गोलामठ मंदिर उदयपुर मैहर सतना – Holy Golamath Temple Udaipur Maihar Satna

गोलामठ मंदिर मैहर (Golamath Temple Maihar) का एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है। इस मंदिर में खजुराहो के समान ही सुंदर कलाकृतियां देखने के लिए मिलती हैं। मंदिर की बाहरी दीवारों में खजुराहो मंदिर के समान कलाकृतियां देखने के लिए मिलती है। अगर आप मैहर जाते हैं, तो आपको इस मंदिर में जरूर जाना चाहिए। यह मंदिर प्राचीन है।

गोलामठ मंदिर मैहर की जानकारी – Information about Golamath Temple Maihar

गोलामठ मंदिर मैहर नगर (Golamath Temple Maihar Nagar) का एक प्रमुख पर्यटन स्थल है। यह मंदिर से भगवान शिव जी को समर्पित है। इस मंदिर के अंदर गर्भ गृह में आपको शिवलिंग देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। इस मंदिर में आपको सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है।

गोलामठ मंदिर (Golamath Temple) पूरा पत्थर से बना हुआ है और इसमें जो नक्काशी की गई है। वह भी पत्थर पर की गई है। यह मंदिर बहुत सुंदर लगता है। यह मंदिर ज्यादा बड़ा नहीं है। मगर आप यहां पर आकर मंदिर की सुंदरता को देख सकते हैं। इस मंदिर में शिवलिंग विराजमान है। मंदिर में आपको गर्भ ग्रह और मंडप देखने के लिए मिलता है।

गोलामठ मंदिर (Golamath Temple) आप कभी भी आ सकते हैं। आप जब भी मैहर  घूमने के लिए आते हैं। तब आप इस मंदिर में आ सकते हैं। यह मंदिर मैहर शहर के बीचो बीच में स्थित है। इस मंदिर में आप आने के लिए ऑटो का प्रयोग कर सकते हैं। मंदिर के बाहर आपको प्रसाद की दुकान देखने के लिए मिल जाती है।

आप प्रसाद लेना चाहे, तो ले सकते हैं। आप गेट से अंदर प्रवेश करते हैं, तो आपको सुंदर मंदिर देखने के लिए मिलता है। यह मंदिर एक ऊंचे चबूतरे पर बना हुआ है। मंदिर बहुत सुंदर लगता है। गोलामठ मंदिर (Golamath Temple) में जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। आप  सीढ़ियों से ऊपर चढ़ते हैं, तो आपको मंडप देखने के लिए मिलता है।

मंडप में नंदी भगवान के पत्थर की प्रतिमा विराजमान है, जो बहुत सुंदर लगती है। आप मंडप से मुख्य मंदिर में प्रवेश करते हैं। इसका गर्भ ग्रह भी बहुत सुंदर है। गर्भ ग्रह का जो प्रवेश द्वार है। उसमें भी बहुत सुंदर आपको कलाकारी देखने के लिए मिलती है।  प्रवेश द्वार में बहुत सारे देवी देवताओं की मूर्तियां बनाई गई है, जो बहुत सुंदर लगती हैं।

यह भी पढ़े :- मैहर के 15 प्रमुख दर्शनीय स्थल

यहां पर लोगों का मानना है कि यह मंदिर एक रात में ही बनाया गया था और यह मंदिर भूतों के द्वारा बनाया गया है। अब इसमें कितनी सच्चाई है। इसका तो नहीं पता मगर। यह मंदिर बहुत सुंदर है। यह मंदिर देखने में खजुराहो के मंदिर के समान लगता है। इस मंदिर के ऊपरी सिरे में आपको अम्लक, कलश एवं नारियल देखने के लिए मिलता है, जो सुंदर लगता है।

गोलामठ मंदिर (Golamath Temple) कलचुरी कालीन है। मंदिर की छत में आपको कमल की आकृति देखने के लिए मिल जाती हैए जो पत्थर में उकेर कर बनाई गई है। इस मंदिर में आपको एक और मंदिर देखने के लिए मिलता है, जो सुंदर है। यह मंदिर विष्णु भगवान जी को समर्पित है। यह मंदिर भी नया बना हुआ है और गोल मठ मंदिर परिसर में ही स्थित है। मंदिर परिसर में आपको काली जी की भी भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। आप इस जगह में आकर मंदिर के दर्शन कर सकते हैं।

यह भी पढ़े :- पांडव गुफा पचमढ़ी मध्य प्रदेश

गोलमठ मंदिर में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Golmath Temple

गोलमठ मंदिर (Golamath Temple) में घूमने का सबसे अच्छा समय दिन में 12:00 बजे के पहले हैं, क्योंकि गोलमठ मंदिर 12:00 के बाद बंद हो जाता है। वैसे तो यह मंदिर दिनभर खुला रहता है। मगर यहां पर 12:00 तक पंडित जी रहते हैं, जो आपको इस मंदिर के बारे में बता सकते हैं। 12:00 बजे के बाद मैहर के सभी मंदिर बंद हो जाते हैं। इसलिए आप यहां पर 12:00 के पहले जाएं तो बेहतर होगा।

यह भी पढ़े :- माई की बगिया अमरकंटक

गोला मठ मंदिर कहां स्थित है – Where is Golamath temple

गोला मठ मंदिर सतना जिले (Golamath Temple Satna District) के मैहर नगर में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर मैहर जिले के बीचो बीच स्थित है। गोला मठ मंदिर मैहर में उदयपुर में स्थित है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं। आप यहां पर ऑटो से घूम सकते हैं। यहां पर घूमने के लिए और भी जगह आपको मिल जाती है। आप सभी जगह में ऑटो से जा सकते हैं।

यह भी पढ़े :- मुहास हनुमान मंदिर कटनी

यह लेख अगर आपको अच्छा लगा हो, तो आप इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment