चौसठ योगिनी मंदिर जबलपुर – Attractive Chausath Yogini Mandir Jabalpur

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) मध्य प्रदेश का एक प्रमुख आकर्षक स्थल है। 64 योगिनी मंदिर मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में स्थित है। 64 योगिनी मंदिर भारत के बहुत सारे राज्यों में बने हुए हैं। मध्यप्रदेश में आपको जबलपुर जिले, मुरैना जिले और खजुराहो में 64 योगिनी का मंदिर देखने के लिए मिलता है। अगर आप जबलपुर आते हैं, तो आप इस मंदिर में जरूर घूमने के लिए आये।

जबलपुर का चौसठ योगिनी मंदिर की जानकारी – Information about Chausath Yogini Mandir Jabalpur

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) एक बहुत ही रहस्यमय मंदिर माना जाता है। इन मंदिरों के बारे में माना जाता है, कि प्राचीन समय में इन मंदिर में तांत्रिक क्रिया की जाती थी। यहां पर तांत्रिक लोग तरह-तरह की क्रियाएं करते थे और यह 64 योगिनी, उनकी इच्छाओं को पूरा करती थी।

आप अगर इन मंदिरों में जाएंगे, तो आपको इन मंदिरों में 64 योगिनी की अलग-अलग मूर्तियां और उनके अलग-अलग नाम देखने के लिए मिलते हैं। प्राचीन समय में जब तंत्रिका यहां पर तंत्र क्रिया करते थे। तब तांत्रिक इन देवियों का आवाहन करते थे और अपनी इच्छाओं को पूरा करते थे। इन योगिनी का आवाहन करने से, आप जो भी इच्छा मांगी जाती है। वह पूरा हो जाती है।

वर्तमान समय में आप इन मंदिर में जाकर घूम सकते हैं और वर्तमान समय में 64 योगिनी का सबसे सुंदर मंदिर जबलपुर जिले में स्थित है। 64 योगिनी के मंदिर में आपको 64 योगिनियों की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है। योगिनियों का अर्थ होता है देवी। यहां पर आपको 64 देवियां की मूर्ति देखने के लिए मिलती हैं। यह मूर्तियां देखने में बहुत ही आकर्षक है।

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) जबलपुर के सबसे सुंदर और दर्शनीय स्थलों में से एक है। 64 योगिनी मंदिर जबलपुर में भेड़ाघाट में बना हुआ है। भेड़ाघाट जबलपुर जिले से करीब 30 किलोमीटर दूर है। यहां पर आप आसानी से आ सकते हैं और इन मंदिरों में घूम सकते हैं।

64 योगिनी मंदिर भेड़ाघाट क्षेत्र के बीच-बीच बना हुआ है। यहां पर आप अपनी बाइक और कार से आ सकते हैं। यह मंदिर एक ऊंची पहाड़ी पर बना हुआ है। मंदिर में पहुंचने के लिए सीढ़ियां बनी हुई है। आप मंदिर के बाहर बाउंड्री के पास अपनी गाड़ी और कार को खड़ा कर सकते हैं।

64 योगिनी मंदिर के पास आपको प्रसाद की दुकान देखने के लिए मिलती है, जहां से आप प्रसाद वगैरा ले सकते हैं। मंदिर में आप सीढ़ियां को चढ़ कर जा सकते हैं। मंदिर में करीब 100 सीढ़ियां होगी। आप आराम से सीढ़ियां चढ़ सकते हैं। यह सीढ़ियां पत्थर की बनी हुई है।

सीढ़ियां के दोनों तरफ आपको पहाड़ी में ढेर सारे पेड़ पौधे देखने के लिए मिलते हैं। यहां पर बेल के बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं। यहां पर और भी बहुत सारे पेड़ पौधे लगे हुए हैं। मंदिर में आप पहुंचेंगे, तो आपको एक आंगन देखने के लिए मिलेगा, जहां पर बैठने की व्यवस्था है। यहां पर पानी की व्यवस्था भी है। मंदिर का डिजाइन बहुत ही सुन्दर है।

जबलपुर के 64 योगिनी का मंदिर का डिजाइन बहुत ही यूनिक है। यह मंदिर गोलाकार अपने बना हुआ है और देखने में बहुत ही आकर्षक लगता है। 64 योगिनी मंदिर पूरी तरह पत्थर से बना हुआ है। मंदिर में एक प्रवेश द्वार बना हुआ है, जहां से आप मंदिर में प्रवेश कर सकते हैं।

मंदिर के बाहर एक छोटा सा गुफा टाइप की बनी हुई है, जिसे अब बंद कर दिया गया है। मंदिर के अंदर आप जाएंगे, तो मंदिर के बीच में एक सुंदर मंदिर बना हुआ है, जो शिव भगवान जी को समर्पित है और मंदिर की दीवारों में आपको 64 योगिनियों की प्रतिमा देखने के लिए मिलती है।

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) में आपको 64 योगिनी की मूर्तियां देखने के लिए मिलती हैं। यह सभी मूर्तियां पत्थर की बनी हुई है। यह सभी मूर्तियां खंडित अवस्था में यहां पर विराजमान है। चौसठ योगिनी मंदिर गोलाकार आकार में बना हुआ है, जो बहुत सुंदर लगता है। इस मंदिर के बीच में एक सुंदर और पत्थर से बना हुआ मंदिर है। इस मंदिर में सुंदर नक्काशी की गई है, जो देखने लायक है।

यह मंदिर शिव जी को समर्पित है। मंदिर के बाहर एक बहुत बड़ा शिवलिंग विराजमान है और मंदिर के अंदर शिव भगवान जी की मूर्ति देखने के लिए मिल जाती है। मंदिर के मुख्य गर्भगृह में शिव भगवान जी की बहुत ही अनोखी मूर्ति है। यह मूर्ति विश्व में एकमात्र है, क्योंकि इस मूर्ति में भगवान शिव दूल्हे का वेश धारण किए हुए हैं और उनके साथ माता पार्वती हैं।

माता पार्वती और शिव भगवान नंदी जी के ऊपर विराजमान है। यह मूर्ति बहुत ही खूबसूरत है। यहां पर और भी बहुत सारी मूर्तियां हैं, जिनके दर्शन आप कर सकते हैं।  यह मंदिर बहुत खूबसूरत बना हुआ है। मंदिर की दीवारों में खूबसूरत कारीगरी की गई है।

शिव मूर्ति के पास में आपको गणेश जी और काली जी की मूर्ति भी देखने के लिए मिलती है। यह सभी प्रतिमाएं पत्थर की बनी हुई है और बहुत सुंदर है। आप इन सभी मूर्तियों के दर्शन कर सकते हैं। आप शिव भगवान जी के मंदिर के बाहर आएंगे, तो आपको एक बड़ा सा घंटा देखने के लिए मिलता है।

आप 64 योगिनी मंदिर में जाकर सभी देवियों के दर्शन कर सकते हैं। यहां पर 64 योगिनियों की प्रतिमा खंडित अवस्था में है। मगर यह प्रतिमा देखने में बहुत ही आकर्षक लगते हैं।

64 योगिनी मंदिर के दर्शन करने के बाद, आप मंदिर से बाहर आएंगे तो आपको सूर्यास्त का बहुत ही सुंदर दृश्य देखने के लिए मिलता है। अगर आप यहां पर शाम को जाते हैं, तो आप सूर्यास्त के दृश्य को देख सकते हैं। आप कुछ समय यहां पर बैठ सकते हैं और दूर-दूर तक का सुंदर दृश्य देख सकते हैं।

यहां पर आपको भेड़ाघाट और नर्मदा नदी का दृश्य भी देखने के लिए मिलता है, जो बहुत सुंदर लगता है। यहां पर आप मंदिर के चारों तरफ चक्कर लगा सकते हैं। मंदिर के चारों तरफ पहाड़ी है और पौधे लगे हुए हैं। यहां पर पक्षियों की आवाज सुनने के लिए मिलती है।

यह भी पढ़े :- घुघरा झरना जबलपुर मध्य प्रदेश

चौसठ योगिनी मंदिर में घूमने का सबसे अच्छा समय – Best time to visit in Chausath Yogini Mandir 

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) में घूमने का सबसे अच्छा समय ठंड का रहता है। आप यहां पर ठंड में जाकर आराम से घूम सकते हैं। आप यहां पर ठंड में आकर अपना कुछ अच्छा समय बिता सकते हैं। आप यहां पर गर्मी के समय भी आ सकते हैं। मगर गर्मी के समय यहां पर बहुत ज्यादा गर्म रहती है।

यहां की फर्श बहुत ज्यादा गर्म रहती है। फर्श में आप यहां पर चल नहीं सकते हैं। यहां की फर्श पूरी तरह पत्थर की बनी रहती है और गर्मी के समय पत्थर पूरी तरह से गर्म हो जाते हैं। आप यहां पर शाम के समय आ सकते हैं। शाम के समय यहां पर अच्छा लगता है। शाम को यहां पर सूर्यास्त का दृश्य देखने के लिए मिलता है।

यह भी पढ़े :- प्रसिद्ध राधा कृष्ण मंदिर कटनी

चौसठ योगिनी मंदिर के रहस्य या तथ्य –  Secrets or facts of Chausath Yogini Mandir 

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) को एक रहस्यमई मंदिर भी कहा जाता है। क्योंकि इस मंदिर में तंत्र साधना की जाती है। पुराने समय में चौसठ योगिनी मंदिर में तंत्र साधना की जाती थी। मगर अभी यहां पर तंत्र साधना नहीं की जाती है। यह मंदिर तंत्र साधना के लिए प्रसिद्ध था और अमावस्या और पूर्णिमा के दिन यहां पर तंत्र साधना की जाती है।

यह भी पढ़े :- सिद्धन धाम सिहोरा जबलपुर

चौसठ योगिनी मंदिर कहा है – Where is the Chausath Yogini Mandir 

चौसठ योगिनी मंदिर (chausath yogini mandir) मध्य प्रदेश के जबलपुर जिले में स्थित एक प्रसिद्ध मंदिर है। यह मंदिर जबलपुर जिले में भेड़ाघाट क्षेत्र में स्थित है। आप इस मंदिर में गाड़ी से या ऑटो से पहुंच सकते हैं। आप जब भी भेड़ाघाट आते हैं, तो आप इस मंदिर में घूमने के लिए आ सकते हैं। यह मंदिर भेड़ाघाट से करीब 1 किलोमीटर दूर होगा और धुआंधार से करीब 2 किलोमीटर दूर होगा। आप यहां पर  मेट्रो बस से भी पहुंच सकते हैं।

यह भी पढ़े :- जबलपुर जिले के 39 दर्शनीय स्थल

यह लेख आपकी जानकारी के लिए लिखा गया है, अगर आपको अच्छा लगे, तो इसे शेयर जरूर करें।

Leave a Comment