहां पर नहाने का मजा भी लिया जा सकता है। भेड़ाघाट के पास में और भी बहुत सारे मंदिर और घाट देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर सरस्वती घाट और पंचमट्ठा मंदिर देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर है।

 

लम्हेटा घाट जबलपुर – Lamheta Ghat Jabalpur

लामेटा घाट जबलपुर का एक प्रमुख पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह घाट नर्मदा नदी के किनारे बना हुआ है। यह घाट भेड़ाघाट जाने वाली सड़क में ही स्थित है। यह घाट बहुत सुंदर है। इस घाट के किनारे बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत ही पुराने हैं। इस घाट में नहाने का मजा लिया जा सकता है और यहां आकर पिकनिक मनाई जा सकती है।

 

घुघरा जलप्रपात जबलपुर – Ghughra Falls Jabalpur

घुघरा जलप्रपात जबलपुर में स्थित एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह जलप्रपात नर्मदा नदी में बना हुआ है। यह जलप्रपात ज्यादा बड़ा जलप्रपात नहीं है। मगर यह बहुत सुंदर है। यहां पर नर्मदा नदी बहुत तीव्र गति से बहती है। यहां पर शाम के समय बहुत अच्छा लगता है, क्योंकि शाम के समय यहां पर सूर्यास्त का दृश्य देखने के लिए मिलता है।

यहां पर आप अपने दोस्त और फैमिली वालों के साथ घूमने के लिए आ सकते हैं। यह जलप्रपात भेड़ाघाट जाने वाली सड़क में ही स्थित है। यह जलप्रपात भेड़ाघाट की मुख्य सड़क से थोड़ा अंदर जाकर स्थित है।

 

तिलवारा घाट जबलपुर – Tilwara Ghat Jabalpur

तिलवारा घाट जबलपुर जिले का एक सुंदर घाट है। यह घाट नर्मदा नदी के किनारे बना हुआ है। इस घाट के किनारे बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं। घाट के पास में ही प्रसिद्ध शनि भगवान जी का मंदिर बना हुआ है। शनि भगवान जी के मंदिर में शनिवार के दिन बहुत भीड़ लगती है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। तिलवारा घाट में आकर, आप नहाने का मजा ले सकते हैं। यहां पर कपड़े बदलने के लिए चेंजिंग रूम भी दिए गए हैं। यह घाट अच्छा है और आप यहां पर आकर अच्छा समय बिता सकते हैं।

तिलवारा घाट के किनारे भी बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं। यहां पर हनुमान जी और शंकर जी का मंदिर बना हुआ है, जो बहुत ही सुंदर है। तिलवारा घाट में अंग्रेजो के द्वारा बनाया गया पुल भी देखने के लिए मिलता है। अब यहां पर नया पुल बना दिया गया है, जिसमें आवागमन होता है। तिलवारा घाट में शाम के समय समय बिताना बहुत ही अच्छा लगता है।

 

गौरी घाट जबलपुर – Gauri Ghat Jabalpur

गौरी घाट जबलपुर जिले का मुख्य पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। गौरी घाट को ग्वारीघाट भी कहते हैं। गौरी घाट मैं बहुत सारे घाट है। यहां पर आकर बहुत अच्छा समय बिताया जा सकता है। गौरी घाट नर्मदा नदी के किनारे बना हुआ है। यहां पर बहुत सारे मंदिर बने हुए हैं।

यहां पर बोटिंग का मजा लिया जा सकता है। यहां पर खाने पीने के लिए बहुत सारी दुकानें हैं, जहां पर कक्कड़ भर्ता, दाल चावल, पुलाव, समोसा, जलेबी, चाय। यह सभी चीजें मिल जाती हैं। ग्वारीघाट पर बहुत सारे आश्रम है, जहां पर भजन होते रहते हैं।

ग्वारीघाट में जब भी आप जाएंगे भक्तिमय माहौल रहता है।  यहां पर भंडारा मिलता रहता है। यहां पर बहुत सारे लोग दीपदान करते हैं। गौरी घाट के दूसरी तरफ गुरुद्वारा देखने के लिए मिलता है। गुरुद्वारा सिख लोगों की एक पवित्र जगह है। गौरी घाट में नाव के द्वारा गुरुद्वारा भी घूमने के लिए जाया जा सकता है। गौरी घाट के बीचो-बीच नर्मदा माता का मंदिर देखने के लिए मिलता है।

गौरी घाट में शाम के समय नर्मदा जी की आरती होती है, जिसमें बहुत सारे भक्त माता की आरती में शामिल होते हैं। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। शाम के समय यहां पर आकर समय बिताना अच्छा लगता है। गौरी घाट जबलपुर में घूमने लायक जगह है।

 

जमतरा ब्रिज जबलपुर – Jamtara Bridge Jabalpur

जमतरा ब्रिज जबलपुर में स्थित एक सुंदर जगह है। यह जगह जबलपुर में नर्मदा नदी में स्थित है। यह एक पुराना रेलवे ब्रिज है, जो नर्मदा नदी के ऊपर बना हुआ है। यहां से नर्मदा नदी का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर नर्मदा नदी पर घाट भी बना हुआ है, जहां पर नहाया जा सकता है।

यहां पर आप अपने दोस्तों और फैमिली वालों के साथ आकर अच्छा समय बिता सकते हैं। जमतरा ब्रिज जबलपुर में जमतरा गांव के पास स्थित है। जमतरा ब्रिज जाने के लिए गौर के पास से जाना पड़ता है।

 

भदभदा जलप्रपात जबलपुर – Bhadbhada Falls Jabalpur

भदभदा जलप्रपात जबलपुर में स्थित एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात जबलपुर में गौर में स्थित है। यह जलप्रपात गौर नदी पर बना हुआ है। यह जलप्रपात ज्यादा बड़ा नहीं है। मगर बहुत सुंदर लगता है। जलप्रपात के आसपास चट्टाने देखने के लिए मिलती हैं, जो बहुत सुंदर लगती है।

यह जलप्रपात बरसात के समय देखने के लिए मिलता है। गर्मी के समय यह  जलप्रपात सूख जाता है। जलप्रपात में आकर अच्छा समय बिताया कर सकता है। यह जलप्रपात सुनसान एरिया में स्थित है। अगर आप यहां पर घूमने के लिए आते हैं, तो अपने दोस्तों के साथ घूमने के लिए आए।

 

बरगी बांध जबलपुर – Bargi Dam Jabalpur

बरगी बांध जबलपुर में स्थित एक बहुत बड़ा जलाशय है। यह जलाशय नर्मदा नदी पर बना हुआ है। बरगी बांध के चारों तरफ पहाड़ियां है, जिन का दृश्य बहुत ही शानदार रहता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा समय बिताया जा सकता है। बरगी बांध के पास में ही एक टूरिस्ट रेस्टोरेंट बना हुआ है, जो एमपी टूरिज्म की तरफ से बना हुआ है, जहां पर बोट राइड का मजा लिया जा सकता है। यहां पर बहुत सारे प्रकार की बोट मिल जाती हैं। जिनका मजा लिया जा सकता है।

बरगी बांध में 21 गेट हैं। बरसात में जब बरगी बांध के गेट खोले जाते हैं। तब इसका नजारा देखने लायक रहता है। बरसात में बरगी बांध को देखने के लिए बहुत भीड़ लगती है। यहां पर लोकल लोग अमरूद, बेरी, और मक्का बेचते हुए मिल जाते हैं। बरगी बांध जबलपुर से लखनादौन जाने वाले रास्ते में पड़ता है। बरगी बांध तक कार और बाइक से पहुंचा जा सकता है।

 

पायली जबलपुर – Payli Jabalpur

पायली बरगी बांध का भराव क्षेत्र है। पायली बरगी बांध से करीब 12 किलोमीटर दूर है और यह जगह बहुत सुंदर है। यह जगह चारों तरफ से जंगल से घिरी हुई है। यहां पर बरगी बांध के भराव क्षेत्र में टापू देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर बहुत सुकून भरा समय बिताया जा सकता है। यहां पर दूर-दूर तक बरगी बांध का भराव क्षेत्र देखने के लिए मिलता है। यहां पर बोट राइड का भी मजा लिया जा सकता है। यहां पर सभी प्रकार की सुविधाएं उपलब्ध है।

पायली में बच्चों के खेलने के लिए चिल्ड्रन पार्क भी बना हुआ है, जहां पर फिसलपट्टी और झूले लगे हुए हैं। यहां पर पार्किंग के लिए भी बहुत बड़ी जगह है। पायली तक जाने के लिए कच्ची सड़क है। यहां पर वाहन प्रवेश के लिए एंट्री चार्ज लिया जाता है। यहां पर कार बाइक और स्कूटी से जाया जा सकता है।

 

त्रिपुर सुंदरी मंदिर जबलपुर – Tripura Sundari Temple Jabalpur

त्रिपुर सुंदरी मंदिर जबलपुर जिले का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर राज राजेश्वरी त्रिपुर सुंदरी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर है। मंदिर के गर्भ गृह में त्रिपुर सुंदरी की मूर्ति देखने के लिए मिलती है। इस मूर्ति के बारे में कहा जाता है, कि यह मूर्ति स्वयंभू है। अर्थात इस मूर्ति का उद्गम धरती से स्वयं हुआ है।

त्रिपुर सुंदरी मंदिर में नवरात्रि के समय बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। लोग लाइन लगाकर मां के दर्शन करने के लिए जाते हैं। यहां पर भंडारा भी मिलता है, जो बहुत स्वादिष्ट रहता है। यहां पर बहुत सारी दुकानें हैं, जहां पर प्रसाद मिलता है और यहां पर बहुत सारे सामान भी मिलते हैं। त्रिपुर सुंदरी मंदिर में और भी देवी देवता की मूर्तियों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर नौ देवियों की मूर्ति विराजमान है। यहां पर प्राचीन मूर्तियां भी देखने के लिए मिलती हैं।

त्रिपुर सुंदरी मंदिर के पास में ही बगलामुखी माता का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। बगलामुखी माता का मंदिर भी बहुत सुंदर है और यह मंदिर त्रिपुर सुंदरी मंदिर की रोड में ही बना हुआ है। यहां पर आकर शांति में समय बिताया जा सकता है। यह मंदिर जबलपुर भोपाल हाईवे रोड में स्थित है।

 

बाजना मठ मंदिर जबलपुर – Bajnamath Temple Jabalpur

बाजना मठ मंदिर जबलपुर जिले में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर जबलपुर में मेडिकल रोड में स्थित है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। यह मंदिर गोंड शासकों के द्वारा स्थापित किया गया था। यह मंदिर तांत्रिक विद्या के लिए प्रसिद्ध था। यहां पर तांत्रिक पूजा की जाती थी। यहां पर काल भैरव जी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। इसके साथ ही यहां पर शनि भगवान जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। मंदिर में काली माता का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है।

बाजना मठ मंदिर के नीचे एक बहुत बड़ी झील है, जिसे संग्राम सागर झील कहा जाता है। यह झील तीनों तरफ से पहाड़ों से घिरी हुई है। यहां पर छोटा सा गार्डन भी बना हुआ है, जहां पर पेड़ पौधे लगे हुए हैं। बरसात के समय झील का नजारा बहुत ही सुंदर रहता है।

झील के किनारे गोंड शासकों के द्वारा बनाया गया एक महल भी देखने के लिए मिलता है। मगर यह महल पूरी तरह से खंडहर में तब्दील हो गया है। बाजना मठ मंदिर में  हर शनिवार के दिन बहुत भीड़ लगती है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

पिसनहारी की मढ़िया जबलपुर – Pisanhari Ki Madhiya Jabalpur

पिसंहारी की मढ़िया जबलपुर जिले का एक मुख्य पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह एक जैन मंदिर है। यह मंदिर मेडिकल रोड में स्थित है। यह मंदिर ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यह मंदिर बहुत ही सुंदर बना हुआ है। मंदिर से जबलपुर का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है।

मंदिर में ऊपर तक जाने के लिए सीढ़ियों वाला मार्ग है। यहां पर प्राचीन जैन मूर्तियों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। इस मंदिर में ठहरने की लिए भी रूम उपलब्ध है। यहां पर बहुत सस्ते रेट में रूम मिल जाते हैं।

 

रानी दुर्गावती का किला जबलपुर – Rani Durgavati Fort Jabalpur

रानी दुर्गावती का किला जबलपुर में स्थित एक ऐतिहासिक पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। रानी दुर्गावती के किले को मदन महल का किला भी कहते हैं। यह किला मदन महल की पहाड़ियों पर बना हुआ है। यह किला प्राचीन है। यह किला एक बड़े से पत्थर पर बना हुआ है। यह किला दो मंजिला है। किला ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। किले तक पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है।

किले में देखने के लिए बहुत सारी जगह है। यहां पर प्राचीन बावड़ी, घोड़ों का अस्तबल और किला देखने के लिए मिलता है। इस किले से चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। रानी दुर्गावती के किले के पास में ही शारदा माता का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर प्राचीन है। इस मंदिर में शारदा माता की बहुत ही सुंदर प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर नौ देवियों के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

इसके साथ ही यहां पर कुछ प्राचीन मूर्तियां भी देखने के लिए मिलती हैं। यहां पर भैरव बाबा जी और शनि भगवान जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यह जगह बहुत ही खूबसूरत है। बरसात में यह जगह चारों तरफ हरियाली से घिरी रहती है। यहां पर आकर अच्छा लगता है।

 

बैलेंसिंग रॉक जबलपुर – Balancing Rock Jabalpur

बैलेंसिंग रॉक जबलपुर में स्थित एक अद्भुत जगह है। यहां पर एक बहुत बड़ी चट्टान, दूसरी चट्टान के ऊपर इस तरह से रखी हुई है। इसे देखकर आश्चर्य होता है। यह चट्टान एक छोटे से झटके में ही गिर सकती है। मगर सालों से यह चट्टान इसी तरह से रखी हुई है। इस करिश्मे को देखने के लिए बहुत दूर दूर से लोग आते हैं। बैलेंसिंग रॉक जबलपुर में मदन महल के किले के पास में स्थित है।

 

रानी दुर्गावती संग्रहालय जबलपुर – Rani Durgavati Museum Jabalpur

रानी दुर्गावती संग्रहालय जबलपुर में स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। रानी दुर्गावती संग्रहालय में बहुत सारी प्राचीन वस्तुओं का संग्रह देखने के लिए मिलता है। यहां पर प्राचीन मूर्तियां, लिपियां, पेंटिंग, सिक्के देखने के लिए मिलते हैं। रानी दुर्गावती संग्रहालय जबलपुर में बस स्टैंड तीन पत्ती के पास में स्थित है।

रानी दुर्गावती संग्रहालय में इनडोर और आउटडोर बहुत सारी मूर्तियों का संग्रह रखा गया है। यहां पर सुंदर बगीचा बनाया गया है, जहां पर मूर्तियां देखने के लिए मिलती हैं। रानी दुर्गावती संग्रहालय में प्रवेश के लिए शुल्क लगता है। यहां पर फोटोग्राफ के लिए अलग से शुल्क लिया जाता है। अगर आप इतिहास में रुचि रखते हैं, तो आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

भंवरताल पार्क जबलपुर – Bhanwartal Park Jabalpur

भंवरताल पार्क जबलपुर जिले में स्थित एक मुख्य पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। भंवरताल पार्क सुंदर बगीचा है। भंवरताल पार्क में बहुत सारे फूलों वाले पौधे देखने के लिए मिलते हैं, जो बहुत ही सुंदर लगते हैं। यहां पर बहुत सुंदर फव्वारा भी देखने के लिए मिलता है। यह फव्वारा शाम को चालू होता है।

शाम के समय यहां पर बहुत सारे लोग घूमने के लिए आते हैं। यहां पर स्केटिंग के लिए भी एक ग्राउंड बनाया गया है, जहां पर बच्चे लोग आकर स्केटिंग कर सकते हैं। भंवरताल पार्क में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। भंवरताल पार्क के सामने चर्च बना है, जहां पर घूमने के लिए जाया जा सकता है। भंवरताल पार्क जबलपुर में बस स्टैंड तीन पत्ती चौराहे के पास में स्थित है।

 

डुमना नेचर पार्क जबलपुर – Dumna Nature Park Jabalpur

डुमना नेचर पार्क जबलपुर में स्थित एक सुंदर स्थान (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह एक प्राकृतिक स्थल है। यहां पर जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर हिरण, मोर, सूअर और बंदर देखने के लिए मिल जाते हैं। डुमना नेचर पार्क में खंदारी जलाशय देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर है।

इस जलाशय में मगरमच्छ है। यह जलाशय बरसात में, पूरी तरह से भर जाता है और ओवरफ्लो होकर बहता है, जिससे यहां पर सुंदर झरना देखने के लिए मिलता है। डुमना नेचर पार्क में कैफे बना हुआ है, जहां पर खाने पीने का बहुत सारा सामान मिलता है। डुमना नेचर पार्क में प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है। यहां पर पार्किंग के लिए भी बहुत बड़ी जगह है। डुमना नेचर पार्क जबलपुर में, डुमना एयरपोर्ट जाने वाली सड़क में स्थित है।

 

कचनार सिटी जबलपुर – Kachnar City Jabalpur

कचनार सिटी जबलपुर में स्थित एक धार्मिक जगह है। यहां पर आपको शिव भगवान जी के बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा बहुत ऊंची है। यह प्रतिमा खुले आसमान के नीचे बनी हुई है। यहां पर सुंदर बगीचा बना हुआ है।

प्रतिमा के अंदर गुफा बनी हुई है, जिसमें 12 ज्योतिर्लिंग विराजमान है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। कचनार सिटी मंदिर जबलपुर में विजय नगर में स्थित है। यहां पर महाशिवरात्रि और सावन सोमवार में विशाल मेला लगता है, जिसमें बहुत सारे लोग अलग-अलग दुकाने लगाते हैं।

 

निदान जलप्रपात जबलपुर – Nidan Falls Jabalpur

निदान जलप्रपात जबलपुर में स्थित एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह एक बहुत ही सुंदर झरना है। यह झरना ऊंची पहाड़ियां से गिरता है। यह झरना घने जंगल के अंदर स्थित है। यह झरना जबलपुर दमोह रोड में कटंगी में स्थित है। इस झरने तक पहुंचने के लिए ट्रैकिंग करके जाना पड़ता है। यहां पर प्राकृतिक माहौल देखने के लिए मिलता है। झरने का पानी एक कुंड में गिरता है। यहां पर आकर बहुत अच्छा लगता है। यहां पर दोस्तों और फैमिली वालों के साथ पिकनिक मनाने के लिए आया जा सकता है।

 

बगदरी जलप्रपात जबलपुर – Bagdari Falls Jabalpur

बगदरी जलप्रपात जबलपुर में स्थित एक सुंदर जलप्रपात है। यह जलप्रपात बरसात के समय देखने के लिए मिलता है। यह जलप्रपात जबलपुर में पाटन के आगे स्थित है। यह जलप्रपात बहुत सुंदर है। यहां पर पहाड़ियों के बीच से जलप्रपात गिरता है। जो बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर खूबसूरत घाटी का दृश्य भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर आप दोस्तों और परिवार वालों के साथ घूमने के लिए जा सकते हैं।

 

शारदा मंदिर बरेला जबलपुर – Sharda Mandir Barela Jabalpur

बरेला का शारदा मंदिर जबलपुर जिले का एक मुख्य धार्मिक स्थल है। यह मंदिर जबलपुर में मंडला रोड में बरेला में स्थित है। यह मंदिर ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। यह मंदिर प्राचीन है। नवरात्रि में इस मंदिर में बहुत भीड़ लगती है। बहुत सारे लोग माता के दर्शन करने के लिए आते हैं और यहां पर बहुत सारी दुकानें लगती हैं, जहां पर तरह-तरह का सामान लिया जा सकता है।

यहां पर शिव भगवान जी, गणेश जी, काली जी और भी बहुत सारे देवी देवताओं की मूर्ति विराजमान है। पहाड़ी के ऊपर से चारों तरफ का सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर भी घूमने के लिए जा सकते हैं।

 

बड़ी खेर माई मंदिर जबलपुर – Badi Khermai Temple Jabalpur

बड़ी खेर माई मंदिर जबलपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर जबलपुर का सबसे पुराना मंदिर है। यह मंदिर जबलपुर मुख्य शहर में स्थित है। इस मंदिर में आप आसानी से घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर बहुत ही अच्छी तरह से बना हुआ है। यह मंदिर मां दुर्गा जी को समर्पित है।

मां दुर्गा जी यहां पर बड़ी खेरमाई के रूप में विराजमान है। बड़ी खेरमाई की यहां पर बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यहां पर बहुत सारे देवी देवताओं के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर हनुमान जी, बंजारी माता, काल भैरव जी, शनि भगवान जी के दर्शन किए जा सकते हैं।

बड़ी खेर माई मंदिर बहुत ही अच्छी तरह से बना हुआ है। इस मंदिर में सुंदर नक्काशी की गई है, जो बहुत ही आकर्षक लगती है। मंदिर के अंदर एक बड़ा सा झूमर देखा जा सकता है। मंदिर में नवरात्रि के समय बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे भक्त यहां पर माता के दर्शन करने के लिए आते हैं।

 

श्री दिगंबर जैन मंदिर जबलपुर – Shri Digambar Jain Temple Jabalpur

श्री दिगंबर जैन मंदिर जबलपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर जबलपुर जिले में हनुमान ताल में स्थित है। हनुमान ताल मुख्य शहर में स्थित है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। श्री दिगंबर जैन मंदिर जबलपुर का सबसे पुराना मंदिर है। यह मंदिर बहुत ही अच्छी तरह से बना हुआ है।

इस मंदिर के मुख्य गर्भगृह में जैन तीर्थंकर भगवान आदिनाथ की बहुत सुंदर प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा बहुत ही आकर्षक है। इस प्रतिमा में सुंदर नक्काशी की गई है। इसमें आपको हाथियों की और देवी देवताओं की नक्काशी देखने के लिए मिलती है।

यह प्रतिमा प्राचीन है। इस प्रतिमा के दर्शन करके बहुत ही अच्छा लगता है। इस मंदिर में और भी बहुत सारे जैन तीर्थंकरों की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर का आर्किटेक्चर बहुत सुंदर है। आप जबलपुर आते हैं, तो इस मंदिर में भी घूमने के लिए आ सकते हैं और अपना अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं।

मंदिर के सामने आपको हनुमान ताल देखने के लिए मिलेगा, जो बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है और बहुत सुंदर है। शाम के समय मंदिर बहुत सुंदर लगता है। शाम के समय मंदिर में जब लाइट जलती है, तब मंदिर बहुत ही आकर्षक लगता है। मंदिर में रंग-बिरंगी लाइट जलाई जाती है। मंदिर का प्रतिबिंब तालाब में देखने के लिए मिलता है। यह जबलपुर में घूमने लायक प्रमुख जगहों में से एक है।

 

टैगोर गार्डन जबलपुर – Tagore Garden Jabalpur

टैगोर गार्डन जबलपुर जिले का एक मुख्य आकर्षण स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। टैगोर गार्डन जबलपुर में सदर में बना हुआ है। यह एक सुंदर गार्डन है। यह गार्डन मुख्य शहर में बना हुआ है। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं। यहां पर पार्किंग के लिए बहुत बड़ा स्पेस दिया गया है।

टैगोर गार्डन बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। इस गार्डन में ढेर सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं। गार्डन के बीच में एक बड़ा सा फव्वारा बना हुआ है, जो शाम के समय चालू होता है।  गार्डन में आप घूमने लिए आ सकते हैं। गार्डन में ढेर सारे झूले लगे हुए हैं, जो बच्चों को बहुत पसंद है। गार्डन मेंबैठने के लिए बहुत सारी जगह है, जहां पर जाकर आप शांति से बैठ सकते हैं। टैगोर गार्डन जबलपुर के सदर में घूमने लायक मुख्य जगह में से एक है।

 

देवताल तालाब जबलपुर – Devtal Pond Jabalpur

देवताल तालाब जबलपुर का एक ऐतिहासिक पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। देवताल तालाब जबलपुर की एक प्राकृतिक जगह है। यह तालाब चारों तरफ से पहाड़ियों और पेड़ पौधों से घिरा हुआ है। देवताल तालाब जबलपुर में मेडिकल रोड में बना हुआ है। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं।

देवताल तालाब के किनारे ढेर सारे मंदिर बने हुए हैं, जो प्राचीन हैं। यहां पर शिव मंदिर, मां दुर्गा मंदिर, मां काली मंदिर, शनि देव जी का मंदिर देखने के लिए मिल जाता है। देवताल तालाब में ढेर सारी मछलियां है। यहां पर आप मछलियों को दाना डाल सकते हैं। यहां पर आकर आप बहुत अच्छा समय बिता सकते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है और शांति का अनुभव होता है।

 

शैल पर्ण उद्यान जबलपुर – Shail Parna Udyan Jabalpur

शैल पर्ण उद्यान जबलपुर का एक सुंदर गार्डन है। शैल पर्ण उद्यान पहाड़ियों और पेड़ पौधों से घिरा हुआ है। इस गार्डन के बीच में एक बहुत बड़ी झील बनी हुई है। यह झील चारों तरफ से पहाड़ियों से घिरी हुई है। झील के चारों ओर घूमने के लिए एक सुंदर रास्ता बना हुआ है और बैठने के लिए शेड लगाया है, जहां पर जाकर आप बैठ सकते हैं और झील का सुंदर दृश्य देख सकते हैं। यह झील बरसात के समय पानी से पूरी तरह भर जाती है और इसमें कमल के बहुत सारे फूल देखने के लिए मिलते हैं।

शैल पर्ण गार्डन जबलपुर में मेडिकल रोड में बना हुआ है। यह देवताल तालाब के थोड़ा आगे स्थित है। यहां पर आने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है। यहां पर आप बाइक और कर से आराम से पहुंच सकते हैं। यहां पर पार्किंग के लिए भी बहुत बड़ी जगह है। यहां ओशो आश्रम देखने के लिए मिलता है, जहां पर भी आप जाकर घूम सकते हैं और शांति का एहसास कर सकते हैं।

 

रामलला मंदिर जबलपुर – Ramlala Temple Jabalpur

रामलला मंदिर जबलपुर का प्रसिद्ध मंदिर है। रामलला मंदिर जबलपुर में गौरीघाट में स्थित है। यह मंदिर मुख्य सड़क में स्थित है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। यह मंदिर श्री हनुमान जी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत अच्छी तरह से बनाया गया है।

इस मंदिर के मुख्य गर्भगृह में हनुमान जी की बहुत आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। इस मंदिर को अर्जी वाले हनुमान मंदिर के नाम से भी जाना जाता है, क्योंकि यहां पर भगवान हनुमान जी के सामने अर्जी लगाई जाती है और भगवान हनुमान जी लोगों की मनोकामनाओं को पूरा करते हैं।

यहां पर आपको श्री राम जी, लक्ष्मण जी और माता सीता जी के भी दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यह जबलपुर में घूमने लायक प्रमुख जगहों में से एक है। यहां पर हर शनिवार को बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे लोग यहां पर जाकर भगवान हुनमान जी के दर्शन करते हैं। यहां पर शनि भगवान जी की मूर्ति भी विराजमान है।

 

श्री नंदीकेश्वर मंदिर जबलपुर – Shri Nandikeshwar Temple Jabalpur

श्री नंदीकेश्वर मंदिर जबलपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। श्री नंदीकेश्वर मंदिर जबलपुर में बरगी बांध एरिया में बना हुआ है। इस मंदिर में जाने के लिए सड़क मार्ग बना हुआ है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। इस मंदिर में पहुंचकर आपको बरगी बांध का बहुत सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है।

यह मंदिर पर की बांध से करीब 2 से 3 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप बाइक और कार से आराम से जा सकते हैं। मंदिर में पहुंचकर आपको भगवान शिव के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह पूरा मंदिर मार्बल से बना हुआ है। मंदिर के पास एक व्यू प्वाइंट है, जहां से आप बरगी बांध और आसपास का नजारा देख सकते हैं। आप यहां पर बरसात के समय घूमने के लिए जा सकते हैं। बरसात के समय यह जगह बहुत ही आकर्षक लगती है। यह जबलपुर में बरसात के समय घूमने लायक मुख्य जगह है।

 

श्री कालीगढ़ स्टेट मंदिर जबलपुर – Shri Kaligarh State Temple Jabalpur

श्री कालीगढ़ स्टेट मंदिर जबलपुर जिले के पास घूमने का एक मुख्य आकर्षण स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह जबलपुर के पास एक सुंदर मंदिर है। यह जबलपुर में बरगी बांध क्षेत्र में बना हुआ है। यहां पर काली माता की बहुत बड़ी प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह प्रतिमा बहुत आकर्षक लगती है।

इस प्रतिमा के नीचे मंदिर बना हुआ है। इस मंदिर में मां दुर्गा के नौ रूपों के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यहां पर आप घूमने लिए आ सकते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यहां पर आपको शिव शंकर जी के दर्शन करने के लिए मिलते है।

 

टेमर जलप्रपात जबलपुर – Tamar Falls Jabalpur

टेमर जलप्रपात जबलपुर के पास घूमने का एक मुख्य स्थान (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह जबलपुर के पास बरगी बांध क्षेत्र में बना हुआ है। यह जलप्रपात चारों तरफ से जंगल और पहाड़ियों से घिरा हुआ है। यहां पर आने के लिए सड़क मार्ग बना हुआ है। जलप्रपात तक पहुंचाने के लिए करीब 1 किलोमीटर का रास्ता पूरा कच्चा है और यहां पर आप अपनी बाइक और कार से आ सकते हैं।

टेमर जलप्रपात में आप बरसात के समय घूमने के लिए आ सकते हैं। यह जबलपुर में बरसात के समय घूमने के लिए एक परफेक्ट जगह है। यहां पर आकर आप इंजॉय कर सकते हैं। यहां पर बरसात के समय सुंदर झरना बहता है। यहां आस-पास का दृश्य देखने लायक रहता है। यहां पर आकर आप पिकनिक मना सकते हैं। यह जबलपुर का एक पिकनिक स्पॉट है।

 

गीता धाम मंदिर जबलपुर – Geeta Dham Temple Jabalpur

गीता धाम मंदिर जबलपुर का एक प्रसिद्ध मंदिर है। गीता धाम मंदिर जबलपुर में गौरीघाट में बना हुआ है। यह मंदिर श्री कृष्ण जी को समर्पित है। यह मंदिर बहुत सुंदर है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। यह मंदिर गौरी घाट से करीब 2 से 3 किलोमीटर दूर होगा। यहां पर आकर अच्छा लगता है। इस मंदिर में जन्माष्टमी के समय बहुत भीड़ लगती है। बहुत सारे लोग यहां पर आते हैं।

यह भी पढ़े :- ओरछा के प्रमुख 18 दर्शनीय स्थल

काली धाम मंदिर और घाट जबलपुर – Kali Dham Temple and Ghat Jabalpur

काली धाम मंदिर और घाट जबलपुर का एक सुंदर दर्शनीय स्थान (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। काली धाम मंदिर और घाट जबलपुर में नर्मदा नदी के किनारे स्थित है। यह गौरीघाट से करीब तीन से चार किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर सड़क मार्ग से आ सकते हैं।

काली धाम मंदिर काली माता को समर्पित एक सुंदर मंदिर है। इस मंदिर में काली जी की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। काली मंदिर से थोड़ी ही दूरी पर आपको कालीघाट देखने के लिए मिलता है। यहां नर्मदा नदी के किनारे सुंदर घाट बना हुआ है। यहां पर आकर आप नर्मदा नदी में स्नान कर सकते हैं और अपना अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। यहां पर आकर अच्छा लगता है।

यह भी पढ़े :- मंदसौर जिले के प्रमुख पर्यटन स्थल

रानी दुर्गावती समाधि स्थल जबलपुर – Rani Durgavati Samadhi Sthal Jabalpur

रानी दुर्गावती समाधि स्थल जबलपुर जिले का एक प्रमुख ऐतिहासिक स्थान (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। यह जबलपुर जिले में बरगी बांध जाने वाली सड़क पर स्थित है। यहां पर मुख्य सड़क पर रानी दुर्गावती का समाधि स्थल देखने के लिए मिलता है।

यहां पर रानी दुर्गावती की एक प्रतिमा देखी जा सकती है, जो बहुत सुंदर है। यहां पर हाथी की प्रतिमा भी देखी जा सकती है। इस समाधि स्थल को चारों तरफ से बाउंड्री से कर दिया गया है। यहां पर आकर आप घूम सकते हैं। यहां पर बरसात के समय अच्छा लगता है।

रानी दुर्गावती समाधि स्थल के ठीक सामने जंगल का दृश्य देखने के लिए मिलता है और एक छोटी सी झील बनी हुई है। बरसात के समय यह झील पानी से भर जाती है और यहां पर पानी बहता है, जो बहुत आकर्षक लगता है। यहां पर जनवरी के महीने में विशाल मेले का आयोजन किया जाता है, जिसमें से दूर-दूर से लोग घूमने के लिए आते हैं।

यह भी पढ़े :- पचमढ़ी के 22 प्रमुख दर्शनीय स्थल

कटाव धाम जबलपुर – Katav Dham Jabalpur

कटाव धाम जबलपुर के पास घूमने का एक प्रमुख पर्यटन स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। कटाव धाम जबलपुर से करीब 50 किमी दूर होगा। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं। यहां पर पहुंचने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है। कटाव धाम जबलपुर के पास प्राकृतिक स्थान में से एक है। यह जगह प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण है।

यहां पर आपको पहाड़ी, घाटी और नदी का  सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। यहां पर आपको मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। यहां पर पहाड़ी के ऊपर हनुमान जी का मंदिर बना हुआ है, जो प्राचीन है और बहुत ही आकर्षक है।

यहां पर आपको पहाड़ी की चोटी में एक संत का मंदिर देखने के लिए मिलता है। आप इस मंदिर में घूमने के लिए जा सकते हैं। यहां पर नदी के किनारे श्री राम जी का मंदिर बना हुआ है। यहां पर आकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। आप यहां पर बरसात के समय जाएंगे, तो आपके यहां पर ज्यादा मजा आएगा।

यह भी पढ़े :- नरसिंहगढ़ के प्रमुख आकर्षण दर्शनीय स्थल

नाहन देवी मंदिर जबलपुर – Nahan Devi Temple Jabalpur

नाहन देवी मंदिर जबलपुर में घूमने का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थान है। नाहन देवी मंदिर जबलपुर में जबलपुर दमोह हाईवे रोड में स्थित है। यह मंदिर जबलपुर से करीब 40 किलोमीटर दूर होगा। यह मंदिर हिरन नदी के किनारे बना हुआ है। यहां पर आप आकर इस जगह में घूम सकते हैं।

नाहन देवी मंदिर बहुत सुंदर है और प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण है। यहां पर हिरन नदी बहती है। हिरन नदी के बीच में एक बड़ी सी चट्टान है, जिसे नाहन देवी के रूप में पूजा जाता है। यहां परचट्टान के नीचे मंदिर बना हुआ है, जहां पर आप दर्शन कर सकते हैं और प्रसाद चढ़ा सकते हैं।

यहां पर हिरन नदी बहुत ज्यादा गहरी है। यहां पर आपको हिरन नदी पर ढेर सारी मछलियां देखने के लिए मिलती है। यहां पर नवरात्रि के समय बहुत ज्यादा भीड़ लगती है। बहुत सारे लोग यहां पर घूमने के लिए आते हैं। यहां पर मेले का आयोजन होता है। यहां पर मकर संक्रांति में भी मेला लगता है।

 

जमतरा ब्रिज जबलपुर – Jamtara Bridge Jabalpur

जमतरा ब्रिज जबलपुर का एक मुख्य आकर्षण स्थल (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) है। जमतरा ब्रिज जबलपुर में गौर के पास में स्थित है। यह जमतरा गांव के पास में बना हुआ है। यहां पर आप घूमने के लिए आ सकते हैं। यहां पर एक पुराना रेलवे ब्रिज है, जो बहुत सुंदर है। यहां से नर्मदा नदी का दृश्य देखने लायक रहता है।

यहां पर एक सुंदर घाट बना हुआ है, जहां पर जाकर आप स्नान कर सकते हैं। यहां पर चारों तरफ प्रकृतिक दृश्य देखा जा सकता है। यहां पर शाम के समय आकर आप सूर्यास्त का सुन्दर दृश्य देख सकते हैं। ये जगह बहुत ही आकर्षक लगती है।

यह भी पढ़े :- चित्रकूट में घूमने की 18 जगह

जबलपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Jabalpur

जबलपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। आप जबलपुर में ठंड के समय आ सकते हैं और जबलपुर के सारे पर्यटन स्थलों (Jabalpur me Ghumne ki Jagah) की सैर कर सकते हैं। ठंड के समय मौसम बहुत ही बढ़िया रहता है। इसलिए जबलपुर घूमने में किसी भी प्रकार की कोई दिक्कत नहीं होती है।

जबलपुर में आप बरसात के समय भी घूमने के लिए आ सकते हैं। जबलपुर के आसपास ढेर सारे जलप्रपात हैं, जहां पर आप बरसात के समय घूमने के लिए जा सकते हैं। जबलपुर के पास बहुत सारे प्राकृतिक स्थल भी है, जो बरसात के समय बहुत ही आकर्षक लगते हैं। बाकी आप अपनी इच्छानुसार जबलपुर में कभी भी जा सकते हैं।

यह भी पढ़े :- सतना जिले के दर्शनीय स्थल

जबलपुर कैसे पहुंचे – How to reach Jabalpur

जबलपुर मध्य प्रदेश का प्रमुख जिला है। जबलपुर अन्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। जबलपुर में पहुंचने के लिए रेल मार्ग, वायु मार्ग और सड़क मार्ग की सुविधा उपलब्ध है। चलिए जानते हैं – जबलपुर कैसे पहुंचे

 

वायु मार्ग से जबलपुर कैसे पहुंचे – How to reach Jabalpur by air

वायु मार्ग से जबलपुर पहुंचने के लिए जबलपुर में हवाई अड्डा बना हुआ है। हवाई अड्डा मुख्य शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यहां पर सभी प्रमुख शहरों से डायरेक्ट फ्लाइट आती है। जबलपुर में आप वायु मार्ग से आसानी से आ सकते हैं। डुमना एयरपोर्ट मुख्य जबलपुर से करीब 25 किलोमीटर दूर है। आप आराम से यहां पर आ सकते हैं।

 

जबलपुर में रेल मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे – How to reach Jabalpur by rail

जबलपुर में रेल मार्ग द्वारा पहुंचना आसान है। जबलपुर मुख्य शहर में रेलवे स्टेशन बना हुआ है। जबलपुर में दो रेलवे स्टेशन बने हुए हैं। जबलपुर में मदन महल और जबलपुर सेंट्रल रेलवे स्टेशन बना हुआ है। जबलपुर प्रमुख शहरों से रेल मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है।

यहां पर प्रमुख शहरों से डायरेक्ट रेल सेवा उपलब्ध है। आप आराम से जबलपुर आ सकते हैं। जबलपुर रेलवे स्टेशन में सभी प्रकार की सुविधा उपलब्ध है। जबलपुर स्टेशन के बाहर आपको होटल की सुविधा भी मिल जाती है।

 

जबलपुर में सड़क मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे – How to reach Jabalpur by road

जबलपुर में सड़क मार्ग द्वारा पहुंचना आसान है। जबलपुर में सड़क मार्ग द्वारा पहुंचने के लिए हाईवे रोड गुजरती है, जिसके द्वारा यहां पर आराम से पहुंचा जा सकता है। यहां पर आप बस के द्वारा या अपने वाहन से पहुंच सकते हैं।

यहां पर लगातार बसें चलती रहती है। यहां पर मुख्य शहरों जैसे भोपाल, सागर, इंदौर, कटनी, बालाघाट, बिलासपुर जैसे शहरों से डायरेक्ट बस सेवा उपलब्ध है। आप आराम से बस के द्वारा यहां पर आ सकते हैं। जबलपुर में विजयनगर के पास में बस स्टॉप बना हुआ है।

यह भी पढ़े :- खजुराहो के प्रमुख दर्शनीय स्थल

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है। अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment