छतरपुर के दर्शनीय स्थल – 23 Top Chhatarpur Tourist Places in hindi

Chhatarpur Tourist Places in hindi :- छतरपुर मध्य प्रदेश का एक मुख्य जिला है। इस लेख में हम आपको छतरपुर में घूमने की जगह (Chhatarpur me ghumne ki jagah), छतरपुर कैसे पहुंचे, और छतरपुर के धार्मिक स्थलों के बारे में जानकारी देंगे।

Table of Contents

छतरपुर जिले के बारे में जानकारी – Information about Chhatarpur district

छतरपुर मध्य प्रदेश का एक प्रमुख शहर है। छतरपुर शहर अपने प्रसिद्ध धार्मिक स्थलों के लिए प्रसिद्ध है। छतरपुर का बागेश्वर धाम पूरे देश में प्रसिद्ध है। पूरे देश से श्रद्धालु यहां पर आते हैं। छतरपुरमें धार्मिक स्थान के अलावा ऐतिहासिक स्थान भी है।

छतरपुर का खजुराहो पूरे विश्व में प्रसिद्ध है। पूरे विश्व से लोग खजुराहो के मंदिर देखने के लिए आते हैं। खजुराहो में बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलती है। इन मंदिरों की मूर्ति कला बहुत सुंदर है। छतरपुर में ढेर सारे प्राकृतिक स्थल भी हैं, जो बहुत सुंदर है। छतरपुर में बहुत सारी नदियां बहती हैं। छतरपुर में केन और खुदार नदी का संगम देखा जा सकता है।

छतरपुरमें घूमने लिए बहुत सारी जगह है जिसके बारे में हमने आपको इस ब्लॉग में बताया गया बताया है। छतरपुर के यह सभी स्थल बहुत सुंदर है और आप यहां पर जाकर एंजॉय कर सकते हैं।

छतरपुर में घूमने की जगह – Chhatarpur Tourist Places

छतरपुर पर्यटन स्थल और दर्शनीय स्थल की सूची – Chhatarpur Tourist Places list in Hindi

  1. खजुराहो छतरपुर
  2. रनेह जलप्रपात छतरपुर
  3. कुटनी बांध छतरपुर
  4. बेनीसागर बांध छतरपुर
  5. केन घड़ियाल अभयारण्य छतरपुर
  6. पन्ना नेशनल पार्क
  7. पांडव झरना एवं गुफा छतरपुर
  8. रंगुवान बांध छतरपुर
  9. राजगढ़ का किला छतरपुर
  10. फूला देवी मंदिर छतरपुर
  11. बगराजन मंदिर छतरपुर
  12. काली माता का मंदिर छतरपुर
  13. झनझन देवी छतरपुर
  14. हनुमान टोरिया छतरपुर
  15. भीमकुंड छतरपुर
  16. गुलगंज किला छतरपुर
  17. बिजवार का किला छतरपुर
  18. बिजवार झील छतरपुर
  19. जटाशंकर मंदिर छतरपुर
  20. बागेश्वर धाम छतरपुर
  21. महाराजा छत्रसाल संग्रहालय छतरपुर
  22. रानी कमलापति की समाधि छतरपुर
  23. कृष्णा प्रणामी मंदिर

 

खजुराहो छतरपुर – Khajuraho Chhatarpur

खजुराहो छतरपुर का एक मुख्य पर्यटन आकर्षण (Chhatarpur Tourist Places) है। यहां पर आपको बहुत सारे मंदिर देखने के लिए मिलते हैं। खजुराहो एक विश्व धरोहर स्थल है और यहां पर करीब 22 मंदिर है, जो प्राचीन है। इन सभी मंदिरों की मूर्तिकला बहुत ही अद्भुत है। इन मंदिर समूह को 3 वर्गों में बांटा गया है। पश्चिमी मंदिर समूह, पूर्वी मंदिर समूह और दक्षिणी मंदिर समूह। आप इन मंदिर समूह में घूमने के लिए आ सकते हैं।

खजुराहो मंदिर की मूर्तिकला बहुत सुंदर है। इन मंदिरों में बहुत ही सुंदर नक्काशी देखने के लिए मिलती है। इन मंदिरों की दीवारों और छत में बहुत बारीक नक्काशी की गई है, जो बहुत सुंदर है। इन मंदिरों में कामुक मूर्तियां बनाई गई है, जो इस मंदिर को विशेष बनता है।

यहां पर लगभग सभी मंदिरों में कामुक मूर्तियां बनी हुई है। इन मंदिरों की मूर्तिकला बेहद सुंदर है। आप इन सभी मंदिरों का दौरा कर सकते हैं। खजुराहो में आप आसानी से पहुंच सकते हैं। यहां पर पहुंचने के लिए वायु मार्ग, रेल मार्ग और सड़क मार्ग की सुविधा उपलब्ध है। खजुराहो में एयरपोर्ट बना हुआ है, जहां पर आप देश के विभिन्न हिस्सों से आ सकते हैं।

यहां पर आने के लिए रेलवे स्टेशन भी बना हुआ है। खजुराहो रेलवे स्टेशन से मुख्य खजुराहो 5 किलोमीटर दूर है। छतरपुर से खजुराहो 30 किलोमीटर दूर है। खजुराहो सड़क मार्ग द्वारा अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यहां पर आसानी से पहुंचा जा सकता है।

खजुराहो में घूमने के लिए बहुत सारे स्थल है। यहां पर प्राचीन मंदिर बने हुए हैं। यहां पर ढेर सारे संग्रहालय हैं। यहां पर तालाब देखने के लिए मिलते हैं। खजुराहो में घूमने में आपको एक दिन का समय लग जाएगा। खजुराहो में खाने-पीने के लिए बहुत सारे स्थल हैं, जहां पर जाकर आप अपने मनपसंद का खाना खा सकते हैं। यह छतरपुर का मुख्य टूरिस्ट प्लेस (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

रनेह जलप्रपात छतरपुर – Raneh Falls Chhatarpur

रनेह जलप्रपात छतरपुर जिले में खजुराहो के पास घूमने का एक मुख्य स्थान है। यह जलप्रपात खजुराहो से करीब 25 किलोमीटर दूर है। यह जलप्रपात केन नदी पर बना हुआ है। केन नदी मध्य प्रदेश की प्रमुख नदि है। यह जलप्रपात बहुत ही आकर्षक लगता है। यह जलप्रपात चट्टानों के ऊपर से बहता है। यहां पर आपको कुछ अलग प्रकार की चट्टानें देखने के लिए मिलती हैं।

यह जलप्रपात 5 किलोमीटर तक फैला है। यहां पर कई छोटे-छोटे जलप्रपात देखने के लिए मिलते हैं। जलप्रपात की खूबसूरती देखते ही बनती है। यह जलप्रपात की ऊंचाई 98 फिट है। यहां पर आपको रंग-बिरंगी ग्रेनाइट की चट्टानें देखने के लिए मिलती है, जिनके ऊपर से यह जलप्रपात बहता है।

रनेह जलप्रपात केन घड़ियाल अभ्यारण के अंदर बना हुआ है। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं। यहां पर आप अपने बाइक और कार से आ सकते हैं। जलप्रपात में प्रवेश करने के लिए शुल्क लिया जाता है। अगर आप रनेह जलप्रपात में घूमना चाहते हैं, तो आप यहां पर बरसात और ठंड के समय आ सकते हैं।

बरसात और ठंड का समय इस जलप्रपात में घूमने का सबसे अच्छा समय है और इस समय इस जलप्रपात में पानी की मात्रा बहुत ज्यादा रहती है। यहां पर आप अच्छा समय बिता सकते हैं। यह छतरपुर का मुख्य टूरिस्ट प्लेस (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

कुटनी बांध छतरपुर – Kutni Dam Chhatarpur

कुटनी बांध छतरपुर जिले में खजुराहो के पास घूमने की एक मुख्य जगह है। यह बांध  खजुराहो से करीब 16 किलोमीटर दूर है। यह बांध कुटनी नदी पर बना हुआ है। यह बांध बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यह बांध बहुत सुंदर है। इस बांध में एमपी टूरिज्म की तरफ से रिजॉर्ट बनाया गया है, जहां पर जाकर आप अच्छा समय बिता सकते हैं।

यहां पर बोटिंग की सुविधा भी उपलब्ध है। यहां पर आकर आप बोटिंग का आनंद ले सकते हैं। यहां पर आपको सूर्यास्त एवं सूर्योदय का बहुत ही सुंदर नजारा देखने के लिए मिलता है। बरसात में इस बांध का नजारा देखने लायक रहता है। यह छतरपुर का मुख्य टूरिस्ट प्लेस (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

बेनीसागर बांध छतरपुर – Benisagar Dam Chhatarpur

बेनीसागर बांध छतरपुर का एक सुंदर स्थान है। यह छतरपुर का एक खूबसूरत जलाशय है। यह जलाशय खजुराहो जाने वाले मार्ग पर पड़ता है। यह मुख्य मार्ग से करीब 2 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं। यहां पर आप बाइक और कार से आ सकते हैं। बेनी सागर बांध बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यह बांध बहुत सुंदर है।

यह बांध खुदार नदी पर बना हुआ है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। बरसात के समय यह बांध पानी से भर जाता है और आसपास का एरिया हरियाली से घिर जाता है। आप यहां पर आकर अच्छा समय बिता सकते हैं। यह छतरपुर का मुख्य टूरिस्ट प्लेस (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

केन घड़ियाल अभयारण्य छतरपुर – Ken Gharial Sanctuary Chhatarpur

केन घड़ियाल अभयारण्य छतरपुर का एक मुख्य पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। केन घड़ियाल अभ्यारण छतरपुर में खजुराहो के पास में स्थित है। यह खजुराहो से करीब 25 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप बाइक और कार से आ सकते हैं। यहां पर आने के लिए अच्छी सड़क व्यवस्था है। केन घड़ियाल अभ्यारण मुख्य रूप से घड़ियाल और मगरमच्छ के संरक्षण के लिए बनाया गया है। यहां पर केन नदी है, जहां पर आप ढेर सारे मगरमच्छ और घड़ियाल देख सकते हैं।

इस अभ्यारण में आपको ढेर सारे जंगली जानवर भी देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर मोर, चीतल, चिंकारा, नील गाय, लोमड़ी जैसे जंगली जानवर देखने के लिए मिल जाते हैं। यहां पर आकर आप अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। यह जगह प्राकृतिक सुंदरता से परिपूर्ण है। आप यहां पर फैमिली और दोस्तों के साथ आ सकते हैं। यहां पर प्रवेश के लिए शुल्क लिया जाता है।

 

पन्ना नेशनल पार्क – Panna National Park

पन्ना नेशनल पार्क छतरपुर का एक मुख्य पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। पन्ना नेशनल पार्क पूरे देश में प्रसिद्ध है। यहां पर पूरे देश से लोग घूमने लिए आते हैं। पन्ना नेशनल पार्क का मुख्य आकर्षण बाघ है। यहां पर बाघ आपको आसानी से देखने के लिए मिल जाता है। पन्ना नेशनल पार्क में आपको बहुत सारे जंगली जानवर देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर आपको बहुत सारी वनस्पति देखने के लिए मिलती है।

पन्ना नेशनल पार्क बहुत बड़े एरिया में फैला हुआ है। यह पार्क पन्ना, छतरपुर, दमोह के एरिया में फैला हुआ है। पन्ना नेशनल पार्क के बीच से केन नदी बहती है, जो इस पार्क को दो भागों में विभाजित करती है। केन नदी में आप बोटिंग का आनंद ले सकते हैं। यहां पर पार्क के अंदर बोटिंग की सुविधा उपलब्ध है।

पन्ना नेशनल पार्क में आप सफारी का आनंद उठा सकते हैं। यहां पर सफारी की बुकिंग आप ऑनलाइन भी कर सकते हैं। यहां पर आपको सफारी के साथ गाइड  मिलता है, जो आपको पूरी जानकारी देता है। नेशनल पार्क में आप आराम से घूम सकते हैं और जंगली जानवरों को देख सकते हैं। पन्ना नेशनल पार्क छतरपुर से करीब 50 किलोमीटर दूर है।

 

पांडव झरना एवं गुफा छतरपुर  – Pandav Waterfall and Cave Chhatarpur

पांडव झरना एवं गुफा छतरपुर के पास घूमने का एक मुख्य आकर्षण स्थल है। यह छतरपुर के पास एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यह झरना पन्ना बाघ अभ्यारण के अंदर बना हुआ है। यहां पर आप आसानी से जा सकते हैं।  यह झरना छतरपुर पन्ना मार्ग पर स्थित है। यह झरना मुख्य हाईवे सड़क से थोड़ा अंदर है। आप यहां पर अपने बाइक और कार से जा सकते हैं। झरने में प्रवेश करने के लिए यहां शुल्क लिया जाता है। यहां पर फोर व्हीलर के अलग और टू व्हीलर के लिए अलग चार्ज लिया जाता है

पांडव झरने तक पहुंचाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यहां पर डेढ़ सौ या 200 सीढ़ियां बनी हुई है, जिसके बाद आप झरने तक पहुंच सकते हैं। यह झरना बहुत सुंदर है और बहुत ऊंचाई से गिरता है। यह चट्टानों के ऊपर से गिरता है। झरने के नीचे एक कुंड देखने के लिए मिलती है, जिसमें ढेर सारी मछलियां देखी जा सकती है।

झरने के पास में ही प्राचीन गुफाएं हैं। इसके बारे में कहा जाता है कि प्राचीन समय में यहां पर पांडव रहा करते थे। यहां पर शिवलिंग विराजमान है यहबहुत सुंदर है। आप यहां पर आकर अच्छा समय बिता सकते हैं। आप यहां पर साल भर में कभी भी घूमने के लिए जा सकते हैं। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

रंगुवान बांध छतरपुर – Ranguwan Dam Chhatarpur

रंगुवान बांध छतरपुर का एक मुख्य दर्शनीय स्थान (Chhatarpur Tourist Places) है। यह बांध छतरपुर में रंगवान गांव में बना हुआ है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। यह बांध छतरपुर पन्ना हाईवे सड़क से थोड़ा अंदर स्थित है। आप 7 किमी अंदर आएंगे, तो आपको यह बांध देखने के लिए मिलता है। इस बांध में आकर बहुत अच्छा लगता है।

यह बांध काफी बड़े क्षेत्र में फैला हुआ है। यह डैम मध्य प्रदेश गवर्नमेंट के द्वारा पानी पूर्ति के लिए बनाया गया है। यहां पर आकर आप अपना कुछ समय बिता सकते हैं। बरसात में यह बांध बहुत ही सुंदर लगता है। यहां पर ज्यादा लोग नहीं आते हैं, इसलिए आप यहां पर शांति से अपना समय बिता सकते हैं।

 

राजगढ़ का किला छतरपुर – Rajgarh Fort Chhatarpur

राजगढ़ का किला छतरपुर के पास एक ऐतिहासिक स्थान है। यह किला छतरपुर में राजगढ़ गांव में बना हुआ है। राजगढ़ गांव छतरपुर पन्ना हाईवे मार्ग से थोड़ा अंदर स्थित है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। मगर यह किला पर्यटन के लिए नहीं है। आप इस किले को बाहर से देख सकते हैं।

इस किले के पास ही में एक पहाड़ी के ऊपर एक मंदिर बना हुआ है, जहां पर आप घूमने के लिए जा सकते हैं। यह मंदिर भगवान शिव को समर्पित है। यहां पर आकर अच्छा लगता है। यह किला छतरपुर के मुख्य किलो में से एक है। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

फूला देवी मंदिर छतरपुर – Phula Devi Temple Chhatarpur

फूला मंदिर छतरपुर का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर फूला देवी मां को समर्पित है। इस मंदिर में आपको शेषनाग के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। यह मंदिर प्राचीन मंदिर है। नवरात्रि में यहां बहुत भीड़ लगती है। आप यहां घूमने के लिए आ सकते हैं। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

बगराजन मंदिर छतरपुर – Bagarajan Temple Chhatarpur

बगराजन मंदिर छतरपुर का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर बगराजन माता को समर्पित है। यह मंदिर प्राचीन है। यह मंदिर भी बहुत सुंदर है और आपको यहां पर आकर अच्छा लगेगा। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

काली माता का मंदिर छतरपुर – Kali Mata Temple Chhatarpur

काली माता का मंदिर छतरपुर में स्थित धार्मिक स्थल है। यह मंदिर बहुत प्राचीन है। यह मंदिर पूरे छतरपुर में प्रसिद्ध है। यह मंदिर छतरपुर से महोबा रोड जाने वाली सड़क में स्थित है। यहां  मुख्य सड़क से आपको थोड़ा अंदर जाना पड़ता है।

इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि यहां मांगी गई हर मुराद पूरी होती है और काली जी यहां पर अपना रूप बदलती हैं। आप भी इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

झनझन देवी छतरपुर – Jhanjhan Devi Chhatarpur

झनझन देवी छतरपुर में स्थित एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर भी बहुत प्रसिद्ध है। इस मंदिर के बारे में कहा जाता है कि माता की प्रतिमा स्वयंभू है और यह माता छतरपुर की सीमा की देवी हैं। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है।

यह मंदिर छतरपुर से महोबा जाने वाली सड़क में पड़ता है। आपको मुख्य सड़क से करीब 2 किलोमीटर अंदर जाना पड़ता है। इस मंदिर से आसपास के दृश्य को आप देख सकते हैं, जो बहुत सुंदर रहता है। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

हनुमान टोरिया छतरपुर – Hanuman Toriya Chhatarpur

हनुमान टोरिया छतरपुर में स्थित एक धार्मिक पर्यटन स्थल है। यह मंदिर हनुमान जी को समर्पित है। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर तक जाने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। यह मंदिर छतरपुर से मऊ सहानिया जाने वाली सड़क पर स्थित है।

हनुमान टोरिया मंदिर के पास ही आपको साईं बाबा का मंदिर, राम जी का मंदिर और शंकर जी का मंदिर भी देखने के लिए मिलता है। हनुमान टोरिया मंदिर से आपको छतरपुर शहर का मनोरम दृश्य देखने के लिए मिलता है। आप यहां पर घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

भीमकुंड छतरपुर – Bhimkund Chhatarpur

भीमकुंड छतरपुर में स्थित एक प्राकृतिक पर्यटन स्थल है। यह  धार्मिक स्थल भी है। यहां पर आपको एक कुंड देखने के लिए मिलता है। यह कुंड बहुत ही चमत्कारी कुंड है। इस कुंड का पानी पारदर्शी है। आप यहां पर आकर मंदिर भी घूम सकते हैं।

यहां पर बहुत सारे मंदिर है। यहां पर पहाड़ी के ऊपर भीमा देवी मंदिर बना हुआ है और श्री कृष्ण जी का मंदिर भी यहां पर आपको देखने के लिए मिलेगा। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

गुलगंज किला छतरपुर – Gulganj Fort Chhatarpur

गुलगंज किला छतरपुर में स्थित एक ऐतिहासिक पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। यहां पर आपको एक किला देखने के लिए मिलता है। यह किला प्राचीन है। यह किला एक ऊंची पहाड़ी पर स्थित है। इस किले में आप आकर घूम सकते हैं।

 

बिजवार का किला छतरपुर – Bijwar Fort Chhatarpur

बिजवार का किला छतरपुर में स्थित ऐतिहासिक पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। यह किला प्राचीन है। यह किला बहुत सुंदर है। यह किला  छतरपुर के बिजवार तहसील में स्थित है। इस किले में आप घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

बिजवार झील छतरपुर – Bijwar Lake Chhatarpur

बिजवार झील छतरपुर का एक पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। यह झील  छतरपुर के बिजवार तहसील में स्थित है। यह झील बहुत बड़े क्षेत्र में फैली हुई है और बहुत खूबसूरत लगती है। झील के बीच में आपको मंदिर भी देखने के लिए मिल जाता है। आप इस झील में घूमने के लिए आ सकते हैं।

 

जटाशंकर मंदिर छतरपुर – Jatashankar Temple Chhatarpur

जटाशंकर मंदिर छतरपुर जिले का एक धार्मिक स्थल है। यह मंदिर एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर छतरपुर के बिजवार तहसील में स्थित है। यह मंदिर शिव भगवान जी को समर्पित है।  मंदिर में आपको शिव भगवान जी की भव्य प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। यह मंदिर बहुत फेमस है। शिवरात्रि के समय इस मंदिर में बहुत बड़ा मेला भी लगता है। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

बागेश्वर धाम छतरपुर – Bageshwar Dham Chhatarpur

बागेश्वर धाम छतरपुर का एक प्रसिद्ध धार्मिक स्थान है। बागेश्वर धाम पूरी दुनिया में प्रसिद्ध है। बागेश्वर धाम में चमत्कार होते हैं। बागेश्वर धाम में स्वयंभू हनुमान जी के दर्शन करने के लिए मिलते हैं। बागेश्वर धाम में हनुमान जी का बहुत सुंदर मंदिर बना हुआ है। इस मंदिर के मुख्य गर्भगृह में हनुमान जी की बहुत ही आकर्षक प्रतिमा के दर्शन करने के लिए मिलते हैं।

यह जगह बहुत पवित्र है। यहां पर दूर-दूर से लोग आते हैं। यहां पर लोग आकर हनुमान जी से अर्जी लगाते हैं और हनुमान जी सभी की समस्याओं का निवारण करते हैं। यहां पर धीरेंद्र कृष्ण शास्त्री की मुख्य पंडित है, जो इस जगह लोगों की अर्जी का जवाब देते हैं।

बागेश्वर धाम में टोकन मिलता है, जिसके लिए आपको बागेश्वर धाम कमेटी से संपर्क करना होता है। उसके बाद तिथि निर्धारित करनी होती है और तिथि से पहले बागेश्वर जाना पड़ता है। बागेश्वर धाम में लोगों की समस्याएं हल होती है। इसलिए यहां पर लोगों की भीड़ जमा रहती है। आप भी यहां पर जाकर बागेश्वर धाम के दर्शन कर सकते हैं। बागेश्वर धाम छतरपुर जिले में गढा ग्राम में स्थित है। आप यहां पर आराम से पहुंच सकते हैं। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

महाराजा छत्रसाल संग्रहालय छतरपुर – Maharaja Chhatrasal Museum Chhatarpur

महाराजा छत्रसाल संग्रहालय छतरपुर में स्थित एक प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है। महाराज छत्रसाल संग्रहालय मध्य प्रदेश के छतरपुर जिले में छतरपुर झांसी राजमार्ग में स्थित है। महाराजा छत्रसाल संग्रहालय छतरपुर के मऊ सहानिया में स्थित है। यह धुबेला झील के पास में बना हुआ है। यहां पर आप आसानी से आ सकते है।

महाराज छत्रसाल के महल को संग्रहालय में परिवर्तित कर दिया गया है। इस संग्रहालय की स्थापना 1955 में की गई थी। वर्तमान में इस संग्रहालय में 8 गैलरी है, जिनमें से दो गैलरी में शिलालेख देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर पत्थर की मूर्तियां, धातु की मूर्तियों के लिए अलग-अलग गैलरी है। यहां पर एक हथियार की भी गैलरी है। यहां पर एक छोटा सा मिरर मेज देखने के लिए मिलता है।

 

रानी कमलापति की समाधि छतरपुर – Samadhi of Queen Kamlapati Chhatarpur

रानी कमलापति की समाधि छतरपुर का एक मुख्य ऐतिहासिक स्थल है। यह समाधि स्थल छतरपुर में मउ सहानियां में स्थित है। आप यहां पर आसानी से जा सकते हैं। यहां पर पहुंचने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है। यह समाधि धुबेला झील के पास में बनी हुई है। यह झील बहुत सुंदर है। यह समाधि बहुत ही अच्छी तरह से बनाई गई है और इसकी देखभाल की जा रही है।

यहां पर आप घूमने के लिए जा सकते हैं। समाधि के ऊपर छतरी देखने के लिए मिलती है। समाधि के अंदर कमलापति की समाधि विराजमान है। आप यहां पर आकर अच्छा समय व्यतीत कर सकते हैं। यह समाधि बुंदेली वास्तुकला में बनाई गई है। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

 

कृष्णा प्रणामी मंदिर – Krishna Pranami Temple

श्री कृष्ण प्रणामी मंदिर छतरपुर का एक धार्मिक और ऐतिहासिक स्थान हैं। यह छतरपुर में मऊ सहानियाँ में स्थित है। आप यहां पर आसानी से पहुंच सकते हैं। इस मंदिर में आने के लिए सड़क मार्ग उपलब्ध है। महाराज छत्रसाल के आध्यात्मिक गुरु स्वामी प्राणनाथ ने सर्वप्रथम यहां एक सभा ली थी।

इस मंदिर का निर्माण 1729 में महाराज छत्रसाल द्वारा किया गया था। यह मंदिर बहुत सुंदर है और यहां पर आकर अच्छा लगता है। यह छतरपुर का प्रमुख पर्यटन स्थल (Chhatarpur Tourist Places) है।

मऊ सहानिया में और भी बहुत सारे स्थल है जहां पर आप घूम सकते हैं।

मऊ सहानिया के अन्य प्रसिद्ध स्थल – Famous places of Mau Sahaniya

  • गौरैया माता मंदिर
  • भीमकुंड मंदिर समूह
  • महाराजा छत्रसाल की समाधि
  • महाराजा छत्रसाल शौर्य पीठ
  • शनि धाम मंदिर
  • जगत सागर तालाब
  • बिहारी जूदेव मंदिर
  • कांच भवन यज्ञशाला
  • सूर्य नारायण मंदिर
  • शीतल गढ़ी
  • आकाश महल
  • महेवा गेट

यह भी पढ़े :- चंदेरी के 14 दर्शनीय स्थल

छतरपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit Chhatarpur

छतरपुर में घूमने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। आप यहां पर ठंड में आकर सभी जगह की सैर कर सकते हैं। ठंड का मौसम बहुत ही बढ़िया रहता है और घूमने में कोई भी दिक्कत नहीं रहती है। छतरपुर में बहुत सारे प्राचीन स्थल है, जिन तक पहुंचने के लिए ट्रैकिंग करनी पड़ती है। आप ठंड में आते हैं, तो आप आराम से ट्रैकिंग कर सकते हैं। आप यहां पर अक्टूबर से मार्च महीने के बीच में आकर घूम सकते हैं।

यह भी पढ़े :- छिंदवाड़ा जिले के 18 प्रमुख स्थल

छतरपुर कैसे पहुंचे – How to reach Chhatarpur

छतरपुर मध्य प्रदेश का प्रसिद्ध जिला है। छतरपुर में बहुत सारे ऐतिहासिक स्थल हैं, जो विश्व प्रसिद्ध हैं। छतरपुर में पहुंचने के लिए वायु मार्ग। रेल मार्ग और सड़क मार्ग की सुविधा उपलब्ध है। आप छतरपुर में आसानी से पहुंच सकते हैं। चलिए जानते हैं – छतरपुर में कैसे पहुंचे

 

छतरपुर में हवाई मार्ग से कैसे पहुंचे – How to reach Chhatarpur by air

छतरपुर में हवाई मार्ग से पहुंचना आसान है। छतरपुर का सबसे नजदीकी हवाई अड्डा खजुराहो में बना हुआ है, जो छतरपुर से करीब 45 मिनट की दूरी पर स्थित है। यहां पर मुख्य शहरों जैसे वाराणसी दिल्ली आगरा जैसे शहरों से फ्लाइट आती है। आप यहां पर वायु मार्ग से आ सकते हैं और उसके बाद छतरपुर या खजुराहो सड़क मार्ग से जा सकते हैं।

 

छतरपुर में रेल मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे – How to reach Chhatarpur by train

छतरपुर में रेल मार्ग द्वारा पहुंचना आसान है। मुख्य छतरपुर शहर में रेलवे स्टेशन बना हुआ है, जिससे आप छतरपुर में आ सकते हैं। यह रेलवे स्टेशन मध्य प्रदेश के प्रमुख शहरों से अच्छी तरह से जुड़ा हुआ है। यहां पर मुख्य शहरों जैसे ग्वालियर, दिल्ली, आगरा, मथुरा, मुंबई, बेंगलुरु, हैदराबाद जैसे शहरों से ट्रेन से आने की सुविधा उपलब्ध है। आप यहां पर आसानी से आ सकते हैं। छतरपुर में भी रेलवे स्टेशन बना हुआ है। आप अगर खजुराहो जाना चाहते हैं, तो आप सीधे खजुराहो के लिए ट्रेन ले सकते हैं।

 

छतरपुर में सड़क मार्ग द्वारा कैसे पहुंचे – How to reach Chhatarpur by road

छतरपुर में सड़क मार्ग द्वारा पहुंचना आसान है। छतरपुर में हाईवे रोड गुजरता है, जिसके द्वारा छतरपुर आसानी से पहुंचा जा सकता है। छतरपुर मुख्य शहरों से अच्छी तरह जुड़ा है। इन शहरों से आने के लिए आपको बस की सुविधा मिल जाती है। आप छतरपुर में बस के द्वारा आराम से आ सकते हैं। छतरपुर में आने के लिए सरकारी और प्राइवेट बस की सुविधा उपलब्ध है।

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है। अगर आपको अच्छा लगा हो, तो आप इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment